close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सिर्फ NRI रीडर्स के मतलब की खबरें एक CLICK में पढ़ें

जी न्यूज की इस खास पेशकश में आप अपने शहरों की कुछ चुनिंदा और खास खबरें हिन्दी में बस एक क्लिक में पढ़ सकते हैं.

Dec 29, 2017, 15:45 PM IST

नई दिल्ली: अपने NRI पाठकों के लिए ZEE News Hindi आज से एक नई शुरुआत कर रहा है. जी न्यूज की इस खास पेशकश में आप अपने शहरों की कुछ चुनिंदा और खास खबरें हिन्दी में बस एक क्लिक में पढ़ सकते हैं.

1/12

सीकर: रोडवेज की टक्कर से बाइक सवार के घायल होने से भड़की भीड़ ने 20 से ज्यादा गाड़ियों में तोड़फोड़ की. सैकड़ों की आक्रोशित भीड़ को काबू करने के लिए 20 पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंचे थे. मामला शांत होता देख अंत में पुलिस को लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले तक छोड़ने पड़े. बताया जा रहा है कि दुर्घटना में घायल युवक की देर रात मौत भी हो गई.

2/12

सीकर: सरकारी भर्ती निकलते ही अक्सर लोग कहते हैं कि बस अब जुट जाओ. सरकारी शिक्षक राजेंद्र महला ने भी इन्हीं बेरोजगारों के लिए एक ऐसी वेबसाइट बनाई है, जो विभन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में काफी मददगार हो सकती है. जुट जाओ डॉट कॉम वेबसाइट पर हर दिन सामान्य ज्ञान से जुड़े 15 नए सवाल अपलोड किए जा रहे हैं.

3/12

जोधपुर: क्रिकेटर यूसुफ पठान एनिमल्स के प्रति अपने प्यार के लिए पहचाने जाते हैं. वे गुरुवार को अपने बेटे अयान के साथ जोधपुर पहुंचे थे. पठान रणसी गांव भी गए थे जहां उन्हों मारवाड़ी नस्ल के कई घोड़े देखे. पठान को वहां सवाईसिंह राठौड़ का मारवाड़ी घोड़ा 'सप्तांश' काफी पसंद आया. इस घोड़े की कीमत एक करोड़ रुपये से भी अधिक बताई जा रही है.

4/12

जयपुर: राजस्थान के हेरिटेज से इंस्पायर्ड वुडन प्रोडक्ट हमेशा इंटीरियर का पार्ट रहे हैं. यह घर की शोभा बढ़ाते हैं लेकिन इन्हें बनाने में हजारों पेड़ों को काट दिया जाता है. इसी बात का ख्याल रख दिल्ली की डिजाइनर झुनझुन जैन ने स्पेन के कॉर्क ट्री की छाल से तैयार की इकोफ्रेंडली और हैंडमेड होम एसेसरीज.

5/12

चंडीगढ़: शहर के होटलों, क्लब, रेस्टोरेंट्स और डिस्को में होने वाले नए साल के जश्न पर एक्साइज डिपार्टमेंट की नजर है. एक्साइज डिपार्टमेंट का कहना है कि 'पहले टैक्स जमा कराओ फिर होगा नए साल का जश्न'. नए साल का जश्न मनाने के लिए होटलों और क्लबों से लिया जा रहा है 28 परसेंट एडवांस टैक्स.

6/12

गुरदासपुर: गीता भवन रोड गुरदासपुर में अपने नाना के घर से लापता हुई 5 साल की बच्ची खुशी को पुलिस ने सोशल मीडिया की मदद से डेढ़ घंटे में ढूंढ निकाला. आपको बता दें कि गुरुवार शाम करीब 4 बजे घर से दूध लेने बाजार गए अपने नाना के पीछे-पीछे 5 साल की मासूम खुशी चुपचपा घर से चली गई थी. जब नाना दूध लेकर वापस आए तो पता चला कि खुशी लापता हो गई है.

7/12

बठिंडा: थर्मल प्लांट बंद करने के सरकार के फैसले का असर वहां काम कर रहे लोगों पर ही नहीं बल्कि उनके रिश्तों पर भी पड़ रहा है. दैनिक भास्कर में छपी खबर के मुताबिक प्लांट बंद होने के बाद दो मुलाजिमों की शादी टूट गई है. बताया जा रहा है कि 21 दिसंबर को जैसे ही सरकार ने थर्मल प्लांट बंद करने की घोषणा की अगले दिन लड़की वालों का फोन आया और कहा कि हम ये शादी नहीं कर सकते. नौकरी नहीं रहेगी तो मेरी बेटी को कैसे खिलाओगे.

8/12

सूरत: जिले के खटोदरा थाना क्षेत्र के मान दरवाजा इलाके में एक महिला के बेटे ने मां के अवैध संबंध के शक में एक व्यक्ति की आंखें फोड़ दीं और उसकी एक अंगुलीभी काट दी. वह व्यक्ति अवैध रूप से शराब की बिक्री करने वाली महिला के यहां शराब पीने गया था.

9/12

सूरत: महाराष्ट्र के निम गांव के रहने वाले सोपन वासुदेव खडागेर ने अंगुलियों को ही अपना ब्रश बना लिया है. अपनी कारीगरी के दम पर चावल के बराबर आकार में उन्होंने कश्मीर की सुंदरता भी दिखा दी है.

10/12

सूरत: गुजरात से एक खास खबर है कि सूरत की लाजपोर जेल में पिछले 7 साल से हत्या के एक मामले में बंद 40 साल के एक कैदी ने जेल के अपने अनुभवों पर किताब लिख डाली है. 60 देशों में किताब की 7 लाख से ज्यादा प्रतियां बिक चुकी हैं. इसके अलावा वह पेंटिंग में भी 3 राष्ट्रीय पुरस्कार जीत चुका है.

11/12

अहमदाबाद: क्राइम ब्रांच ने घाटलोडिया में 21 दिसंबर को दिनदहाड़े हुई 80 साल की वृद्ध महिला की हत्या की गुत्थी सुलझा ली है. पूछताछ में सामने आया है कि दामाद ने ही पांच लाख रुपये की सुपारी देकर सास को मौत के घाट उतरवा दिया. पुलिस जांच में सामने आया है कि दामाद रमेश के ऊपर भारी कर्ज था जिसे चुकाने के लिए उसकी नजर सास की संपत्ति पर थी.

12/12

अहमदाबाद: पाकिस्तान से कई साल पहले आ चुके राजकोट के सैकड़ों हिन्दू शरणार्थी आज भी भारतीय नागरिकता के इंतजार में हैं. कुछ शरणार्थियों ने अपना पाकिस्तानी पासपोर्ट प्रशासन को सौंप कर पाकिस्तानी नागरिकता छोड़ दी है.