स्टेशन पर भूकंप का सपना देखा और भूकंप-भूकंप चिल्लाने लगा, मची भगदड़ में 100 घायल

बिहार शरीफ रेलवे स्टेशन पर शनिवार की रात भूकंप की अफवाह से मची भगदड़ में सौ से अधिक छात्र जख्मी हो गए. छात्र रविवार को आयोजित होने वाली आईटीआई परीक्षा में शामिल होने आए थे. 

May 28, 2018, 13:25 PM IST

बिहार शरीफ रेलवे स्टेशन पर शनिवार की रात भूकंप की अफवाह से मची भगदड़ में सौ से अधिक छात्र जख्मी हो गए. छात्र रविवार को आयोजित होने वाली आईटीआई परीक्षा में शामिल होने आए थे. 

1/5

Students dream of earthquake causes stamped on railways station, 100 injured

Students dream of earthquake causes stamped on railways station, 100 injured

बिहार शरीफ: रेलवे स्टेशन पर शनिवार की रात भूकंप की अफवाह से मची भगदड़ में सौ से अधिक छात्र जख्मी हो गए. छात्र रविवार को आयोजित होने वाली आईटीआई परीक्षा में शामिल होने आए थे. दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक, होटल और लॉजों में कमरा नहीं मिलने के कारण करीब 300 छात्र प्लेटफॉर्म और स्टेशन परिसर में सो रहे थे. उसी दौरान रात करीब दो बजे एक छात्र ने भूकंप का सपना देखा. डरकर उसकी नींद खुल गई और वह भूकंप आने का शोर मचाने लगा. रात में तेज हवा से यात्री शेड का टूटा करकट झूल रहा था. भूकंप के डर से सभी छात्र उठकर भागने लगे. सभी छात्र सुपौल, मधुबनी, सहरसा, दरभंगा, मधेपुरा से आए थे.

 

2/5

kid wanted to have momos, father throws him in agra canal

kid wanted to have momos, father throws him in agra canal

नई दिल्ली: छह साल का मासूम अयान मोमोज खाने की जिद कर रहा था, लेकिन उसे अंदाजा नहीं था कि इसकी कीमत उसे जान देकर चुकानी पड़ेगी. घटना मदनपुर खादर इलाके की है. द इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के मुताबिक, शनिवार को 6 साल का अयान मोमोज खाने के लिए जिद करने लगा. उसके 31 वर्षीय पिता संजय अल्वी ने गुस्से में उसको उठाकर आगरा नहर में फेंक दिया. बताया जा रहा है कि घटना के वक्त संजय नशे में था. लोगों ने उसे बच्चे को आगरा नहर में फेंकते देखा तो पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया. गोताखोरों और दमकल कर्मियों ने शनिवार देर रात बच्चे को ढूंढने के लिए अभियान चलाया लेकिन उसका पता नहीं चल सका. रविवार को बच्चे की लाश बरामद हुई. पुलिस ने संजय के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है.  

 

3/5

2 kids died after eating poisons food

2 kids died after eating poisons food

लुधियाना: गांव सुनेत में जहरीला खाना खाने से दो मासूम बच्चों की मौत हो गई. जबकि मां और दो बेटे अभी भी दयानंद मेडिकल कालेज अस्पताल में दाखिल हैं. इनकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है. दैनिक जागरण की खबर के मुताबिक, अरुण कुमार उर्फ उस्ताद गांव सुनेत में पत्नी पिंकू और चार बेटों के साथ वेहड़े में रहता है. वह मूल रूप से बिहार के छपरा जिले का रहने वाला है. अरुण के पिता राम चंद्र के हवाले से अखबार ने लिखा है कि शुक्रवार की रात को पूरा परिवार खाने में बनी खिचड़ी खाकर सोया था. शनिवार सुबह जब उठे तो सभी को उल्टी और दस्त होने लगा. सभी को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया. इलाज के दौरान दो बच्चों की मौत हो गई. 

 

4/5

woman arrested for stealing newborn from hospital

woman arrested for stealing newborn from hospital

नई दिल्ली: बाड़ा हिन्दू राव अस्पताल से इलाज के बहाने नवजात बच्ची को अगवा करने वाली महिला को पुलिस ने 24 घंटे के भीतर रविवार को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने बच्ची को उसके परिजनों को सौंप दिया. हिंदुस्तान की खबर के मुताबिक, आरोपी महिला फिरदौस ने पूछताछ में बताया कि औलाद नहीं होने के कारण उसने बच्ची का अपहरण किया था. जांच अधिकारी के मुताबिक शनिवार सुबह बाड़ा हिंदू राव अस्पताल से चार महीने की बच्ची के अपहरण की खबर आई थी. जांच में पुलिस को अस्पताल की सीसीटीवी फुटेज से आरोपी महिला की तस्वीर मिल गई. इसके अलावा पुलिस के पास आरोपी महिला द्वारा अस्पताल में लिखवाया गया उसके घर का अधूरा पता था. पूरे इलाके की छानबीन कर पुलिस ने महिला को ढूंढ निकाला. 

 

5/5

elderly couple murdered in rohtak haryana

elderly couple murdered in rohtak haryana

रोहतक: गांव मुरादपुर टेकना में शनिवार देर रात बुजुर्ग दंपति जगदीश (70) और उनकी पत्नी शकुंतला (68) की लाठी से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. अमर उजाला की खबर के मुताबिक, दंपति की हत्या का कारण चार महीने पहले घर के बाहर बहते नाली के पानी को लेकर हुए विवाद को बताया गया. खबर के मुताबिक इस विवाद में पंचायत ने आरोपी पक्ष के एक व्यक्ति को थप्पड़ लगवाए थे. इसी रंजिश में वारदात को अंजाम दिया गया. पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है.