स्वच्छ भारत के दौर में बढ़ा शहरी कचरा, बढ़ता जा रहा है कू़ड़ों का ढेर

यहां हम आपको एक-एक कर देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों की बड़ी खबर से रू-ब-रू करवाएंगे.

Mar 25, 2018, 10:03 AM IST

नई दिल्ली: यहां हम आपको एक-एक कर देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों की बड़ी खबर से रू-ब-रू करवाएंगे. रविवार के अखबारों की बात करें तो सभी अखबारों ने लालू को मिली 14 साल की सजा को प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया है.

1/5

Top news of hindi and english newspaper

दैनिक भास्कर: स्वच्छ भारत मिशन के करीब साढ़े तीन साल पूरे होने के बावजूद देश में कचरा निस्तारण की बुरी स्थिति है. दैनिक भास्कर ने अपने रविवार के संस्करण में इस खबर को पहले पन्ने पर प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया है. खबर में दावा किया गया है कि प्रतिदिन हम देशभर में 1,57,478 मीट्रिक टन कूड़ा निकाल रहे हैं, लेकिन केवल 23.7 फीसदी कचरे का निस्तारण या ट्रीटमेंट हो रहा है. यही कारण है कि शहरों में कचरे के ढेर लगे हुए हैं. खबर के मुताबिक बढ़ती आबादी और शहरीकरण के कारण कूड़े की समस्या विकराल रूप धारण कर रही है. खबर में इस बात का भी जिक्र किया गया है कि सरकारी कोशिशों की रफ्तार बेहद सुस्त है. साल 2014 से 2017 तक कूड़े के ढेर में 17.7 फीसदी का इजाफा हुआ है, वहीं कूड़े के ढेर के निस्तारण के सरकारी कोशिशों की रफ्तार आधी रही है. 2014 में देश भर में 16 फीसदी कचरे का निस्तारण होता था, जो अब 23.7 फीसदी हो गया है. यानी इन सालों में 7 फीसदी ज्यादा कूड़े का निस्तारण किया गया, लेकिन रोजाना निकलने वाला कूड़ा भी 17.7 फीसदी बढ़ गया.

2/5

Top news of hindi and english newspaper

दैनिक जागरण: लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस देने वाली टीडीपी के प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने खुला पत्र लिखा है. दैनिक जागरण ने इस खबर को अपने रविवार के संस्करण में पहले पन्ने पर प्रकाशित किया है. खबर के मुताबिक शाह ने अपने पत्र में सिलसिलेवार तरीके से नायडू के आरोपों का न सिर्फ जवाब दिया है, बल्कि मोदी सरकार की ओर से आंध्र प्रदेश के विकास लिए किए गए कामों को भी गिनाया है. खबर में बताया गया है कि भाजपा सुप्रीमो का कहना है कि राजग से टीडीपी के अलग होने का फैसला विकास के मुद्दे को लेकर नहीं, बल्कि राज्य की राजनीतिक मजबूरी की वजह से लिया गया. खबर में बताया गया है कि नौ पेज के खुले खत में भाजपा अध्यक्ष ने टीडीपी के राजग से अलग होने को दुर्भाग्यपूर्ण व एकतरफा कदम बताया है. खबर के मुताबिक अमित शाह ने साफ कर दिया है कि भाजपा काम और विकास पर भरोसा करती है और विकास में आंध्र प्रदेश हमारे लिए काफी अहम है.

3/5

Top news of hindi and english newspaper

हिन्दुस्तान: गर्भवती महिलाओं और बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए बांटे जा रहे पोषाहार में भारी घोटाला सामने आया है. हिन्दुस्तान ने अपने रविवार के संस्करण में इसका खुलासा किया है. खबर के मुताबिक देश में 1.38 करोड़ ऐसे लाभार्थी पकड़े गए हैं जो फर्जी तरीके से इस योजना का लाभ ले रहे थे. खबर में बताया गया है कि महिला व बाल विकास मंत्रलय के सूत्रों ने माना है कि कई राज्यों में समन्वित बाल विकास योजना के तहत फर्जी पंजीकरण कराया गया. खबर में बताया गया है कि यह फर्जीवाड़ा इस योजना को आधार से जोड़ने के बाद पकड़ में आया. खबर में दावा किया गया है कि राज्यों से मिले आंकड़ों के मुताबिक 31 मार्च 2017 से 8 फरवरी 2018 के बीच 1 करोड़ 38 लाख 93 हजार लाभार्थी घट गए. जबकि 31 मार्च 2017 तक 9 करोड़ 83 लाख 42 हजार 390 लाभार्थी थे, जो 8 फरवरी 2018 को 8 करोड़ 44 लाख 49 हजार 188 रह गए.

4/5

Top news of hindi and english newspaper

अमर उजाला: अमर उजाला ने अपने रविवार के संस्करण में पहले पन्ने पर छपी एक खबर में एक अहम खुलासा करते हुए लिखा है कि घरेलू गैस सिलेंडर की सब्सिडी लेने के लिए कंपनी के सर्वर में दर्ज की गई आपके आधार कार्ड की जानकारी चोरी हो रही है. खबर में बताया गया है कि तकनीकी खबरों के एक विदेशी न्यूज पोर्टल जेडडीनेट ने दावा किया है कि सार्वजनिक क्षेत्र की एलपीजी वितरण कंपनी इंडेन के सिस्टम में गड़बड़ी के कारण कोई भी आदमी किसी भी आधार कार्ड धारक का डाटा डाउनलोड कर सकता है, जिसमें उनके बैंक खातों की जानकारी भी शामिल है. खबर के मुतबाकि न्यूज पोर्टल की रिपोर्ट में खुद को सुरक्षा शोधकर्ता बताने वाले दिल्ली निवासी करण सैनी के हवाले से दावा किया है कि इंडेन कंपनी के सिस्टम में एक असुरक्षित प्वॉइंट है, जिससे ये डाटा चोरी हो रहा है. सैनी का दावा है कि किसी भी ग्राहक की पहचान की पुष्टि करने के लिए आधार डाटाबेस का उपयोग इंडेन एनेलेटिक्ल प्रोफाइल इंडेक्स (एपीआई) प्रणाली के जरिए करता है. लेकिन कंपनी की एपीआई प्रणाली को सुरक्षित नहीं किया गया है, जिससे कोई भी उसमें सेंध लगाकर किसी का भी डाटा देख सकता है. सैनी के हवाले से पोर्टल ने सेंध लगाने के तरीके की पूरी तकनीकी जानकारी भी दी है.

5/5

Top news of hindi and english newspaper

नवभारत टाइम्स: सोशल मीडिया की सबसे बड़ी साइट फेसबुक के खिलाफ 'डिलीट फेसबुक' कैंपेन तेज हो गया है. नवभारत टाइम्स ने इस कैंपेने से जुड़ी खबर को अपने पहले पन्ने पर प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया है. खबर के मुताबिक अब टेस्ला, स्पेसएक्स, मोजिला, कॉमर्जबैंक और सोनोस जैसी बड़ी कंपनियों ने या तो अपने फेसबुक पेड डिलीट कर दिए हैं या फिर विज्ञापन रोक दिए हैं. खबर में बताया गया है कि फेसबुक इन दिनों कैंब्रिज एनालिटिका नाम की कंपनी द्वारा यूजर्स के गोपनीय डेटा लेकर चुनावी फायदे के लिए इस्तेमाल करने के बाद से निशाने पर है. कंपनी के शेयर 14 फीसदी गिर गए हैं. लंदन में कैंब्रिज एनालिटिका के दफ्तरों पर छापे पड़े हैं.