close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PHOTOS: इस जेल में कैदी पेश कर रहे मिशाल, किताबों के साथ खेती में लगा रहे मन

सामान्य तौर पर जेल का नाम आते ही लोगों के पसीने छूटने लगते हैं और एक डरावना चित्र सामने आ जाता है.

निर्मल त्रिवेदी | May 06, 2019, 21:18 PM IST

जामनगर जिला जेल के सुपरिटेंडेंट वीरभद्र सिंह गोहिल की सकारात्मक सोच की वजह से जेल में स्वरोजगार के लिए शिक्षा ,मनोरंजन के कार्यक्रम और खेती सहित अन्य व्यवसाय को काफी उत्साह के साथ सिखाया जाता है. 

1/4

कैदियों द्वारा गुलाब के फूलों और सब्जियों की खेती की जाती है

Jamnagar, prisoner

जामनगर: जामनगर जिले की जेल में जेल प्रशासन द्वारा कैदियों में सुधार लाने के लिए केदियो को खेती का काम सिखाया जाता है. साथ ही जेल के अंदर ही कैदियों द्वारा गुलाब के फूलों और सब्जियों की खेती की जाती है. वही इन कैदियों को खेती के बाद पठन-पाठन सिखाया जाता है. रोजगार के लिए हर तरह की तालीम सहित एक सामान्य नागरिक बनने की सभी बातें जेल सुपरिटेंडेंट वीरभद्र गोहिल के मार्गदर्शन में दी जा रही हैं. 

2/4

कैदियों को सुधारने में अधिक ध्यान दिया जा रहा है

farming

सामान्य तौर पर जेल का नाम आते ही लोगों के पसीने छूटने लगते हैं और एक डरावना चित्र सामने आ जाता है. लेकिन अब कैदियों को सुधारने के लिए आयोजित कार्यक्रमों के तहत उन्हें सुधारने में अधिक ध्यान दिया जाता है. 

3/4

जामनगर जेल ने एक अलग ही मुहिम शुरू की है

prisoner

कोशिश होती है कि कैदी जेल से छूटने के बाद समाज से अलग थलग न हो जाये और फिर से अपना सामान्य जीवन जी सके. इन तमामों बातों को ध्यान में रखते हुए जामनगर जेल ने एक अलग ही मुहिम शुरू की है. जामनगर जिला जेल में कैदियों को खेती के साथ ही शिक्षा पर भी जोर दिया जाता है.

4/4

कैदियों के जीवन में बहुत ही सकरात्मक प्रभाव देखने को मिल रहे हैं

Jamnagar

कैदियों को जेल मेंगुलाब और सब्जी की खेती सिखाई जाती है. जामनगर जिला जेल के सुपरिटेंडेंट वीरभद्र सिंह गोहिल की सकारात्मक सोच की वजह से जेल में स्वरोजगार के लिए शिक्षा ,मनोरंजन के कार्यक्रम और खेती सहित अन्य व्यवसाय को काफी उत्साह के साथ सिखाया जाता है. जिससे कैदियों के जीवन में बहुत ही सकरात्मक प्रभाव देखने को मिल रहे हैं.