close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जानिए क्या है पीवी सिंधु का सबसे बड़ा ख्वाब

दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू ने आज कहा कि उनका लक्ष्य दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनना है और वह शीर्ष स्थान हासिल करने का प्रयास कर रही हैं.

Mar 01, 2018, 14:46 PM IST

दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू ने आज कहा कि उनका लक्ष्य दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनना है और वह शीर्ष स्थान हासिल करने का प्रयास कर रही हैं.

1/5

PV Sindhu gave message for women

PV Sindhu gave message for women

उन्होंने कहा, ‘‘वह हमेशा यह कहने के लिए मौजूद रही कि अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करो और जो भी करो उसमें अपना सर्वश्रेष्ठ दो. साहसी बनो और मजबूत रहो और सभी महिलाओं को ऐसा करना चाहिए और खुद पर विश्वास रखना चाहिए.’’ 

2/5

Mother is her inspiration

Mother is her inspiration

सिंधू हैदराबाद में अपने स्कूल ‘आक्सिलम हाई स्कूल’ एक प्रचार कार्यक्रम के दौरान छात्रों और शिक्षकों से बात कर रही थी. सिंधू ने कहा कि उनकी मां उनके लिए प्रेरणा है. (फोटो : IANS)

3/5

heading towards that goal

heading towards that goal

रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता सिंधू ने कहा, ‘‘मैं दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनने का प्रयास कर रही हूं. अब मेरा सपना दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनना है और निश्चित तौर पर मैं इस ओवर बढ़ रही हूं. मैं खुद को वहां देखना चाहती हूं.’’ 

4/5

Ambition of Sindhu since the age of 8

Ambition of Sindhu since the age of 8

सिंधू ने कहा, ‘‘जब मैंने आठ साल की उम्र में खेलना शुरू किया तो मेरा सपना भारत के लिए खेलना था और यह मेरा पहला सपना था. जब मैंने भारत के लिए खेलना शुरू किया तो जब एक दिन मैंने सोचा कि मुझे दुनिया में शीर्ष पर होना चाहिए.’’ (फोटो : PTI)

5/5

PV Sindhau talked about her goal

PV Sindhau talked about her goal

कुछ महीने पहले करियर की सर्वश्रेष्ठ दूसरी रैंकिंग हासिल करने वाली सिंधू ने कहा कि जब आठ साल की उम्र में उन्होंने पहली बार खेलना शुरू किया था तो उनका लक्ष्य भारत का प्रतिनिधित्व करना था. सिंधू पहले ही कह चुकी हैं कि यह बड़ा साल है और अगला टूर्नामेंट आल इंग्लैंड है. राष्ट्रमंडल और एशियाई खेल भी होने हैं. वे एक बार में एक टूर्नामेंट पर ध्यान देना चाहती हैं और साल के अंत में खुद को नंबर एक के रूप में देखना चाहती हैं. (फोटो : IANS)