close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

25 वर्षों से पीएम मोदी को राखी बांधती हैं ये पाकिस्तानी महिला, इस बार भी पहुंचीं दिल्ली

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 25 वर्षों से राखी बांधने वाली पाकिस्तानी बहन कमर जहां इस साल भी पीएम को राखी बांधने के लिए दिल्ली पहुंच चुकी हैं. वह 30 वर्षों से गुजरात के अहमदाबाद में रहती हैं.   

हितेन विठलानी | Aug 14, 2019, 15:55 PM IST

जी मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि इस साल स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन दोनों एक ही दिन पर हैं. एक तरफ देश आजादी का जश्न मना रहा है वहीं दूसरी तरफ बहनें अपने भाइयों की कलाई पर राखी बांध सुरक्षा का वादा ले रही हैं. उन्होंने कहा कि कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के पीएम के फैसले से बहुतों को आजादी मिली है.

 

1/5

PM modi's sister reaches delhi

25 वर्षों से बांधती हैं राखी

अपने 25 वर्षों की यादों को ताजा करते हुए उन्होंने कहा कि मोदी जी जब संघ में प्रचारक थे तब से मैं उन्हें जानती हूं. वो एक ऐसे व्यक्ति हैं जो हमेशा लोगों का भला ही चाहते हैं. 

 

2/5

Qamar shaikh remembers modi

मोदी जी से लेती हैं सलाह

मोदी से बातचीत के पलों को याद करते हुए उन्होंने कहा कि मेरे पति मोहसिन शेख पेशे से पेंटर हैं. एक बहन होने के नाते मैं हमेशा मोदी जी से सलाह लेती हूं कि पेंटिंग का एग्जिबिशन कहां लगाएं. उन्होंने मेरे पति को मौजूदा टॉपिक्स पर पेंटिंग बनाने की भी सलाह दी. जिसके बाद मेरे पति ने गांधीजी से लेकर टेररिज्म पर पेंटिंग. उनके इन पेंटिंग की काफी तारीफ हुई थी.   

3/5

Qamar shaikh shares memory of PM modi

रिश्तों की अहमियत समझते हैं मोदी जी

उन्होंने कहा कि मोदी जी को रिश्ते निभाना आता है. एक बार मैं रक्षाबंधन पर उन्हें राखी बांधने नहीं जा सकी थी. कुछ दिनों बाद कहीं मुलाकात हुई तो उन्होंने पूछा कि बहन इस साल राखी बांधने क्यों नहीं आई. ये बात मेरे जहन में हमेशा रहेगी. 

 

4/5

She prays for modi's good health

पीएम मोदी के लिए मांगी दुआ

मैं यही दुआ करती हूं कि वह हमेशा स्वस्थ रहें और लोगों की भलाई के लिए ऐसे ही काम करते रहें. उन्होंने कहा कि उनसे मिलने के बाद एक अलग ही जोश आ जाता है. 

 

5/5

Qamar shaikh speeks about article 370

धारा 370 के बारे में क्या बोलीं

उन्होंने कहा कि धारा 370 रद्द करने का फैसला सिर्फ कश्मीरी भाई-बहनों के लिए नहीं बल्कि पूरे देश के हित का फैसला है. इस फैसले से कश्मीर फिर से जन्नत बनेगा और वहां का विकास होगा.