केरल बाढ़ के दौरान जिस मछुआरे ने बचाई थी कई जिंदगियां, सड़क हादसे ने ले ली उसकी जान

नई दिल्ली: यहां हम आपको देश के अखबारों में छपी अन्य खबरों से रू-ब-रू करवा रहे हैं.   

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Oct 03, 2018, 11:53 AM IST

केरल में आई भीषण बाढ़ के दौरान कई लोगों को मौत के मुंह से निकालने वाले मछुआरे की एक सड़क हादसे में मौत हो गई.

1/4

सड़क किनारे पड़ा मदद की गुहार लगाता रहा जिनीश

Jines who saved many lives during Kerala flood died in a road accident

नई दिल्ली: केरल में आई भीषण बाढ़ के दौरान कई लोगों को मौत के मुंह से निकालने वाले मछुआरे की एक सड़क हादसे में मौत हो गई. द टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, घटना शनिवार को उस समय हुई जब तिरुअनंतपुरम का रहने वाला जिनीश जेरॉन (24) तमिलनाडु की तरफ जा रहा था. जिनीश और उसका दोस्त जगन बाइक पर सवार होकर तमिलनाडु की तरफ जा रहे थे उसी समय पीछे से आ रहे ट्रक ने टक्कर मार दी. हादसे में गंभीर रूप से घायल जिनीश की रविवार को इलाज के दौरान मौत हो गई. दोस्त को याद करते हुए जगन ने अखबार को बताया कि हादसे के बाद हम सड़क पर पड़े लोगों से मदद की गुहार लगा रहे थे लेकिन किसी ने आगे बढ़कर हमारी मदद नहीं की. समय पर मदद मिलती तो शायद जिनीश जिंदा होता. मौत के बाद जिनीस को पुंथुरा से सम्मानित किया गया और जिन लोगों को उन्होंने बाढ़ से बचाया था, उनकी उपस्थिति में सेंट थॉमस चर्च कब्रिस्तान में उनका अंतिम संस्कार किया गया. 

 

2/4

विले पार्ले में स्लैब धंसने से कुएं में गिरीं महिलाएं

3 people dead in during puja in vile parle

मुंबई: विले पार्ले पूर्व के दीक्षित रोड पर जिउतिया (जीवित्पुत्रिका) की पूजा के दौरान बड़ा हादसा हो गया. हादसे में एक मासूम बच्ची और दो महिलाओं की मौत कुएं में गिरने से हो गई. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक, मंगलवार शाम को करीब 100 महिलाएं पूजा करने के लिए इस कुएं पर जमा हुई थीं. कुएं के चारों ओर बना स्लैब शाम 6:30 बजे अचानक पानी में गिर गया. जानकारी के मुताबिक, कुएं का व्यास करीब 20 फुट था. उसके अधिकांश हिस्से को स्लैब बनाकर ढंका गया था जबकि पानी निकालने के लिए 2-3 फुट जगह छोड़ी गई थी. पूजा के दौरान पूरा स्लैब एकाएक ढह गया. जिसके चलते यह हादसा हो गया. 

 

3/4

नशे में हुए विवाद के बाद दो लोगों की हत्या

2 people murders in grater noida

ग्रेटर नोएडा: दादरी कोतवाली क्षेत्र के डाबरा गांव के रहने वाले दो लोगों की हत्या कर शव को नहर में फेंक दिया गया. दैनिक जागरण की खबर के अनुसार, शराब के नशे में हुए विवाद के बाद आरोपियों ने फावड़े व धारदार हथियार से दोनों व्यक्तियों के सिर पर हमला कर दिया. सोमवार देर रात हुई हत्या के बाद मंगलवार सुबह साढ़े आठ बजे दोनों के शव डाबरा गांव के समीप जू तीन सेक्टर के सामने नहर में मिले. मंगलवार शाम पांच बजे ग्रामीणों ने शवों को परीचौक पर रखकर जाम लगा दिया. परिजनों का आरोप है कि पुलिस आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रही है. वहीं, मौके पर पहुंचे एसपी देहात विनीत जायसवाल ने मामले में निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया है. 

 

4/4

बाघों की मौत का रिकॉर्ड खंगालेगी सीबीआई

CBI to look after tigers death in UK

रामपुर: उत्तराखंड में लगातार हो रहे बाघों की मौत के मामले की जांच का जिम्मा हाईकोर्ट ने सीबीआई को सौंप दिया है. हिंदुस्तान की खबर के मुताबिक, सीबीआई की टीम के हल्द्वानी पहुंचते ही वन अधिकारियों में खलबली मच गई. बताया जा रहा है कि पार्क में बाघों की मौत का पांच सालों का रिकॉर्ड सीबीआई की टीम खंगालेगी. सोमवार को सीबीआई की टीम दिल्ली से हल्द्वानी के फॉरेस्ट ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट पहुंची, जहां टीम ने वनाधिकारियों से पिछले ढाई सालों में बाघ और तेंदुओं की मौत की जानकारी ली. टीम मंगलवार को हल्द्वानी और उसके आसपास ही रही. अखबार को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सीबीआई टीम बुधवार शाम या गुरुवार सुबह जिम कॉर्बेट पहुंच जाएगी. डायरेक्टर से लेकर फील्ड कर्मचारियों तक से पूछताछ की जाएगी.