गणेश चतुर्थी 2018: बप्पा के आगमन से मुंबई शहर में रौनक, इन पंडालों में लगता है सेलिब्रेटीज का तांता

मुंबई में गणेश चतुर्थी के मौके पर बप्पा को बड़े-बड़े पंडालों में विराजमान किया जाता है.

वंदना यादव | Sep 13, 2018, 10:18 AM IST

गणेश चतुर्थी का त्योहार आज से शुरू हो गया है. महाराष्ट्र के मुंबई शहर में गणेश चतुर्थी बड़े धूमधाम से मनाया जाता है. वैसे तो चतुर्थी का ये महापर्व पूरे देश में मनाया जाता है लेकिन जो रौनक और उत्साह मुंबईवालों में दिखता है, ऐसा नजारा और कहीं देखने को नहीं मिलता. मुंबई में गणेश चतुर्थी के मौके पर बप्पा को बड़े-बड़े पंडालों में विराजमान किया जाता है. इन पंडालों में गणेश चतुर्थी के 10 दिनों तक खूब रौनक रहती है. बॉलीवुड के बड़े-बड़े सेलिब्रेटी भी यहां लाइन में लगकर बप्पा के दर्शन करते हैं.

1/10

लाल बाग का राजा

Lalbaugcha Raja

मुंबई के लालबाग राजा पूरे देश में प्रसिद्ध हैं. लालबाग के राजा को नवसाचा गणेश के नाम से भी जाता है जिसका मतलब होता है हर इच्छा पूरी करने वाला. 

2/10

गणेश गली मुंबई का राजा

Ganesh Galli Mumbaicha Raja

लालबाग के राजा से कुछ ही दूरी पर लगता है गणेश गली मुंबई के राजा का दरबार. हर साल यहां पर भी बप्पा के दर्शन करने वालों का तांता लगता है. 

3/10

खेतवाड़ी

Khetwadi

साउथ मुंबई के गिरगांव में विराजने वाले गणपति सबसे सभी पंडालों में सबसे ऊंचे बप्पा हैं. 40 फीट के गणेश को असली सोने से सजाया जाता है. 

4/10

जीएसबी सेवा मंडल गणपति

GSB Seva Mandal Ganpati

जीएसबी सेवा मंडल दुनिया का सबसे अमीर मंडल ग्रुप है. यहां पर असली सोने की गणपति मूर्ति को स्थापित किया जाता है. 60 किलो सोने के गणपति को 175 किलो चांदी से सजाया जाता है. 

5/10

अंधेरी का राजा

Andheri Cha Raja

अंधेरी के राजा का दरबार मुंबई के आजाद नगर में लगता है. इस पंडाल की खास बात है यहां के सेट्स जहां गणपति को स्थापित किया जाता है. इस पंडाल में गणेश को उनके स्थान तक पहुंचाने में पूरे 20 घंटे का समय लगता है. 

6/10

चिंचपोकली का चिंतामणी गणपति

Chinchpokli Cha Chintamani Ganpati

मुंबई के चिंचपोकली रेलवे स्टेशन के पास सबसे पुराना गणपति पंडाल है. इस पंडाल को साल 1920 में शुरू किया गया था. 

7/10

कमाटीपुरा का चिंतामणि गणेश

Kamatipuracha Chintamani Ganesh

ये पंडाल कमाटीपुरा में मौजूद है. यहां पर गणेश जी घोड़ों के ऊपर बैठे हैं और उन्हें एकटक देखना सबसे खूबसूरत पल होता है. 

8/10

तुलसीवाड़ी का महाराजा गणेश

Tulsiwadi Cha Maharaja Ganesh

साउथ मुंबई के तारदो रोड पर लगने वाले तुलसीवाड़ा का महाराज गणेश पंडाल इस महोत्सव की सबसे सुंदर जगह है. ये मुंबई के सबसे छोटे पंडाल में से एक है लेकिन यहां गणपति बहुत ही यूनिक होते हैं. 

 

9/10

डोंगरी का राजा

Dongri Cha Raja

मुंबई के गणेश चौक पर मौजूद इस पंडाल में आकर लोगों को दिली सुकून मिलता है. 

 

10/10

चंदनवाड़ी गणपति

Chandanwadi Ganpati

चीरा बाजार में लगने वाले इस पंडाल की गणपति प्रतिमा को 2012 में बेस्ट मूर्ति का अवॉर्ड दिया गया था.