close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बहन का मोबाइल पर चैट करना छोटे भाई को नहीं था पसंद, गला घोंटकर मार डाला

जी न्यूज की इस खास पेशकश में आप अपने शहरों की कुछ चुनिंदा और खास खबरें हिन्दी में बस एक क्लिक में पढ़ सकते हैं.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Aug 29, 2018, 11:40 AM IST

नई दिल्ली: अपने NRI पाठकों के लिए ZEE News Hindi ने एक नई शुरुआत की है. जी न्यूज की इस खास पेशकश में आप अपने शहरों की कुछ चुनिंदा और खास खबरें हिन्दी में बस एक क्लिक में पढ़ सकते हैं.

1/5

नाबालिग भाई ने अफेयर पर बड़ी बहन को मार डाला

Interesting News for NRI readers from Vasai

वसई: नवभारत टाइम्स के मुंबई संस्करण में बुधवार को पहले पन्ने पर प्रकाशित एक खबर में बताया गया है कि नायगांव स्थित मुंबई अहमदाबाद हाइवे से सटे बफाना गांव के पालणापाडा इलाके में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. खबर के मुताबिक सोमवार की दोपहर 16 वर्षीय भाई ने अपनी 19 वर्षीय बहन की गला घोंटकर हत्या कर दी. खबर में पुलिस सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि मृतक बहन का किसी युवक से अफेयर था और वह दिन भर मोबाइल पर बातें व चैट करती रहती थी. यह बात उसके भाई को पसंद नहीं थी. खबर में जानकारी दी गई है कि वालीव पुलिस ने धारा 302, 201 के तहत मामला दर्ज कर आरोपी भाई को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बफाना स्थित पालणापाडा निवासी काजल गौतम पगारे अपने माता-पिता व दो भाइयों के साथ रहती थी.

2/5

जयपुर से दिल्ली के लिए बुक कराई थी कैब, न चालक के नंबर आए, न फोटो

Interesting News for NRI readers from Jaipur

जयपुर: दैनिक भास्कर के जयपुर संस्करण में पहले पन्ने पर प्रकाशित एक खबर में दावा किया गया है कि जयपुर से दिल्ली के लिए बुक कराई ओला कैब को कैंसिल कर प्राइवेट टैक्सी के रूप में चलने से मना करने पर एक निजी बैंक के वाइस प्रेसीडेंट पुरुषोत्तम और उनकी बेटी से चालक ने साथियों को बुलाकर मारपीट की. खबर के मुताबिक सूचना के बाद पुलिस पहुंची तब तक वे दोनों को एक्सप्रेस हाईवे पर मुरलीपुरा में छोड़कर फरार हो गए. खबर में बताया गया है कि पुरुषोत्तम जिस कैब में बैठे थे, उसका नंबर आरजे 14 टीसी 1585 है और चालक का नाम आदिल कुरैशी आ रहा है. घटना पर ओला के किसी अफसर ने प्रतिक्रिया नहीं दी है. खबर में जानकारी दी गई है कि दिल्ली के एक बैंक में वाइस प्रेसीडेंट पुरुषोत्तम अपनी 11 साल की बेटी के साथ रक्षाबंधन पर जयपुर के श्यामनगर में रहने वाले अपने भाई के घर आए थे. सोमवार सुबह पुरुषोत्तम ने दिल्ली जाने के लिए ओला कैब बुक कराई थी.

3/5

बिहार के लगभग आधे बच्चे कुपोषण से हो रहे बौने

Interesting News for NRI readers from Patna

पटना: दैनिक जागरण के राष्ट्रीय संस्करण में बुधवार को पहले पन्ने पर छपी एक खबर में दावा किया गया है कि कुपोषण से बिहार के पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चों में से लगभग आधे बौने हो रहे हैं. खबर के मुताबिक राज्य के कुल बच्चों में से 47.3 फीसद कुपोषित हैं. खबर में इस बात का भी दावा किया गया है कि प्रदेश के सभी जिलों में से 23 जिलों में कुपोषण बनी हुई है. सरकार के सभी प्रयास बेमानी साबित हो रहे हैं. खबर में जानकारी दी गई है कि समाज कल्याण विभाग ने राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण (एनएफएचएस) की रिपोर्ट जारी की है. रिपोर्ट के अनुसार बक्सर, गया, नवादा, नालंदा, कैमूर, भोजपुर, सारण, सिवान, वैशाली, मुंगेर, जमुई, भागलपुर, किशनगंज, पूर्णिया, कटिहार, मधेपुरा, सहरसा, सुपौल, अररिया, पूर्वी चंपारण, पश्चिम चंपारण, मुजफ्फरपुर और दरभंगा में सर्वाधिक कुपोषण है.

 

4/5

स्कूल इतना जर्जर कि बल्ली लगाकर रोक रखा है छत को

Interesting News for NRI readers from Surat

सूरत: दैनिक भास्कर के सूरत संस्करण में बुधवार को प्रकाशित एक खबर के माध्यम से यह बताने की कोशिश की गई है कि मनपा संचालित शिक्षण समिति की जर्जर स्कूलों की अनदेखी से छात्रों का जीवन संकट में है. खबर में जानकारी दी गई है कि हाल में ही स्कूल क्रमांक 317 की रिपोर्ट निगेटिव आई है फिर भी बच्चों को वहीं पढ़ाया जा रहा है. खबर में बताया गया है कि स्कूल की हालत ऐसी है कि बल्ली लगाकर छत को संभाला गया है. अगर बल्ली खिसक जाए तो बच्चों की जान जा सकती है. फिर भी मनपा इस स्कूल को कहीं और शिफ्ट नहीं कर रहा है. खबर में यह जानकारी भी दी गई है कि इस वर्ष कुल 6 स्कूलों की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है. इसमें 5 स्कूलों को तो दूसरी स्कूलों में मर्ज कर दिया गया, लेकिन स्कूल क्रमांक 317 स्कूल अभी भी पूर्ववत जगह ही चल रही है.

5/5

बादल सरकार ने भी किया था प्रस्ताव पास, लेकिन फॉलोअप नहीं किया

Interesting News for NRI readers from Ludhiana

लुधियाना: दैनिक जागरण के चंडीगढ़ संस्करण के बुधवार के अंक में प्रकाशित एक खबर में बताया गया है कि पंजाब विधानसभा में सोमवार को एक बार फिर करतारपुर गलियारे को श्रद्धालुओं के लिए खोलने का प्रस्ताव पारित कर दिया गया. खबर में आगे लिखा गया है कि यह पहली बार नहीं हुआ है, इससे पहले भी पंजाब विधानसभा में प्रस्ताव पास हुआ था लेकिन अगर राज्य सरकार ने केंद्र के साथ फालोअप किया होता तो बात बनती. यही नहीं, केंद्र सरकार ने भी पाकिस्तान के न्यौते पर अगर बातचीत का क्रम बढ़ाया होता तो दस साल पहले ही शायद कारिडोर खुल गया होता. खबर में दावा किया गया है कि सरकारों की ढील की वजह से ही आज तक सिख श्रद्धालु करतारपुर साहिब जाकर अपने पहले गुरु गुरुनानक देव जी की बहुमूल्य यादगारी के दर्शन नहीं कर पाए. खबर में जानकारी दी गई है कि लुधियाना के सुखदेव सिंह वालिया ने इस संबंध में पहले पंजाब सरकार से आरटीआई के तहत जानकारी मांगी तो बताया गया कि पंजाब विधानसभा में 2010 में इस बाबत प्रस्ताव पास हुआ था.