close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सामने आई MIT के वैज्ञानिकों की क्रांतिकारी खोज, संदूक में बंद कर दिखाया सूरज

यहां हम आपको एक-एक कर देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों की बड़ी खबर से रू-ब-रू करवाएंगे.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Dec 08, 2018, 10:51 AM IST

नई दिल्ली: यहां हम आपको एक-एक कर देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों की बड़ी खबर से रू-ब-रू करवाएंगे. शनिवार के अखबारों की बात करें तो सभी अखबारों ने पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों के एग्जिट पोल की खबर को प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया है.

1/5

एमआइटी के वैज्ञानिकों ने बनाया विशेष बॉक्स

Top News from Newspapers

राजस्थान पत्रिका: राजस्थान पत्रिका के शनिवार के अंक में पहले पन्ने पर प्रमुखता के साथ प्रकाशित की गई एक खबर में दावा किया गया है कि अब सूरज की रोशनी संदूक में रखी जा सकेगी, जिसके इस्तेमाल से बिजली के उपकरणों को जलाया जा सकेगा. खबर के मुताबिक अमरीका में कैंब्रिज स्थित मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) के शोधकर्ताओं ने सिलिकॉन का एक ऐसा संदूक बनाया है जिसमें सूर्य और पवन ऊर्जा को सुरक्षित कर रखा जा सकता है. खबर में जानकारी दी गई है कि जरूरत पड़ने पर इस ऊर्जा को इलेक्ट्रिक ग्रिड तक पहुंचाया जाएगा. इससे शहरों की ऊर्जा की जरूरतें पूरी की जा सकेंगी. खबर में बताया गया है कि इस संदूक का आधिकारिक नाम टेम्स-एमपीवी रखा गया है.

2/5

ब्लड बैंकों की लापरवाही ने पांच बच्चों को बनाया HIV पॉजिटिव

Top News from Newspapers

हिन्दुस्तान: हिन्दुस्तान अखबार के शनिवार के अंक में पहले पन्ने पर प्रकाशित एक खबर में दावा किया गया है कि ब्लड बैंकों की लापरवाही ने झारखंड के आठ बच्चों के जीवन में जहर घोल दिया है. खबर के मुताबिक ये सभी बच्चे थैलेसीमिया का इलाज कराने रांची के एक डे केयर सेंटर पहुंचे थे. इस दौरान संक्रमित खून चढ़ाने के कारण इनमें पांच बच्चे एचआईवी के शिकार हो गए हैं, जबकि तीन को हेपेटाइटिस सी (एचसीवी) ने अपनी जद में ले लिया है. खबर में जानकारी दी गई है कि रांची में डे केयर का उद्घाटन 25 जुलाई को इसी वर्ष हुआ था और तब से यहां इलाज कराने थैलेसीमिया के 129 मरीज आए हैं. खबर में आगे बताया गया है कि इनमें से आठ संक्रमित पाए गए हैं, जबकि इन बच्चों के माता-पिता को किसी प्रकार का संक्रमण नहीं है.

3/5

इंस्पेक्टर सुबोध को गोली मारने वाला फौजी जीतू गिरफ्तार

Top News from Newspapers

अमर उजाला: अमर उजाला के शनिवार के अंक में पहले पन्ने पर प्रमुखता से प्रकाशित की गई एक खबर में दावा किया गया है कि बुलंदशहर में इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की गोली मारकर हत्या करने वाला फौजी को नोएडा एसटीएफ की टीम ने दबोच लिया है. खबर के मुताबिक शुक्रवार को एसटीएफ टीम जम्मू से हवाई जहाज से फौजी को दिल्ली ले आई है. खबर में बताया गया है कि दिल्ली में पहले से ही एसटीएफ के अधिकारियों के अलावा अन्य जांच एजेंसियां भी उसका इंतजार कर रही थीं. वहां से टीम फौजी को लेकर गुप्त स्थान पर ले गई. खबर में आगे जानकारी दी गई है कि फौजी ने जिस हथियार से इंस्पेक्टर को मारा था, उसकी तलाश में टीम फौजी को बुलंदशहर भी ले जाएगी.

4/5

'साइको किलर' ने करंट लगाकर और गला घोंटकर की हत्या

Top News from Newspapers

नवभारत टाइम्स: नवभारत टाइम्स के शनिवार के अंक में प्रकाशित एक खबर में बताया गया है कि एक साइको व्यक्ति के सिर पर 8 हत्याएं करने का जुनून सवार था. उसने अपने खतरनाक मंसूबे को अंजाम तक पहुंचाने से पहले पत्नी की हत्या कर डाली. खबर के मुताबिक आगे का खूनी सफर वह तय कर पाता, उससे पहले ही पुलिस ने उसे पुलिस ने पकड़ लिया. जिसके बाद उसने जो खुलासा किया उसे सुनकर अब पुलिस भी मान रही है कि 8 हत्याओं से दहल जाती दिल्ली. खबर में आगे जानकारी दी गई है कि उसके पास से पुलिस को तीन पिस्टल और 25 कारतूस बरामद किए हैं. पूछताछ में आरोपी ने खुलासा किया है कि वह अपनी नौकरी जाने के जिम्मेदार मैनेजर समेत आठ लोगों की हत्या करने की योजना बना रहा था.

5/5

सोसायटी की लिफ्ट में महिला से छेड़छाड़

Top News from Newspapers

दैनिक जागरण: दैनिक जागरण के शनिवार के अंक में प्रकाशित एक खबर में बताया गया है कि ग्रेटर नोएडा वेस्ट की एक सोसायटी की लिफ्ट में महिला इंजीनियर से छेड़छाड़ का मामला सामने आया है. खबर के मुताबिक पीड़िता ने मामले की शिकायत पुलिस से की है. इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने एक आरोपी को हिरासत में ले लिया है जबकि दो आरोपित पुलिस को चकमा देकर फरार होने में कामयाब रहे. खबर में जानकारी दी गई है कि शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे महिला इंजीनियर अपने फ्लैट से दफ्तर जाने के लिए लिफ्ट में सवार हुई थी. उस लिफ्ट में पहले से ही तीन युवक थे आरोप है कि उन युवकों ने महिला से लिफ्ट में छेड़खानी की.