close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सोशल मीडिया पर लोगों ने उतारा ICC पर गुस्सा, धोनी से कहा- 'बलिदान बैज वाले ग्लव्स पहनकर ही खेलना'

भारतीय क्रिकेट फैंस खुलकर धोनी के समर्थन में उतर आए हैं. दरअसल, प्रादेशिक सेना में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक के अधिकारी धोनी वर्ल्ड कप में साउथ अफ्रीका के खिलाफ मैच में 'बलिदान बैज' वाला ग्लव्स पहनकर उतरे थे.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Jun 07, 2019, 13:08 PM IST

नई दिल्ली: आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप (Cricket World Cup 2019) में महेंद्र सिंह धोनी के ग्‍लव्‍स पर बने 'बलिदान बैज' पर मचे बवाल के बीच बीसीसीआई के प्रशासकों की कमेटी (सीओए) इस मामले में फैसला लेगी. आईसीसी के इस फरमान के बाद सोशल मीडिया पर भारतीय क्रिकेट फैंस बेहद गुस्से में हैं. भारतीय क्रिकेट फैंस खुलकर धोनी के समर्थन में उतर आए हैं. दरअसल, प्रादेशिक सेना में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक के अधिकारी धोनी वर्ल्ड कप में साउथ अफ्रीका के खिलाफ मैच में 'बलिदान बैज' वाला ग्लव्स पहनकर उतरे थे.

 

1/7

फैंस रहे हैं धोनी की तारीफ

Praise of Dhoni

धोनी के इस कदम से क्रिकेट फैंस ने उनकी जमकर प्रशंसा की थी. लेकिन आईसीसी को धोनी का कदम पसंद नहीं आया. ICC ने इसे अपवाद बताते हुए कहा कि यह उसके नियमों के खिलाफ है. इतना ही नहीं पूर्व भारतीय कप्तान पर आईसीसी के नियमों का उल्लंघन करने पर जुर्माना भी लग सकता है.

2/7

ICC से नाराज भारतीय क्रिकेट फैंस

Indian cricket fans furious with ICC

आईसीसी के निर्देश से नाराज भारतीय क्रिकेट फैंस ने सोशल मीडिया पर जमकर अपनी भड़ास निकाली. कई फैंस तो ऐसे भी हैं जो धोनी को ग्‍लव्‍स न उतराने का सलाह दे रहे हैं और धोनी को वर्ल्ड कप से बायकॉट करने की सलाह दे रहे हैंय  

3/7

सोशल मीडिया पर दे रहे हैं सलाह

Advice on social media

फैंस सोशल मीडिया पर समझा रहे हैं कि क्यों महेंद्र सिंह धोनी को ये ग्‍लव्‍स मिलने चाहिए. लोगों का कहना है कि धोनी भारतीय सेना के प्रति उनके प्यार का इजहार करने की इजाजत मिलनी चाहिए.

4/7

जब पाकिस्तान ने क्रिकेट मैदान में अदा की थी नमाज

When the Pakistan had offer namaz in the cricket field

सोशल मीडिया पर कुछ लोग पाकिस्तानी टीम की तस्वीर साझा कर रहे हैं, जिसमें वह मैदान पर ही नमाज़ पढ़ रहे हैं. ऐसे में लोग सवाल कर रहे हैं अगर कोई पूरी टीम मैदान पर अपने धार्मिक भावनाओं को प्रकट कर सकती है तो फिर सिर्फ ग्लव्स पर बैज लगाने से क्या दिक्कत है. जबकि धोनी खुद लेफ्टिनेंट कर्नल हैं.

5/7

धोनी ने पैरा स्पेशल फोर्सेज को दिया सम्मान

Dhoni honors Para Special Forces

आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में धोनी ने अनोखे अंदाज में पैरा स्पेशल फोर्सेज को सम्मान दिया. मैच के दौरान धोनी के ग्लव्स पर 'बलिदान बैज' का चिह्न दिखाई दिया.

6/7

तब दिखा था बलिदान बैज

Then showed the Sacrifice Badge

37 साल के धोनी के ग्लव्स पर 'बलिदान बैज' का चिह्न उस समय दिखाई दिया जब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच के 40वें ओवर के दौरान युजवेंद्र चहल की गेंद पर दक्षिणी अफ्रीकी बल्लेबाज एंडिले फेहलुकवायो को स्टंप्स आउट किया था.

 

7/7

ये है ICC का नियम

This is the rule of the ICC

दरअसल, ICC का नियम कहता है कि कोई भी खिलाड़ी अपनी ड्रेस पर ऐसा कुछ नहीं इस्तेमाल कर सकता है. जिससे कोई धार्मिक, राजनीतिक या नस्लीय संदेश जाए या फिर किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचे. हालांकि, एक तर्क ये भी दिया जा रहा है कि आर्मी के बैज से किसी को क्या ही ठेस पहुंच सकती है.