close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भूखे रहने को मजबूर हुए पाकिस्तान के लोग, 120 रुपये लीटर बिक रहा दूध, तो हजार के पार पहुंचा मटन

भारत के पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की हालत दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है. आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान में लोग खाने के लिए तरस रहे हैं. 

आशु दास | May 18, 2019, 11:32 AM IST

पाकिस्तान की मुद्रा डॉलर के मुकाबले अपने सबसे निचले स्तर पर आ गई है. शुक्रवार को पाकिस्तानी रुपया डॉलर के मुकाबले 148 रुपये प्रति डॉलर पर पहुंच गया. इससे पहले रुपया इसी सप्ताह 141 प्रति डॉलर पर आया था. अंतरराष्ट्रीय बाजार में पाकिस्तानी रुपया में गिरावट होने के बाद एक बार फिर देश में मंहगाई आसमान छूने लगी है. 

1/4

400 रुपये किलो बिक रहे सेब

Apple worth 400 bucks

पाकिस्तान में महंगाई का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वहां पर एक दर्जन संतरे 360 रुपये तो वहीं नीबू और सेब 400 रुपये किलो बिक रहे हैं. पाकिस्तान में उमर ओ कुरैशी नाम के शख्स ने फलों और सब्जियों की कीमत ट्वीट की. 

2/4

ट्वीट कर बताए सब्जियों और फलों के दाम

Tweet and tell the prices of vegetables and fruits

कुरैशी के मुताबिक, पाकिस्तान में अब फल और सब्जी खाना आम लोग के बस में नहीं. वहां 360 रुपये दर्जन संतरे, 150 रुपये दर्जन केले, नींबू और सेब 400 रुपये किलोग्राम बिक रहे हैं. वहीं मटन का भाव 1100 रुपये किलो तो चिकन 320 रुपये किलो पहुंच गया है, जबकि एक लीटर दूध के लिए 120 रुपये चुकाने पड़ रहे हैं.

 

Oranges = Rs 360 per dozen Bananas = Rs 150 per dozen Lemons = Rs 400 per kilo Apples = Rs 400 per kilo Mutton = Rs 1,100 per kilo Chicken = Rs 320 per kilo Milk (gowalay ka) = Rs 120 per kilo

— omar r quraishi (@omar_quraishi) May 16, 2019

3/4

सोशल मीडिया पर हुए ट्रोल

Trolls on social media

कुरेशी के इस ट्वीट को लेकर जमकर ट्रोल कर रहे हैं. पाजीटिव मीडिया कम्युनिकेशन के सीईओ कुरैशी के ट्विटर पर दो लाख से अधिक फॉलोअर हैं. आईएमएफ के साथ शुरुआती करार में पाकिस्तान ने बाजार आधारित विनिमय दर का पालन करने की सहमति दी थी. पाकिस्तानी रुपये की इस गिरावट को आईएमएफ की बाजार आधारित विनिमय दर की शर्त का ही नतीजा माना जा रहा है. फिलहाल पाकिस्तान का केंद्रीय बैंक विनिमय दरों को नियंत्रित करता है. 

 

4/4

उठाए जा रहे हैं विशेष कदम

Special steps are being taken

पाकिस्तान में चीजों के दाम बढ़ने के कारण आम लोगों के जीवन पर इसका गहरा असर पड़ रहा है. लोगों को मंहगाई से राहत दिलाने के लिए इमरान खान की सरकार पाकिस्तानी नागरिकों द्वारा विदेश यात्रा के वक्त साथ ले जाने वाली मुद्रा की वर्तमान सीमा 10,000 डॉलर से घटाकर 3,000 डॉलर करने पर विचार कर रही है.  सरकार ने उन कंपनियों के खिलाफ भी कार्रवाई का आदेश दिया है, जो महंगे भाव पर डॉलर की बिक्री कर रही हैं.