डेंगू के डंक से बचने के लिए आपकी रसोई में भी हैं ये 7 रामबाण उपाय

राजधानी दिल्ली में इस सीजन में डेंगू के अब तक 340 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं.

शिखा जोशी | Sep 25, 2018, 11:26 AM IST

नई दिल्ली: बारिश के बाद डेंगू और चिकनगुनिया एक बार फिर तेजी से फैल रहा है. डेंगू वायरल इंफेक्शन है. इस रोग में रोगी को कोई भी एंटीबॉयटिक देने की जरूरत नहीं है. डेंगू के दौरान रोगी के जोड़ों में तेज दर्द के साथ ही सिर में भी दर्द होता है. डेंगू बुखार में प्लेटलेट्स का स्तर बहुत तेजी से नीचे गिरता है, जिसके कारण शरीर में कमजोरी हो जाती है और जोड़ों में दर्द कई महीनों तक बना रहता है. यह बीमारी बड़ों के मुकाबले बच्चों में ज्यादा तेजी से फैलती है. राजधानी दिल्ली में इस सीजन में डेंगू के अब तक 340 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. निगम की तरफ से जारी एक रिर्पोट के मुताबिक, इस सीजन में 22 सितंबर तक मलेरिया के 256 और चिकनगुनिया के 68 मामले दर्ज किए गए हैं. 

1/8

दवाइयों के साथ घरेलू नुस्खे में हैं कारगर

Home remedies are effective

अगर किसी को डेंगू हो जाए, तो सबसे ज्यादा दिक्कत प्लेटलेट्स को बढ़ाने को लेकर होती है, क्योंकि कुछ दिनों के बुखार में शरीर से प्लेटलेट्स इतनी ज्यादा मात्रा में कम हो जाती हैं. फिजीशियन डॉ रमेश त्रिपाठी भी मानते हैं कि दवाइयों के साथ कुछ घरेलू नुस्खे भी कम हो चुकी प्लेटलेट्स को भी तुरंत बढ़ाने की क्षमता रखते हैं.

2/8

बकरी का दूध

goat milk

बकरी का दूध जो बहुत कम हो चुकी प्लेटलेट्स को भी तुरंत बढ़ाने की क्षमता रखता है. डॉक्टर बताते हैं कि एक कप बकरी के दूध से ही प्लेटलेट्स बढ़ने लगती हैं. लेकिन अगर बकरी का दूध आसानी से न मिले तो आपके घर या बगीचे में मौजूद कुछ हर्ब्स के जरिए भी इस बीमारी से राहत और निजात पाई जा सकती है.

3/8

रामबाण हैं पपीते की पत्तियां

Papaya leaves

पपीते की पत्तियां, डेंगू के बुखार के लिए सबसे असरकारी दवा मानी जाती हैं. पपीते की पत्तियों में मौजूद पपेन एंजाइम शरीर की पाचन शक्ति को ठीक करता है. डेंगू के उपचार के लिए पपीते की पत्तियों का जूस निकाल कर रोगी को पिलाने से प्लेटलेट्स की मात्रा तेजी से बढ़ती है.

4/8

कारगर हैं तुलसी के पत्ते

tulsi leafs

तुलसी के पत्तों को गरम पानी में उबालकर छानकर, रोगी को पीने को दें. तुलसी की यह चाय डेंगू रोगी को बहुत आराम पहुंचाती है. यह चाय दिनभर में तीन से चार बार पी जा सकती है. तुलसी के पत्तों को उबालकर शहद के साथ पिएं, इससे भी इम्‍यून सिस्‍टम बेहतर बनता है.

5/8

वायरस पर लगाम लगाए मेथी के पत्ते

Fenugreek leaves stops virus

डेंगू के बुखार में मेथी के पत्तों को पानी में उबालकर हर्बल चाय के रूप में इसका प्रयोग किया जा सकता है. मेथी से शरीर के विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं, जिससे डेंगू के वायरस भी खत्म हो जाते हैं.

 

6/8

फायदेमंद है का नारियल पानी

Coconut water is beneficial

अगर आपको या फिर घर में किसी को भी डेंगू का बुखार है तो ऐसे में नारियल पानी पीना बहुत फायदेमंद रहता है. इसमें एलेक्‍ट्रोलाइट्स, मिनरल और अन्‍य जरुरी पोषक तत्‍व होते हैं जो शरीर को मजबूत बनाते हैं.

7/8

बॉडी को इंफेक्शन को बचाए गिलोय

Gilio to save the body to the infection

गिलोय का आयुर्वेद में बहुत महत्व है. यह मेटाबॉलिक रेट बढ़ाने के साथ ही प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत रखने और बॉडी को इंफेक्शन से बचाने में मदद करती है. इसके तनों को उबालकर हर्बल ड्रिंक की तरह सर्व किया जा सकता है. इसमें तुलसी के पत्ते भी डाले जा सकते हैं.

 

8/8

एंटीबायोटिक है हल्दी

turmeric is Antibiotic

खाने में हल्दी का अधिकाधिक प्रयोग करें. इसे सुबह आधा चम्मच पानी के साथ या रात को दूध के साथ लिया जा सकता है. अगर बुखार से पीड़ित रोगी को जुकाम हो तो दूध का प्रयोग न करें.