close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PHOTOS: श्रीनगर में बरपा मौसम का कहर, 11 साल बाद सर्दी ने तोड़ा रिकॉर्ड

श्रीनगर में दिसंबर के महीने में अब तक का सबसे कम तापमान 13 दिसंबर 1934 को शून्य से 12.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया था. 

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Dec 25, 2018, 10:40 AM IST

श्रीनगर, (खालिद हुसैन): जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में रविवार की रात तापमान 11 साल में सबसे कम दर्ज किया गया. यहां न्यूनतम तापमान शून्य से 6.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया जिससे सोमवार को डल झील और रिहायशी इलाकों में जल आपूर्ति के पाइपों में पानी जम गया. श्रीनगर में दिसंबर के महीने में अब तक का सबसे कम तापमान 13 दिसंबर 1934 को शून्य से 12.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया था. 

1/5

2007 में बना था मौसम का रिकॉर्ड

record was created in 2007

मौसम विज्ञान विभाग के एक अधिकारी ने सोमवार को कहा कि श्रीनगर शहर में न्यूनतम तापमान शून्य से 6.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. शहर में करीब 11 वर्ष में यह सबसे कम तापमान रहा है. 31 दिसंबर 2007 को शहर में न्यूनतम तापमान शून्य से 7.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया था. 

 

2/5

जम गई डल झील

Frozen dal lake

शीतलहर के कारण यहां की डल झील समेत कुछ जलाशयों और जल आपूर्ति के पाइपों में पानी जम गया है. काजीगुंड में रविवार रात न्यूनतम तापमान शून्य से पांच डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया तथा पास के कोकरनाग में यह शून्य से 3.9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. (फोटो- पीटीआई)

3/5

ठंड ने बढ़ाई मुसीबत

Freezing trouble

उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में रविवार रात न्यूनतम तापमान शून्य से छह डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. अधिकारी ने बताया कि पहलगाम में रविवार रात का तापमान शून्य से 7.2 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा तथा गुलमर्ग में यह शून्य से 6.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. फोटो- पीटीआई

4/5

लेह में शून्य से नीचे पहुंचा तापनाम

temperature Leh drops below zero

लेह में रविवार रात न्यूनतम तापमान शून्य से 14.7 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया और पास के करगिल में यह शून्य से 15.3 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा.

5/5

'चिल्लई कलां' की गिरफ्त में कश्मीर

Kashmir arrested in chilai kalan

कश्मीर इस वक्त 'चिल्लई कलां' की गिरफ्त में है. 40 दिन की इस अवधि के दौरान सबसे अधिक सर्दी महसूस की जाती है और बर्फबारी भी अधिक होती है, जिससे अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान में निरंतर गिरावट देखी जाती है. चिल्लई कलां 31 जनवरी को खत्म हो जाता है हालांकि इसके बाद भी कश्मीर में शीतलहर जारी रहती है. (फोटो-पीटीआई)