Zee Rozgar Samachar

ISIS के चंगुल से बच निकली महिला ने सुनाई दिल दहलाने वाली कहानी, 'मुझे नौ बार बेचा गया'

यहां हम आपको देश के अखबारों में छपी अन्य खबरों से रू-ब-रू करवा रहे हैं. 

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Oct 23, 2018, 12:12 PM IST

आतंकी संगठन आईएसआईएस के चंगुल से बच निकली लैला तालो खुधेर अली ने मुंबई में अपने साथ हुए अत्याचारों की दिल दहला देने वाली कहानी सुनाई.

1/4

मुझे सेक्स स्लेव बनाकर 9 बार बेचा गया- लैला

woman enslaved for sex by isis, recounts ordeal

मुंबई: आतंकी संगठन आईएसआईएस के चंगुल से बच निकली लैला तालो खुधेर अली ने मुंबई में अपने साथ हुए अत्याचारों की दिल दहला देने वाली कहानी सुनाई. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक, लैला ने पत्रकारों से बताया कि आतंकियों ने उन्हें नौ बार बेचा और उनका यौन शोषण किया. उन्होंने यह भी बताया कि कैसे उन जैसी और भी यजीदी महिलाओं की इंटरनेट पर खरीद-बिक्री होती है. 30 वर्षीय लैला ने बताया कि इराक के कुर्दिस्तान इलाके के एक गांव में अपने पति और दो बच्चों के साथ वह रह रही थीं. इस बीच आईएसआईएस का हमला हुआ और उनकी और उन जैसी दूसरी महिलाओं की जिंदगी नर्क बन गई. उन्होंने बताया कि 2 साल, 8 महीने 9 दिन में उन्हें 9 बार सेक्स स्लेव बना कर अलग-अलग देशों में बेचा गया, जिसमें इराक, बगदाद और सऊदी अरब शामिल हैं.

2/4

एनआरसी लिस्ट में नहीं था नाम तो 70 वर्षीय बुजुर्ग ने की आत्महत्या

70 years old man hangs self after not finding name in NRC list

मंगलदोई: असम के मंगलदोई जिले में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) ड्राफ्ट में अपना नाम न होने पर एक 70 वर्षीय रिटायर्ड स्कूल टीचर ने कथित तौर पर आत्महत्या कर ली. द टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि सेवानिवृत्ति के बाद वकालत करने वाले एनके दास अपने कमरे में फंदे से लटके पाए. परिजनों के मुताबिक सुसाइड नोट में दास ने लिखा है कि एनआरसी ड्राफ्ट में अपना नाम न होने से वह दुखी थे. एक विदेशी के तौर पर पहचाने जाने का अपमान वह नहीं झेल सकते थे इसलिए उन्होंने यह कदम उठाया. खबर के मुताबिक, उनकी पत्नी, तीनों बेटियों, दामादों और बच्चों के साथ-साथ ज्यादातर रिश्तेदारों का नाम एनआरसी में शामिल था लेकिन उनका नहीं. 

 

3/4

अमृतसर हादसे की तीन महीने में जांच करेगी एसआईटी

SIT to submit Amritsar train accident report in 3 months

अमृतसर: दशहरा के दिन जोड़ा रेल फाटक के नजदीक मारे गए 62 लोगों की जांच जीआरपी के अधिकारियों ने शुरू कर दी है. डीजीपी सुरेश अरोड़ा के आदेश पर गठित एसआईटी तीन महीने में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी. दैनिक जागरण की खबर के मुताबिक, हादसे के प्रत्येक पहलू की जांच के लिए चार सदस्यों की एसआइटी (स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम) बनाई गई है. जिसका नेतृत्व एआईजी दलजीत सिंह राणा करेंगे और डीएसपी सुरिंदर कुमार, एक इंस्पेक्टर व सब इंस्पेक्टर इसके सदस्य होंगे. 

 

4/4

हजार के पार पहुंची डेंगू के मरीजों की संख्या

dengue in spreading in delhi, more than thousand people found positive

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में इस साल डेंगू के मरीजों की संख्या एक हजार से अधिक पहुंच गई है. उत्तरी निगम के हिन्दूराव अस्पताल में डेंगू की वजह से एक किशोरी की मौत हो गई. हिंदुस्तान की एक रिपोर्ट के मुताबिक, जनवरी से लेकर अब तक दिल्ली में डेंगू के 1020 मामलों की पुष्टि हुई है. 18 सितंबर को हिन्दूराव अस्पताल में डेंगू से 13 साल की एक किशोरी की मौत हो गई. दक्षिणी निगम की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक बीते सप्ताह में डेंगू के 190 नए मामले सामने आए हैं. इसके साथ ही इस साल डेंगू के कुल मामलों की संख्या जहां पिछले सप्ताह तक 830 थी, वह इस हफ्ते 21 अक्‍टूबर तक 1020 तक जा पहुंची है.