close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जानिए- दुनिया के पहले इंसान को, जिसने 2 घंटे से कम में पूरी की मैराथन

Marathon: केन्या के इलियुद किपचोगे दुनिया के पहले ऐसे इंसान बन गए हैं जिसने कोई मैराथन दो घंटे से भी कम समय में पूरी की है. 

विकास शर्मा | Oct 13, 2019, 13:43 PM IST

नई दिल्ली: केन्या के धावक इलियुद किपचोगे (Eliud Kipchoge) ने एथलेटिक्स में इतिहास रच दिया है. वे  दो घंटे से कम समय में मैराथन (Marathon) पूरी करने वाले दुनिया के पहले धावक बन गए हैं. 34 साल के किपचोगे ने 42.2 किमी की दूरी 59 मिनट और 40 सेकंड में मैराथन पूरा किया. ओलंपिक मैराथन चैम्पियन रह चुके किपचोगे ने विनया के प्रेटर पार्क में यह उपलब्धि हासिल की. इस मैराथन का आयोजन ब्रिटिश कैमिकल कंपनी आईएनईओएस ने किया था. 

1/8

42 पेसमेकर्स की टीम ने थी साथ

assisted by 42 pacemakers team

किपचोगे के साथ एक 42 पेसमकर्स कीटीम थी जिसमें  15000 मीटर ओलिंपिक चैंपियन मैथ्यू सेंट्रोविट्ज, 5000 मी. ओलंपिक सिल्वर मेडलिस्ट पॉ चेलिमो और इंगेब्रिंगट्सन बंधु जैकब, फिलिप और हेनरिक भी शामिल थी. इस दौड़ के दौरान किपचोगे के साथ उनके कोच बाइक पर उनके लिए पानी और एनर्जी जेल्स के साथ चलते रहे जिससे किपचोगे को अपने लिए रिफ्रेशमेंट लेने के लिए टेबल पर पहुंचने का इंतजार नहीं करना पड़ा. 

2/8

आखिरी समय में पेसमेकर्स हटे पीछे

Pacemakers retreated during last time

आखिरी समय में जब किपचोगे अपनी दौड़ रिकॉर्ड समय में पूरी करने वाले थे, तब पेसमेकर्स पीछे हट गए थे जिससे किपचोगे अपनी लाइन पर अकेले ही दौड़ पूरी कर सकें.  इस दौरान दोनों तरफ ऑस्ट्रिया का विशाल जनसमूह उनकी हौसला अफजाई कर रहा था.

 

3/8

25 सेकेंड से चूक चुके हैं एक बार

Has once missed by 25 seconds

दौड़ जीतने के बाद किपचोगे ने अपनी पत्नी को गले लगाया. और केन्या का झंड़ा हाथ में ले लिया. तब तक फैंस ने भी उन्हें घेर लिया. चार बार लंदन मैराथन जीत चुके किपचोगे 2017 में केवल 25 सेंकड से दो घंटे के अंदर का समय लेने से चूक गए थे.

4/8

आधिकारिक रिकॉर्ड भी किपचोगे के ही नाम

This is not official Record

किपचोगे भले ही दो घंटे से पहले मैराथन पूरी करने वाले पहले व्यक्ति बन गए हों, लेकिन यह आधिकारिक रिकॉर्ड नहीं कहलाएगा .यह एक ओपन कॉम्प्टीशन नहीं होने के कारण आईएएएफ की आधिकारिक रिकॉर्ड में दर्ज नहीं होगा. फिर भी मैराथन का आधिकारिक रिकॉर्ड भी किपचोगे के नाम ही है. उन्होंने 2018 में बर्लिन में  2:01:39 का विश्व रिकॉर्ड बनाया था. 

5/8

जूनियर चैंपियनशिप से ही खींचा ध्यान

got attraction in Junior Championship

पांच नवंबर 1984 को केन्या के किपसिसियवा में जन्मे किपचोगे ने 2002 में डबलिन में हुए जूनियर वर्ल्ड क्रॉस कंट्री चैंपियनशिप में पांचवे स्थान पर आए थे और गोल्ड जीतने वाली केन्याई टीम के सदस्य थे. 

6/8

ओलंपिक में भी छाए

shone is Olympics as well

किपचोगे ने  5000 मीटर स्पर्धा में, पेरिस वर्ल्ड चैंपियनशिप के गोल्ड, 2004 एथेंस ओलंपिक में कांस्य, ओसाका में हुए 2007 विश्व चैंपियनशिप में सिल्वर, 2008 के बीजींग ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीता था.

7/8

रियो ओलंपिक में जीता गोल्ड

Won Rio Olympic Gold

2015 और 2016 में लगातार दो बार किपचोके ने लंदन मैराथन जीती है. उस समय वे दुनिया के दूसरे सबसे तेज मैराथन धावक बने थे. इसके बाद 2016 रियो ओलंपिक में भी उन्होंने 2:08:44 का समय निकालकर गोल्ड मेडल अपने नाम किया था. 

8/8

2019 लंदन मैराथन में

In London Marathon 2019

2019 में किपचोगे ने अपनी चौथी लंदन मैराथन में 2:02:37 का समय निकाला था. यह मैराथन इतिहास की दूसरी सबसे तेज मैराथन दर्ज की गई.