INDvsENG: विराट की टीम इंडिया के इन खिलाड़ियों का 2014 में कुछ ऐसा रहा था रिकॉर्ड

भारत और इंग्लैंड के बीच शुरू हो रही पांच टेस्ट मैचों की सीरज में 10 खिलाड़ी ऐसे हैं जो इससे पहले 2014 के टीम इंडिया के इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट टीम में खेले थे.

Jul 31, 2018, 13:39 PM IST

भारत और इंग्लैंड के बीच शुरू हो रही पांच टेस्ट मैचों की सीरज में 10 खिलाड़ी ऐसे हैं जो इससे पहले 2014 के टीम इंडिया के इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट टीम में खेले थे.

1/11

Virat kohli

Virat kohli

भारत और इंग्लैंड के बीच शुरू हो रही पांच टेस्ट मैचों की सीरज में 10 खिलाड़ी ऐसे हैं जो इससे पहले 2014 के टीम इंडिया के इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट टीम में खेले थे. ये खिलाड़ी विराट कोहली, मुरली विजय, शिखर धवन, ईशांत शर्मा, चेतेश्वर पुजारा, आजिंक्य रहाणे, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, आर अश्विन, और  रवींद्र जडेजा हैं. इन खिलाडियों के प्रदर्शन पर सबकी खास नजर होगी. हम आपको बता रहे हैं कि 2014 में इन खिलाड़ियों का प्रदर्शन कैसा रहा था. 

2/11

Virat kohli

Virat kohli

विराट कोहली 2014 में टीम इंडिया के मध्य क्रम के मजबूत बल्लेबाज थे लेकिन वे उम्मीदों के मुताबिक सफल नहीं हो सके थे. उस सीरीज की पांच टेस्ट मैचों की 10 पारियों में विराट ने 13.40 के औसत से 134 रन बनाए थे इसमें उनका सर्वोच्च 39 रन था. इनमें लॉर्ड्स और मानचेस्टर टेस्ट में वे एक-एक बार शून्य पर आउट भी हुए थे. विराट ने इस सीरीज के बाद अपने खेल में काफी सुधार किया है. वे अब पहले से ज्यादा परिपक्व और आक्रामक बल्लेबाज हो गए है. इन दिनों ने फॉर्म में भी चल रह हैं.

 

3/11

Cheteshwar Pujara

Cheteshwar Pujara

विराट के बाद सबसे ज्यादा चर्चित बल्लेबाज हैं चेतेश्वर पुजारा हैं. पुजारा ने 10 पारियों में यहां 22.20 के औसत से 222 रन बनाए थे जिसमें सबसे ज्यादा 55 रन बनाए थे. इनमें वे केवल मानचेस्टर टेस्ट में वे शून्य पर भी आउट हुए थे. पुजारा का इस बार काउंटी क्रिकेट और एसेक्स के खिलाफ नाकाम रहे हैं. 

4/11

Shikhar Dhawan

Shikhar Dhawan

शिखर धवन 2014 के दौरे में केवल तीन टेस्ट मैच ही खेल पाए थे. इसकी छह पारियों में उन्होंने 20..33 के औसत से कुल 122 रन बनाए थे. इनमें सर्वोच्च स्कोर 37 रन ही था. शिखर एसेक्स के खिलाफ अभ्यास मैच में दोनों पारियों में शून्य पर आउट हुए थे. उनके बारे में कहा जा रहा है कि वे पहले टेस्ट में नहीं खेलेंगे. 

5/11

Murali Vijay

Murali Vijay

इस सूची में सबसे ज्यादा उम्मीदें भारत के सलामी बल्लेबाज मुरली विजय से की जा रही है. मुरली विजय ने 2014 के इंग्लैंड दौरे में शानदार शुरुआत की थी.पहली ही पारी में शानदार 146 रन और उसके बाद पहले दो टेस्ट मैचों में दो अर्धशतक की बदौलत मुरली ने 10 पारियों में 402 रन बनाए थे. उनका औसत 40.20 था लेकिन तीसरे टेस्ट की पहली पारी में 35 रन बनाने के बाद 12, 0 ,18 और 2 ही रन बनाए थे.  इसके बाद भी मुरली से काफी उम्मीद की जा रही है.

6/11

Ishant Sharma

Ishant Sharma

इस सीरीज के लिए भारतीय गेंदबाजों में सबसे ज्यादा चर्चा ईशांत शर्मा और उनके 2014 में लॉर्ड्स टेस्ट में शानदार गेंदाबजी की हो रही है. इस प्रदर्शन के बावजूद ईशांत ने इस सीरीज में केवल तीन टेस्ट मैच ही खेले थे और इनमें वे केवल चार पारियों में गेंदबाजी कर सके थे. इसमें ईशांत ने 27.21 के औसत से 14 विकेट लिए थे जिसमें लॉर्ड्स टेस्ट की दूसरी पारी में 74 रन देकर 7 विकेट का शानदार प्रदर्शन भी शामिल है. 

7/11

Ajinkya Rahane

Ajinkya Rahane

आजिंक्य रहाणे के नाम इस दौरे में एक शतक दर्ज है. पांच मैचों में उन्होंने 33.22 के औसत से 299 रन बनाए थे. यह शतक उन्होंने लॉर्ड्स में लगाया था. रहाणे एसेक्स के खिलाफ अभ्यास मैच में नाकाम रहे थे. 

8/11

Bhuvneshwar Kumar

Bhuvneshwar Kumar

 भुवनेश्वर कुमार भले ही पहले टेस्ट से बाहर हो गए हों लेकिन उनके दूसरे टेस्ट से वापसी की उम्मीद है. भुवी ने  2014 में पांच टेस्ट मैचों में 26.63 की औसत से 19 विकेट लिए थे और दो बार पांच या उससे ज्यादा विकेट लेकर उन्हें इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन के साथ मैन ऑफ द सीरीज के लिए भी चुना गया था.

9/11

Mohammed Shami

Mohammed Shami

मोहम्मद शमी इस सीरीज में  केवल तीन मैच ही खेल पाए थे. इसकी 5 पारियों में शमी खासा प्रभाव डालने में नाकाम रहे थे और 73.19 के औसत से केवल 5 विकेट ही ले सके थे. इस बार आशा की जा रही है कि वे बढ़िया गेंदबाजी करेंगे.

10/11

R Ashwin

R Ashwin

आर अश्विन की चर्चा इस सीरीज में स्पिनर की के साथ हो रही है. अश्विन 2014 में केवल 2 ही टेस्ट खेल सके थे. इनमें उन्होंने दो पारियों में 33.66 की औसत से तीन विकेट लिए थे वो भी ओवल टेस्ट की केवल एक ही पारी में 72 रन देकर लिए थे. 

11/11

Ravindra jadeja

Ravindra jadeja

रवींद्र जडेजा इस समय आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में भले ही शीर्ष दूसरे नंबर पर हों लेकिन इन दिनों वे अपने प्रदर्शन को ही लेकर आलोचकों के निशाने पर हैं. 2014 में उन्होंने चार टेस्ट मैचों की छह पारियों में 46.66 के औसत से 9 विकेट लिए थे.