World Wide Web 30th Birthday: जानिए क्या है www जिसके बिना इंटरनेट का अस्तित्व ना के बराबर ही है

दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल हो या फिर याहू ऐसी हजारों साइट्स हैं, जिनका अस्तित्व इंटरनेट की वजह से ही है. सर्च इंजन गूगल ने आज WWW यानी कि वर्ल्ड वाइड वेब (World Wide Web) की 30वीं सालगिरह पर एक खास डूडल बनाया है.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Mar 12, 2019, 13:52 PM IST

इंटरनेट पर खोजी जाने वाली वेबसाइट से पहले लगा www उसमें प्रदर्शित होने वाले अलग-अलग डॉक्यूमेंट्स का ग्रुप होता है, जिसको आपस में जोड़कर ही कोई वेबसाइट बन सकती है. www की खोज का सारा श्रेय वैज्ञानिक टिम बर्नर ली को जाता है. टीम बर्नर्स ली ने www 1989 में यूरोपीय नाभिकीय अनुसंधान संगठन में काम करने के दौरान बनाया था. www की बनाने के बाद उन्होंने इसको 1992 में जारी किया था. 

1/4

टिम बर्नर ली ने की थी खोज

know about World Wide Web -1

टीम बर्नर ली ने अपनी शुरुआत की पढ़ाई इंग्लैड में की थी. पढ़ाई के दौरान ही उनका दिमाग इंटरनेट की दुनिया में लगा रहता था. वह अक्सर कुछ ना कुछ नया करने की कोशिश में जुटे हुए रहते थे. क्वींस कॉलेज और ऑक्सफर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करने के बाद 1976 में उन्हें फिजिक्स में डिग्री हासिल हुई. गणित में अच्छी पैठ रखने वाले बर्नर ली ने पढ़ाई के बाद यूरोपीय नाभिकीय अनुसंधान संगठन में काम करना शुरू किया और फिर उन्हें www की खोज की. 

2/4

क्यों खास है यह...

know about World Wide Web -4

www एक बहुत बड़ा नेटर्वक है, जिसकी शुरुआत का पता तो लगाया जा सकता है, लेकिन अंत कहा होग, इसकी जानकारी किसी को नहीं हैं. इस नेटवर्क में हाईपर टेक्ट फाइल और वेब पेज आपस में लिंक हैं. इन्हीं लिंकिग के कारण हम इंटरनेट की दुनिया में खबरों, किसी इंसान या अन्य चीजों को पता लगा सकते हैं.

3/4

यूआरएल लोकेटर का करता है काम

URL does the work of the locator

www इंटरनेट पर सिर्फ साइट को नाम देने और उनकी फाइलों को स्टोर ही करने का काम नहीं करती बल्कि उसके यूआरएल को भी लोकेट करती है. किसी वेबसाइट के नाम को उसका URL (Uniform Resource Locator) से ही पहचाना जाता है और www उसी का काम करता है.

 

4/4

क्या है वर्ल्ड वाईड वेब

know about World Wide Web -5

वर्ल्ड वाईड वेब में उन सभी जानकारियों को देखा जा सकता है, जो हम वेबसाइट पर खोज रहे हैं. वर्ल्ड वाईड वेब एक इंटरनेट प्रणाली है, जिसके अंतर्गत प्रत्येक वेबसाइट को एक नाम दिया जाता है. यह वेबसाइट वेब सर्वर पर हाईपरटेक्स्ट फाइलों को जाम करके उन्हें यूजर्स को उपलब्ध करवाती है. 'सूचना प्रबंधन : एक प्रस्ताव' शीर्षक वाले दस्तावेज में उन्होंने डॉक्यूमेंट्स को लिंक करने के लिए हाइपरटेक्स्ट के उपयोग की कल्पना की थी.  डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू जिसे आमतौर पर वेब के रूप में जाना जाता है, एक सूचना स्थान है जहां डॉक्यूमेंट्स और अन्य वेब रिसोर्सेज की पहचान यूनिफॉर्म रिसोर्स लो