close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुलमर्ग में हिमपात, कई इलाकों को भारी बारिश, सैलानी उठा रहे हैं लुत्फ

पर्यटन स्थल गुलमर्ग के अलावा द्रास, कारगिल, जोजिला, झंस्कार और उत्तरी कश्मीर के गुरेज इलाके में जून महीने में बर्फबारी अपने आप में रिकार्ड माना जा रहा है. 

सैयद खालिद हुसैन | Jun 12, 2019, 16:21 PM IST

जम्मू: भारत के मैदानी इलाकों में जहां, लोग गर्मी से परेशान हैं. वहीं, जम्मू-कश्मीर के कई पहाड़ी इलाकों में बुधवार (12 जून) तड़के हुई बारिश से लोगों को प्रचंड गर्मी से राहत मिली. छुट्टियां बिताने घाटी आए सैलानियों को भी ताजा हिमपात देखने का मौका मिला. पर्यटन स्थल गुलमर्ग के अलावा द्रास, कारगिल, जोजिला, झंस्कार और उत्तरी कश्मीर के गुरेज इलाके में जून महीने में बर्फबारी अपने आप में रिकार्ड माना जा रहा है. 

1/3

यहां-यहां हुई बर्फबारी

Snowfall here

पर्यटन स्थलों पर भी लोग इस बर्फबारी का खूब आनंद ले रहे हैं. मौसम विभाग के अनुसार श्रीनगर में 39.2 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई, जिससे कई नदी-नाले उफान पर हैं. बालटाल, सोनमर्ग, गुलमर्ग सहित कई हिल स्टेशनों में बर्फबारी हुई, जबकि पिछले 24 घंटों में भारी बारिश के कारण घाटी में निचले कई इलाकों में पानी भर गया. 

 

2/3

बर्फबारी के कारण यातायात ठप्प

Traffic jam due to snowfall

उत्तरी कश्मीर के गांदरबल जिले के बालटाल और सोनमर्ग इलाकों में बुधवार को जून के महीने में ताजा बर्फबारी हुई. बर्फबारी के कारण श्रीनगर, लेह, मुग़ल रोड और श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग यातायात बाधित हो गया है. 

3/3

दशकों बाद जून में हुई बर्फबारी

Snowfall in june after many years

मौसम विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक, जून में बर्फबारी दशकों बाद हुई है. बर्फ़बारी और तापमान में भारी गिरावट ने कश्मीर में पर्यटन कारोबार से जुड़े लोगों के चेहरों को मुस्कान से बर दिया है. देशभर में पड़ रही कड़के की गर्मी के कारण पर्यटक कश्मीर का रुख करने लगे हैं. होटल मालिकों को उम्मीद है कि कश्मीर में पटरी से उतरे पर्यटन को नया जीवन मिलेगा.