Air Pollution: प्रदूषण से घर को कैसे बचाएं, सिर्फ सौ से 200 रुपये में मिलेगी साफ हवा

दिल्ली की जहरीली हवा को तो आप कंट्रोल नहीं कर सकते हैं लेकिन अपने कमरे की हवा, अपने घर की हवा को आप शुद्ध रख सकते हैं. 

सुमन अग्रवाल | Nov 13, 2018, 17:44 PM IST

दिल्ली की हवा में जो जहर घुल रहा है वो कम होने का नाम नहीं ले रहा है. सरकार, सीपीसीबी, ईपीसीए और एमसीडी की तमाम कोशिशों के बाद भी दिल्ली में सांस लेना मुश्किल हो रहा है. लोग हजारों रुपये खर्च करके एयर प्यूरिफायर, मास्क, एयर मॉनिटर, इंडोर प्लांट्स खरीद रहे हैं. दिल्ली की जहरीली हवा को तो आप कंट्रोल नहीं कर सकते हैं लेकिन अपने कमरे की हवा, अपने घर की हवा को आप शुद्ध रख सकते हैं. महज 200-300 रुपये खर्च करके आप घर को प्रदूषण से मुक्त कर सकते हैं.

1/7

मनी प्लांट्स को बोतलों के अंदर लगा दें

houseplants as a way to purify the air

आप अपने घर में मिनरल वाटर की बोतलों को काट लें और मनी प्लांट्स खरीदकर ले आएं. उसके बाद उन्हें बोतलों के अंदर लगा दें, उन बोतलों में मिट्टी-खाद नहीं बल्कि पत्थर और चारकोल से भरें और लंबी रस्सी में एक के साथ दूसरी बोतल लटका दें. ऐसे करके आप अपने कमरे में घर के हाल में कम से कम 4-5 फोटो फ्रेम की तरह मनी प्लांट्स की बोतलें लटका दें.

2/7

कम से 4-5 प्लांट्स को पूरे एक कमरे में रखेें

houseplants as a way to purify the air

पीएम 2.5 का लेवल भले ही बहुत ज्यादा नहीं रुकेगा, लेकिन आपको पूरे दिन ऑक्सिजन की शुद्ध हवा मिलेगा और CO2 नहीं निकलेगी. पूरे दिन घर से बाहर रहने के बाद जब आप अपने कमरे में आएंगे तो आपको शुद्ध हवा का एहसास होगा. इसकी कीमत 200-300 रुपये के बीच ही आएगी. आप कम से 4-5 इस तरह के प्लांट्स को पूरे कमरे में रख सकते हैं.

3/7

पहारपुर बिजनेस सेंटर

houseplants as a way to purify the air

दिल्ली के पहारपुर बिजनेस सेंटर के चेयरमैन कमल मीत्तल ने जी न्यूज से बात करते हुए हवा में फैले प्रदूषण से घर को सुरक्षित करने के तरीके बताए. पहारपुर बिजनेस सेंटर सालों पुराना बिजनेस टावर है. भारत की एकमात्र ग्रीन बिल्डिंग में शुमार है. इसमें 7 हजार से ज्यादा पौधे लगे हैं और पूरी बिल्डिंग में इन्हीं पौधों की शुद्ध हवा संचारित होती है. 

4/7

शुद्ध हवा का संचार

houseplants as a way to purify the air

बाहर जो पीएम 2.5 का लेवल इन दिनों 375 या इससे ज्यादा है उस वक्त यहां का पीएम लेवल 50 के आस-पास है. आइए जानें कमल मित्तल से आखिर कैसे यहां सालों से शुद्ध हवा का संचार होता है और इस बिजनेस टावर में काम करने वाले लोगों की प्रोडाक्टिविटी 50 गुणा ज्यादा रहती है.

5/7

हवा को शुद्ध और पावरफुल रख सकते हैं

houseplants as a way to purify the air

हम बाहर की हवा को कंट्रोल नहीं कर सकते लेकिन अपने कमरे की हवा को शुद्ध और पावरफुल रख सकते हैं. हमारी कोशिश भी यही है कि हम लोगों में ये जागरूकता पैदा कर सकें. सालों से ये बिल्डिंग एक हेल्दी और ग्रीन बिल्डिंग में शुमार है. 7 हजार से ज्यादा पौधे यहां लगे हैं और ये बिल्डिंग एयर टाइट है. आक्सिजन की शुद्ध हवा बाहर नहीं जाती है, यही रहती है. हमने कुछ प्यूरिफायर का भी इस्तेमाल किया है. 

6/7

घर को कम से कम पीएम लेवल से दूर रख सकते हैं

houseplants as a way to purify the air

पहले लोगों को ज्यादा जानकारी नहीं थी लेकिन अब लोग प्लांट्स के प्रति आकर्षित हो रहे हैं और सिंपल से समाधान से हम अपने कमरे और घर को कम से कम पीएम लेवल से दूर रख सकते हैं. तीन तरह के प्लांट्स आक्सीजन के संचार का काम करते हैँ. 

7/7

पल्यूशन का असर हमारी सेहत पर पड़ता है

houseplants as a way to purify the air

हम पूरे दिन शहर की जहरीली हवा में सांस लेते हैं, इस पल्यूशन का असर हमारी सेहत, दिमाग और मन पर पड़ता है. लेकिन शायद हम इसको ज्यादा गहराई से नहीं लेते हैं कि हमारी प्रोड्क्टिविटी कम हो रही है. अपने घर में आकर हमें चैन की सांस चाहिए होती है और वहीं आकर हम कुछ सकारात्मक सोच भी पाते हैं. अपने कमरे में हम 7-8 घंटे बिताते हैं और सबसे क्रिएटिव काम करते हैं. ऐसे में ये आसान सा समाधान आपको जिंदगी दे सकता है. 

(फोटो साभार : यू-ट्यूब/सोशल मीडिया)