close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PHOTO: आजादी के 72 साल बाद भी नहीं पहुंची गांव में बिजली लेकिन पहुंच गया BILL

बलरामपुर जिले का सनावल गांव के पतेरी पारा जहां करीब 40 घर ऐसे है जहां अभी तक बिजली नहीं पहुंच पाई है.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Sep 20, 2019, 10:02 AM IST

नई दिल्ली: बलरामपुर जिले का एक ऐसा गांव जहां आजादी के 72 साल बाद भी बिजली नहीं पहुंच पाई है लेकिन बिजली का बिल पहुंच गया है. ग्रामीण लालटेन और ढिबरी के सहारे ही जीवन यापन करने पर मजबूर है. ये गांव भाजपा शासन काल में  मंत्री रहे और वर्तमान में राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम का है, वहीं जिले के कलेक्टर गांव में जल्द ही बिजली व्यवस्था की बात कह रहे हैं. बलरामपुर जिले का सनावल गांव के पतेरी पारा जहां करीब 40 घर ऐसे है जहां अभी तक बिजली नहीं पहुंच पाई है. गांव की बुजुर्ग महिलाओं का कहना है कि हम लोग अभी तक लाइट नहीं देखे हैं और रात में लालटेन और ढिबरी के सहारे ही खाना बनाते हैं जिससे उनको काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा. महिलाओं का कहना है लालटेन और ढिबरी जलाने के लिए मिट्टी का तेल भी पर्याप्त मात्रा में नहीं मिल पाता है. 

 

1/5

राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम

electricity connection

पतेरी पारा के ग्रामीणों का कहना है कि यहां से राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम का घर महज एक किलोमीटर की दूरी पर है लेकिन बिजली के लिए आज तक सिर्फ आश्वासन ही मिल पाया है. 

2/5

घरों में बिजली तो नहीं पहुंची

electricity connection

अब प्रदेश में नई सरकार बनी है तो घरों में बिजली तो नहीं पहुंची लेकिन बिजली का बिल पहुंच गया है. सनावल गांव के सरपंच ने बताया कि गांव में बिजली नहीं होने के कारण स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को लालटेन और ढिबरी में ही अपनी पढ़ाई करनी पड़ती है. 

3/5

बच्चों को लालटेन में ही अपनी पढ़ाई करनी पड़ती है

electricity connection

ग्रामीणों को अंधेरे में ही गुजर बसर करना पड़ रहा है. विभाग की लापरवाही से गांव में बिजली सप्लाई के बिना ही बिजली का बिल भेज दिया गया है. वहीं इस मामले में क्षेत्रीय विधायक ने रामविचार नेताम के ऊपर आरोप लगा रहे हैं. उनका कहना है कि रामविचार नेताम ने अधिकारियों के ऊपर दवाव बनाकर बिजली के सारे खंबे अपने मोहल्ले में लगवा दिए थे. 

4/5

रामविचार नेताम के ऊपर आरोप

electricity connection

इस मामले में जिले के कलेक्टर ने कहा कि जिले में जहां भी बिजली नहीं पहुंच पाई हैं, वहां का सर्वे करवा लिया गया. 

5/5

बिजली के बिल आने पर कलेक्टर ने इसको विभाग की चूक बताया

electricity connection

बरसात के बाद सभी जगह बिजली लगने का काम शुरू कर दिया जाएगा. सनावल में बिना बिजली के बिल आने पर कलेक्टर ने इसको विभाग की चूक बताते हुए इसको ठीक करने की बात कह रहे हैं.