बुमराह का करियर का बेस्ट प्रदर्शन, पहली बार एक पारी में लिए 6 विकेट

जसप्रीत बुमराह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न टेस्ट एक पारी में 6 विकेट लिए जो उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है.

यह खास रिकॉर्ड बना एशियाई गेंदबाजों में

1/8
यह खास रिकॉर्ड बना एशियाई गेंदबाजों में

बुमराह अब दुनिया के एकमात्र गेंदबाज बन गए हैं जिसने दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया तीनों ही देशों के खिलाफ एक ही कैलेंडर इयर में 5 विकेट हॉल हासिल किए हैं. इसके अलावा चूंकि बुमराह का यह डेब्यू कैलेंडर इयर भी है. बुमराह इस समय दुनिया के शानदार गेंदबाजों में से एक हैं. वे अबतक केवल वनडे और टी20 में डेथ ओवर्स के स्पेशलिस्ट के तौर पर जाने जाते रहे हैं. (फोटो:PTI)

कैलेंडर इयर में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय

2/8
कैलेंडर इयर में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय

इसी पारी में वे डेब्यू कैलेंडर इयर में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय भी बन गए हैं अभी तक वे 45 विकेट ले चुके हैं. शॉन मार्श का विकेट लेने के साथ उन्होंने अबने डेब्यू कैलेंडर इयर के 41 विकेट पूरे कर लिए जो कि किसी भी भारतीय के डेब्यू कैलेंडर इयर में सबसे ज्यादा विकेट हैं. बुमराह ने भारत के पूर्व स्पिनर दिलीप दोषी को पीछे छोड़ा है जिन्होंने अपने डेब्यू कैलेंडर इयर में 40 विकेट लिए थे. इसके बाद वेंकटेश प्रसाद (37) तीसरे, नरेंद्र हिरवानी (36) चौथे और एस श्रीसंथ (35) पांचवे स्थान पर हैं. (फोटो:PTI)

बाउंसर से लिया पहला विकेट

3/8
बाउंसर से लिया पहला विकेट

ऑस्ट्रेलिया की पारी के 14वें ओवर में जसप्रीत बुमराह ने एक बाउंसर फेंकी जिसे डक करने के बजाए हैरिस ने हुक शॉट लगाया लेकिन गेंद सीधे फाइन लेग पर खड़े इशांत शर्मा के हाथों में चली गई और हैरिस को जाना पड़ा. हैरिस ने 35 गेंदों पर दो चौकों के साथ 22 रन बनाए. इससे पहले मैच के दूसरे दिन के अंतिम ओवरों और ऑस्ट्रेलिया की पारी के चौथे ओवर की दूसरी गेंद पर ही बुमराह ने हैरिस को एक तेज बाउंसर मारी थी जो सीधे उनके हेलमेट पर जा लगी थी. हैरिस को तब फिजियो को मैदान पर बुलाना पड़ा था. (फोटो: Reuters)

बेहतरीन यार्कर पर लिया दूसरा विकेट

4/8
बेहतरीन यार्कर पर लिया दूसरा विकेट

लंच से पहले की आखिरी गेंद पर जैसे ही बुमराह ने शॉन मार्श को बेहतरीन यार्कर पर एलबीडब्ल्यू आउट किया. इस विकेट के साथ उन्होंने अबने डेब्यू कैलेंडर इयर के 41 विकेट पूरे कर लिए जो कि किसी भी भारतीय के डेब्यू कैलेंडर इयर में सबसे ज्यादा विकेट हैं. बुमराह ने भारत के पूर्व स्पिनर दिलीप दोषी को पीछे छोड़ा है जिन्होंने अपने डेब्यू कैलेंडर इयर में 40 विकेट लिए थे. इसके बाद वेंकटेश प्रसाद (37) तीसरे, नरेंद्र हिरवानी (36) चौथे और एस श्रीसंथ (35) पांचवे स्थान पर हैं. 

बेहतरीन बोल्ड रहा तीसरा विकेट

5/8
बेहतरीन बोल्ड रहा तीसरा विकेट

लंच के बाद बुमराह ने ऑस्ट्रेलिया की पारी के 37वें ओवर में ऑस्ट्रेलिया का 5वां विकेट गिरा दिया. बुमराह ने ट्रेविस हेड को बेहतरीन गेंद बोल्ड कर ऑस्ट्रेलिया को बड़ा झटका दे दिया. बुमराह की फुल लेंथ गेंद को हेड पढ़ नहीं पाए और गेंद उनके बल्ले का अंदरूनी किनारा लेते हुए विकेटों में जा लगी. और ऑस्ट्रेलिया के केवल 95 के स्कोर पर ही आधी टीम पवेलियन वापस लौट गई. (फोटो:PTI)

चाय के बाद दूसरे ही ओवर लिया चौथा विकेट

6/8
चाय के बाद दूसरे ही ओवर लिया चौथा विकेट

बुमराह ने ऑस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन को विकेट के पीछे ऋषभ पंत के हाथों कैच कराकर मेजबान टीम का 8वां विकेट गिरा दिया.  टीम पेन के आउट होने के बाद तय हो गया कि ऑस्ट्रेलिया का पारी जल्दी ही सिमट जाएगी. 65 ओवर तक ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 147 रन हो गया था. (फोटो: Reuters)

नाथन लायन के पास नहीं था इस गेंद का जवाब

7/8
नाथन लायन के पास नहीं था इस गेंद का जवाब

टीम पेन को आउट करने के बाद बुमराह ने अपने अगले ओवर की तीसरी गेंद पर ही नाथन लाय़न को एल्बीडल्यू कर पारी का अपना पांचवा विकेट लिया. नाथन इस गेंद को फ्लिक करना चाह रहे थे लेकिन वे चूक गए.  (फोटो:PTI)

जोश हेजलवुड बने छठे शिकार

8/8
जोश हेजलवुड बने छठे शिकार

इसी ओवर में बुमराह ने पांचवी गेंद अंदर की ओर फुल लेंथ फेंकी जिसे बाएं हाथ के बल्लेबाज जोश हेजलवुड नहीं पढ़ सके और बोल्ड हो गए और इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया की पारी 151 रन पर सिमट गई तो बुमराह ने पहली बार एक पारी में 6 विकेट हासिल कर लिए (फोटो:PTI)

photo-gallery