PHOTOS: नवरात्र में नहीं रख पा रहे हैं व्रत तो इस विधि से कीजिए मां दुर्गा की उपासना...

ऐसी मान्यता है कि आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से माता दुर्गा नौ दिनों के लिए पृथ्वी लोक में वास करती हैं, इसलिए शारदीय नवरात्रि का महत्व बढ़ जाता है. इन दिनों में यदि विधि विधान से माता की आराधना की जाए, तो वह प्रसन्न होंगी और सभी मनोकामनाएं पूरी करेंगी.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Oct 01, 2019, 19:50 PM IST

मां दुर्गा की आराधना को समर्पित नवरात्रि के सभी दिन प्रात: और संध्या के समय भगवती दुर्गा की पूजा करनी चाहिए. अगर अब तक नहीं की है तो अब शुरू कर दीजिए..

1/6

मां दुर्गा की आराधना को समर्पित नवरात्रि

durga

नई दिल्ली, आचार्य विनोद: आश्विन शुक्ल पक्ष की शारदीय नवरात्रि की शुरुआत 29 सितंबर से शुरू है. शरद नवरात्र  (Sharad Navratri) हिन्‍दुओं के प्रमुख त्‍योहारों में से एक हैं जिसे दुर्गा पूजा (Durga Puja) के नाम से भी जाना जाता है. नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा के सभी नौ रूपों की पूजा की जाती है. नवरात्रि के नौ दिनों को बेहद पवित्र माना जाता है. इस दौरान लोग देवी के नौ रूपों की आराधना कर उनसे आशीर्वाद मांगते हैं. मां दुर्गा की आराधना को समर्पित नवरात्रि के सभी दिन प्रात: और संध्या के समय भगवती दुर्गा की पूजा करनी चाहिए. अगर अब तक नहीं की है तो अब शुरु कर दीजिए... नवरात्र में अगर व्रत नहीं भी रख पा रहे तो श्रद्धानुसार अष्टमी या नवमी के दिन हवन और कुमारी पूजा कर भगवती को प्रसन्न करना चाहिए.  

2/6

घर के मंदिर में माता की तस्वीर के सामने घी का दिया ज़रुर जलाएं

navratr fast

प्रतिदिन सुबह और संध्याकाल में घर के मंदिर में माता की तस्वीर के सामने घी का दिया ज़रुर जलाएं .अगर घर का स्वामी घर के बाहर है तो उनकी गैरहाज़िरी में ये काम घर का कोई भी सदस्य कर सकता है .

3/6

दुर्गा सप्तशती या दुर्गा चालीसा का पाठ कीजिए

fast

कुछ देर के लिए मां की अराधना कीजिए और सुबह शाम संभव हो तो दुर्गा सप्तशती या दुर्गा चालीसा का पाठ कीजिए और दुर्गा आरती कीजिए . नवमी तक घर में प्याज-लहसुन का इस्तेमाल बंद कर दीजिए और तीनों वक्त खुद खाने से पहले मां दुर्गा को भोजन का भोग लगाइए . 

4/6

माता दुर्गा की नई मूर्ति या तस्वीर घर के मंदिर में लगा सकते हैं

Navratri 2019, Navratri

माता दुर्गा की नई मूर्ति या तस्वीर घर के मंदिर में लगा सकते हैं और तस्वीर को लाल चुनरी भी ओढाइए . 
नंगे फर्श पर बैठकर पूजा मत कीजिए, एक उपयुक्त आसन, दरी या कोई चादर ज़रुर बिछाएं . 

5/6

नवरात्र में हवन और कन्या पूजन अवश्य करना चाहिए.

 2019, Navratri 2019,  Navratri,

नवरात्र में हवन और कन्या पूजन अवश्य करना चाहिए. नारदपुराण के अनुसार हवन और कन्या पूजन के बिना नवरात्र की पूजा अधूरी मानी जाती है. साथ ही नवरात्र में मां दुर्गा की पूजा के लिए लाल रंग के फूलों व रंग का अत्यधिक प्रयोग करना चाहिए. 

6/6

आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से माता दुर्गा नौ दिनों के लिए पृथ्वी लोक में वास करती हैं

Navratri 2019

ऐसी मान्यता है कि आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से माता दुर्गा नौ दिनों के लिए पृथ्वी लोक में वास करती हैं, इसलिए शारदीय नवरात्रि का महत्व बढ़ जाता है. इन दिनों में यदि विधि विधान से माता की आराधना की जाए, तो वह प्रसन्न होंगी और सभी मनोकामनाएं पूरी करेंगी. नवरात्रि में माता शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा देवी, कुष्मांडा देवी, स्कंदमाता, माता कात्यायनी, मां कालरात्रि , महागौरी और  माता सिद्धिदात्री  की पूजा की जाती है.