कठुआ केस का जल्द निपटारा चाहती है J-K सरकार, सख्त सजा चाहती हैं महबूबा मुफ्ती

यहां हम आपको एक-एक कर देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों की बड़ी खबर से रू-ब-रू करवाएंगे.

Apr 15, 2018, 12:16 PM IST

नई दिल्ली: यहां हम आपको एक-एक कर देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों की बड़ी खबर से रू-ब-रू करवाएंगे. रविवार के अखबारों की बात करें तो सभी अखबारों ने कॉमनवेल्थ गेम्स में शनिवार को भारत के लिए हुई मेडल वर्षा की खबर को प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया है.

1/5

Top news of hindi and english newspaper

दैनिक जागरण: दैनिक जागरण के रविवार के अंक में पहले पन्ने पर छपी एक खबर में बताया गया है कि जम्मू संभाग के कठुआ के रसाना गांव में आठ वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म व हत्या के मामले में मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने जल्द न्याय दिलाने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन का संकेत दिया है. खबर के मुताबिक उन्होंने इस बाबत राज्य हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रामालिंगम सुधाकर को एक पत्र लिखा है. खबर में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि सत्ताधारी पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक से पहले महबूबा ने अपने कुछ खास लोगों के साथ राज्य के हालात पर चर्चा करते हुए फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन की इच्छा जताई है. खबर में दावा किया गया है कि मुख्यमंत्री चाहती हैं कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में नियमित न्यायधीश हो जो इस मामले की लगातार सुनवाई करते हुए इसे ज्यादा से ज्यादा 90 दिनों में पूरा कर दोषियों को कठोर दंड दे.

2/5

Top news of hindi and english newspaper

दैनिक भास्कर: दैनिक भास्कर के रविवार के अंक में पहले पन्ने पर देश की मजबूत जेलों में शुमार जोधपुर सेंट्रल जेल की कहानी बताई गई है. खबर के मुताबिक 146 साल पुरानी यह रियासत कालीन जेल आकार के हिसाब से अष्ट भुजाकार जेल है. खबर में बताया गया है कि यह एक बार फिर सुर्खियों में है क्योंकि देश की अति सुरक्षित मानी जाने वाली इस जेल के वार्ड संख्या दो में बंद दुष्कर्म के आरोपी आसाराम के मामले पर 25 अप्रैल को फैसला होने वाला है. खबर में दावा किया गया है कि ये वार्ड और इसका बैरक नंबर दो हमेशा से सुर्खियों में रहा है. इसमें ऑपरेशन ब्लू स्टार के आतंकियों से लेकर बड़े फिल्मी सितारे तक को रखा जा चुका है. हाल ही में दो दिन तक जेल में बंद फिल्म अभिनेता सलमान खान को भी यहीं रखा गया था. खबर में बताया गया है कि यहां स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान पूर्व सीएम जयनारायण व्यास सहित कई फ्रीडम फाइटर भी बंद रह चुके हैं.

3/5

Top news of hindi and english newspaper

हिन्दुस्तान: हिन्दुस्तान के रविवार के एंक में पहले पन्ने पर छपी एक खबर के मुताबिक सीबीआई ने यूको बैंक में हुई 621 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी में बैंक के पूर्व सीएमडी सहित मैसर्स इरा इंजीनियरिंग इंफ्रा इंडिया लिमिटेड के 11 पदाधिकारियों सहित अज्ञात लोक सेवकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. खबर में बताया गया है कि इस सिलसिले में शनिवार को दिल्ली में आठ तथा मुंबई में दो स्थानों पर छापेमारी की गई. खबर के मुताबिक प्राथमिकी में जिन लोगों के नाम शामिल हैं, उनमें यूको बैंक के पूर्व सीएमडी अरुण कौल के अलावा बाराखम्बा रोड स्थित मैसर्स इरा इंफ्रा इंजीनियरिंग प्रा.लि., हेमचंद बरना (एमडी इरा इंफ्रा), जवाहर लाल कुशु (निदेशक), एके मेहता (गैर कार्यकारी निदेशक), अरविंद पांडे, एसडी शर्मा, एस डी कपूर, अनिल राजदान, पंकज जैन, वंदना शारदा को नामजद किया गया है. जबकि बैंक के अज्ञात लोक सेवक तथा निजी लोग प्राथमिकी में शामिल हैं. खबर के मुताबिक इनके खिलाफ साजिश रच कर धोखाधड़ी करने और फर्जी दस्तावेज तैयार करने की धाराएं लगाई गई हैं.

4/5

Top news of hindi and english newspaper

नवभारत टाइम्स: नवभारत टाइम्स के रविवार संस्करण में पहले पन्ने पर प्रकाशित खबर एक खबर के मुताबिक दिल्ली पुलिस में अब पीसीआर स्टाफ को हिदायत दी गई है कि वे ड्यूटी के दौरान मोबाइल न रखें. खबर में बताया गया है कि इस फैसले के पीछे मकसद है कि ड्यूटी के दौरान स्टाफ अलर्ट मोड पर रहे. हालांकि पीसीआर वैन के इनचार्ज मोबाइल फोन रख सकेंगे. खबर के मुताबिक इस बारे में लिखित आदेश डीसीपी (पीसीआर) देवेंद्र आर्या ने 11 अप्रैल को जारी किया है. खबर में आर्या के हवाले से बताया गया है कि अभी ट्रायल चल रहा है. अगर आदेश के अमल में लापरवाही दिखी तो पुलिसकर्मियों पर एक्शन भी लिया जा सकता है. खबर में बताया गया है कि स्टाफ के पास मोबाइल फोन की निगरानी एसीपी व इंस्पेक्टर के पास रहेगी. खबर में कहा गया है कि ऐसा देखने में आता रहा है कि पीसीआर स्टाफ फोन पर वॉट्सऐप और फेसबुक में बिजी रहता है. ड्यूटी पर ध्यान नहीं होने से उन्हें इस बात का अहसास नहीं होता कि आसपास क्या हो रहा है.

5/5

Top news of hindi and english newspaper

अमर उजाला: अमर उजाला के रविवार के अंक में पहले पन्ने पर छपी एक खबर के मुताबिक सीबीआई ने दिल्ली में हीरे का व्यापार करने वाली कंपनी एसएसके ट्रेडिंग प्रा. लि. और उसके निदेशकों पर एफआईआर दर्ज की है. खबर के मुताबिक इन पर पीएनबी में 187 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप है. खबर में बताया गया है कि कंपनी का चांदनी चौक में शोरूम है. खबर के मुताबिक पीएनबी की अगुवाई वाले 6 बैकों के एक कंसोर्टियम ने कंपनी को 163 करोड़ रुपये की क्रेडिट सुविधा को मंजूरी दी थी. खबर में दावा किया गया है कि पीएनबी ने 2013 में कंपनी को 55 करोड़ रुपये दिए थे.