जांबाजी की कहानी: 40 दिन की लड़ाई में जवान ने मौत को दी मात, अब सियाचिन में तैनाती

 लेफ्टिनेंट राजशेखर ने अस्पताल में 40 दिन तक मौत से लड़ते हुए जिंदगी की जंग जीतकर आईएमए में वापसी की. 

Jun 12, 2018, 10:48 AM IST

 लेफ्टिनेंट राजशेखर ने अस्पताल में 40 दिन तक मौत से लड़ते हुए जिंदगी की जंग जीतकर आईएमए में वापसी की. 

 

1/4

IMA cadet rajshekhar who defied death, gets first posting at siachen

IMA cadet rajshekhar who defied death, gets first posting at siachen

देहरादून: दो जवानों की जांबाजी की कहानी सुन आप भी गर्व महसूस करेंगे. एक कहानी है तमिलनाडु निवासी लेफ्टिनेंट राजशेखर की तो दूसरी यमुनोत्री चौकी इंचार्ज सब इंस्पेक्टर लोकेंद्र बहुगुणा की. लेफ्टिनेंट राजशेखर ने अस्पताल में 40 दिन तक मौत से लड़ते हुए जिंदगी की जंग जीतकर आईएमए में वापसी की. उन्हें पहली तैनाती दुनिया के सबसे ऊंचे जंगी मौदान सियाचिन में मिली है. राजस्थान पत्रिका की खबर के मुताबिक, राजशेखर जब 10वीं में थे तब उनके पिता की मृत्यु हो गई थी. मां ने सिलाई का काम किया और बड़े भाई ने पढ़ाई छोड़ 300 रुपए की नौकरी की. राजशेखर ने भी पढ़ाई के दौरान पार्ट टाइम नौकरी कर यह मुकाम हासिल किया है. वहीं दूसरी और, बीते मंगलवार को मध्य प्रदेश से चार धाम यात्रा पर गए एक श्रद्धालु को हार्ट अटैक आ गया. यमुनोत्री चौकी इंचार्ज सब इंस्पेक्टर लोकेंद्र बहुगुणा ने श्रद्धालु को पीठ पर लाद कर 2 किलोमीटर पैदल चल अस्पताल पहुंचाया और उसकी जान बचाई. 

 

2/4

Women married to NRI groom ask center to help

Women married to NRI groom ask center to help

नई दिल्ली: एनआरआइ दूल्हों से शादी कर विदेश में अच्छी जिंदगी जीने की तमन्ना लिए महिलाओं का जब सपना टूटा तो उनके हिस्से में केवल धोखा और जिंदगी भर का दर्द आया. दैनिक जागरण की खबर के मुताबिक ऐसी ही कुछ महिलाओं ने केंद्र सरकार से मदद की गुहार लगाई है. एक एनजीओ के बैनर तले विभिन्न राज्यों से आईं पीड़ित महिलाओं ने केंद्र से धोखेबाज पतियों का पासपोर्ट जब्त करने और सख्त सजा देने की मांग की है. उन्होंने अपनी बातें रखने के लिए गृहमंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मिलने का समय भी मांगा है.

 

3/4

Roza iftar held at 100 years old temple in Lucknow

Roza iftar held at 100 years old temple in Lucknow

लखनऊ: लखनऊ के हिंदुओं और मुसलमानों ने मिलकर धर्म निरपेक्षता का नायाब उदाहरण पेश किया है. राजस्थान पत्रिका की खबर के मुताबिक यहां करीब हजार साल पुराने मशहूर मानकामेश्वर मंदिर में रोजा इफ्तार पार्टी का आयोजन किया गया. यहां पहले इबादत हुई फिर प्रार्थना स्थल पर इफ्तार पार्टी. यहां 500 से अधिक मुस्लिमों और मौलवियों के बीच रोजा इफ्तार और आरती का नजारा देखने लायक था. इस दौरान मंदिर के महंत दिव्यागिरी, मंदिर के पुजारी और मौलाना साथ बैठे.      

 

4/4

Punjab constable's made theft gang, arrested

Punjab constable's made theft gang, arrested

पटियाला: पंजाब के पटियाला में एक कॉन्स्टेबल द्वारा लुटेला गिरोह चलाने का मामला सामने आया है. दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक सोमवार को दोपहर 3 बजे रणजीत नगर के एक घर में सास-बहू को दो चोरों ने लूटने की कोशिश की, लेकिन महिला के शोर मचाने पर मोहल्ले के लोगों ने उन्हें पकड़ लिया. इनमें से एक पंजाब पुलिस का मुलाजिम निकला. उसकी जेब से पंजाब पुलिस का आईडी कार्ड मिला. आईडी कार्ड से आरोपी की पहचान हेड कांस्टेबल जोगिंदर सिंह के तौर पर हुई है. जोगिंदर सिंह ने बताया कि वह त्रिपड़ी थाने के सीआईए स्टाफ में है. उनका पांच लोगों का ग्रुप है और वह लूटपाट करने आया था.