close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मोदी सरकार की काले धन के खिलाफ सख्त कदम उठाने की तैयारी, इन कंपनियों को हो सकता है नुकसान

यहां हम आपको एक-एक कर देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों की बड़ी खबर से रू-ब-रू करवाएंगे.

Jun 09, 2018, 09:31 AM IST

नई दिल्ली: यहां हम आपको एक-एक कर देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों की बड़ी खबर से रू-ब-रू करवाएंगे. शनिवार के अखबारों की बात करें तो सभी अखबारों ने माओवादियों द्वारा पीएम मोदी की हत्या की साजिश रचने की खबर को प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया है.

1/5

Top news of hindi and english newspaper

दैनिक जागरण: दैनिक जागरण के शनिवार के अंक में पहले पन्ने पर छपी एक खबर में बताया गया है कि काले धन को सफेद करने वाली मुखौटा कंपनियों पर सरकार एक बार फिर कड़ी कार्रवाई करने जा रही है. खबर में इस बात का दावा किया गया है कि केंद्र सरकार ने सवा दो लाख और मुखौटा कंपनियों की पहचान की है जिनका रजिस्ट्रेशन रद्द किया जा सकता है. ऐसा होने पर ये कंपनियां कोई कारोबार नहीं कर पाएंगी. खबर में बताया गया है कि सरकार को यह कदम उठाने की जरूरत इसलिए पड़ी है क्योंकि इन कंपनियों ने वित्त वर्ष 2015-16 और 2016-17 के लिए जरूरी फाइनेंशियल स्टेटमेंट दाखिल नहीं किए हैं. खबर के मुताबिक सरकार इससे पहले 2.26 लाख मुखौटा कंपनियों का रजिस्ट्रेशन रद्द कर चुकी है. इन कंपनियों ने लगातार दो साल या इससे अधिक समय तक वार्षिक रिटर्न और स्टेटमेंट दाखिल नहीं किए थे.

2/5

Top news of hindi and english newspaper

दैनिक भास्कर: दैनिक भास्कर के शनिवार के अंक में पहले पन्ने पर नोएडा प्राधिकरण के असिस्टेंट प्रोजेक्ट इंजीनियर बृजपाल चौधरी पर गुरुवार को शुरू हुई इनकम टैक्स छापे की खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया गया है. खबर में बताया गया है कि गुरुवार को शुरू हुई कार्रवाई शुक्रवार शाम खत्म हुई. खबर के मुताबिक 34 घंटे चली छापेमारी में बृजपाल की 250 करोड़ से ज्यादा की चल-अचल संपत्ति का पता चला है. इसमें 10 लाख कैश और 20 तोला सोना शामिल है. इसके अलावा टीम को 5 बैंकों में खाते और लॉकर भी मिले हैं जिनमें बरामदगी बाद में की जाएगी. खबर में यह भी दावा किया गया है कि बृजपाल को 1981 से अब तक कुल सैलरी करीब 2 करोड़ 94 लाख ही मिली है. खबर में इस बात का भी जिक्र है कि छापे की कार्रवाई के बाद नोएडा प्राधिकरण ने बृजपाल को सस्पेंड कर विभागीय जांच शुरू कर दी है.

3/5

Top news of hindi and english newspaper

हिन्दुस्तान: हिन्दुस्तान अखबार के शनिवार के अंक में पहले पन्ने पर छपी एक खबर में दावा किया गया है कि खराब प्रदर्शन होने पर भी अब रिपोर्ट कार्ड में कक्षा एक से आठ के छात्रों को कमजोर और सुस्त नहीं दर्शाया जाएगा. इसके साथ ही रिपोर्ट कार्ड में ग्रेड और अंक भी नहीं लिखे जाएंगे. खबर में बताया गया है कि कमतर प्रदर्शन करने वाले छात्रों में हीन भावना नहीं पनपे इसलिए सरकार ने नए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. खबर के मुताबिक राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) ने इसके तहत एक दस्तावेज तैयार किया है जो कक्षा एक से आठ तक के लिए लागू होगा. दिशा-निर्देश में कहा गया है कि रिपोर्ट कार्ड में अब स्लो, पुअर और डल जैसे शब्दों को प्रयोग नहीं किया जाएगा. खबर में एनसीईआरटी के निदेशक ऋषिकेश सेनापति के हवाले से बताया गया है कि सभी राज्यों के साथ दिशा-निर्देश को साझा कर उनसे प्रतक्रियाएं मांगी गई हैं. इसके अलावा नीति को अंतिम रूप देने के लिए एक सम्मेलन भी आयोजित किया जाएगा.

4/5

Top news of hindi and english newspaper

अमर उजाला: अमर उजाला के शनिवार के अंक में पहले पन्ने पर प्रकाशित एख खबर में दावा किया गया है कि दिल्ली में अब रात के वक्त मनमानी रफ्तार में वाहन भगाना मुनासिब नहीं होगा. खबर में बताया गया है कि ट्रैफिक पुलिस ने वाहन की स्पीड बताने वाली रडार गन तैनात की हैं. खबर के मुताबिक रडार गन दो किलोमीटर दूर तक वाहन की स्पीड को कैद कर लेंगी. जिसके बाद तय गति सीमा से ज्यादा रफ्तार से वाहन चलाने वालों के चालान घर पहुंचा दिए जाएंगे और लाइसेंस तीन महीनों के लिए निलंबित कर दिया जाएगा. खबर में यह भी बताया गया है कि दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के हर सर्किल में एक स्पीड रडार गन उतारी गई है. खबर में उम्मीद जताई गई है कि इससे रफ्तार पर अंकुश लगने के कारण रात में होने वाली सड़क दुर्घटनाओं पर रोक लग सकेगी. खबर में दक्षिणी रेंज के डीसीपी विजय सिंह के हवाले से बताया गया है कि ट्रैफिक पुलिस ने हाल ही में 53 स्पीड रडार गन खरीदी हैं. इन्हें रात में मुख्य चौराहों पर लगाया गया है.

5/5

Top news of hindi and english newspaper

नवभारत टाइम्स: नवभारत टाइम्स के शनिवार के अंक में पहले पन्ने पर प्रकाशित एक खबर में बताया गया है कि चार दिन में जामनगर एयरफोर्स स्टेशन का दूसरा जगुआर विमान हादसे का शिकार हुआ है. खबर के मुताबिक शुक्रवार सुबह 9:20 बजे की इस घटना में पायलट बाल-बाल बच गया. खबर में बताया गया है कि जगुआर जब लैंड कर रहा था, तभी तकनीकी गड़बड़ी आई और वह 500 फुट तक घिसटता चला गया. खबर में इस बात का भी दावा किया गया है कि इस विमान दुर्घटना में विमान को मामूली नुकसान ही पहुंचा है. खबर में बताया गया है कि जगुआर उड़ा रहे स्क्वॉड्रन लीडर सुरक्षित निकलने में कामयाब रहे. हालांकि हादसे की जांच के आदेश दे दिए गए हैं. खबर के मुताबिक इससे पहले मंगलवार को जगुआर विमान के क्रैश होने से उसमें सवार एयर कोमोडोर संजय चौहान की मौत हो गई थी.