'आई लव शाहरुख' कहते हुए पाकिस्तान लौटा अब्दुल्लाह, बोला- फिर आऊंगा

यहां हम आपको देश के अखबारों में छपी अन्य खबरों से रू-ब-रू करवा रहे हैं. 

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Dec 27, 2018, 12:52 PM IST

बुधवार को रिहा हुए अब्‍दुल्‍लाह ने बताया कि वह शाहरुख खान का दीवाना है. वह उन्हीं से मिलने के लिए बिना वीजा और पासपोर्ट के बॉर्डर पार कर भारत पहुंच गया था. 

1/4

पाकिस्तानी 'फैन' बोला- शाहरुख से मिलना है बचपन का सपना

Abdullah returns to pakistan- says will come back to meet shah rukh

अमृतसर: बुधवार को भारत ने पाकिस्‍तान के नागरिक अब्‍दुल्‍लाह को रिहा कर दिया. अब्‍दुल्‍लाह एक साल पहले अटारी बॉर्डर पार करके भारत पहुंचा था. भारत ने हाल ही में पाकिस्‍तान के कराची के रहने मोहम्‍मद इमरान वारसी को भी जेल से रिहा किया है जो साल 2008 से सजा काट रहे थे. बुधवार को रिहा हुए अब्‍दुल्‍लाह ने बताया कि वह शाहरुख खान का दीवाना है. वह उन्हीं से मिलने के लिए बिना वीजा और पासपोर्ट के बॉर्डर पार कर भारत पहुंच गया था. अमर उजाला की खबर के मुताबिक, जाते-जाते उसने आई लव शाहरुख के नारे लगाए और बोला कि शाहरुख से मिलने का मेरा सपना अभी पूरा नहीं हुआ है. मैं फिर आऊंगा. 

 

2/4

अस्पताल आगः अस्पताल ने परिजनों से कहा- बच्ची तो मर ही रही थी

ISIC hospital denied compensation to 6 days old dead child's parents

मुंबई: अंधेरी के ईएसआईसी कामगार अस्पताल में 17 दिसंबर को लगी आग से 11 लोग जान गंवा चुके हैं. सोमवार को एक कार्यक्रम के दौरान हादसे में मृत और घायलों के परिजन को मुआवजे के चेक बांटे गए. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक, एक हफ्ते की नवजात (जुड़वां में से एक) के परिजन को ईएसआईसी ने 10 लाख रुपये मुआवजा देने से इनकार कर दिया. यही नहीं, ईएसआईसी ने असंवेदनशीलता दिखाते हुए कहा कि बच्ची पैदाइशी कमजोर थी और वैसे भी मरने वाली थी. संभव है, बच्ची की मौत प्राकृतिक रूप से हो जाती.

 

3/4

ऑटोवाले ने महिला-बच्चे को बचाने के लिए दे दी जान

Autowala killed self to save woman and kid

नई दिल्ली: पवन शाह नाम के ऑटो चालक ने बीते शनिवार को एक महिला और उसके बच्चे को मीठापुर नहर में डूबने से तो बचा लिया, मगर इस दौरान वह पानी के तेज बहाव में बह गया. पुलिस को अभी तक उसका शव नहीं मिला है. पुलिस उपायुक्त (दक्षिण पूर्व) चिन्मय बिस्वाल ने हिंदुस्तान अखबार को बताया कि बीते शनिवार को 30 वर्षीय ऑटो चालक पवन शाह सवारी को छोड़कर घर लौट रहा था. उसने देखा कि मीठापुर नहर पुल से एक महिला ने गोद में लिए अपने बच्चे के साथ नहर में छलांग लगा दी. पवन ने महिला और बच्चे को बचाने के लिए बिना कुछ सोचे समझे पानी में छलांग लगा दी थी. वहां से गुजर रहे तीन लोगों ने मानव श्रृंखला बनाकर महिला और उसके बच्चे को बचा लिया, लेकिन इसी बीच ऑटो चालक पानी के तेज बहाव में बह गया. 

 

4/4

वकील ने मोबाइल ट्रैकर से बदमाश को दबोचा

Lawyer catches thief with the help of mobile tracker

नई दिल्ली: शाहदरा के आनंद विहार इलाके में सोमवार रात बदमाशों ने एक वकील की पत्नी का पर्स झपट लिया. पीड़ित वकील ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर पत्नी के पर्स में रखे मोबाइल ट्रैकर की मदद से एक बदमाश को पकड़ लिया. हिंदुस्तान की खबर के मुताबिक, वकील की सूचना पर पुलिस जब झपटमारों के ठिकाने पर पहुंची तो हैरान रह गई. आरोपियों ने बिजली विभाग के सालों से बंद पड़े ऑफिस के एक कमरे में अपना अड्डा बना रखा था. इसी जगह पर आरोपी लूट के माल का बंटवारा और नशा करते थे.