close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इस जानवर के सामने बेबस हैं उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, सासंद ने छेड़ा तो यूं बयां किया दर्द

इनेलो के राम कुमार कश्यप ने शून्यकाल में यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि राजधानी के विभिन्न हिस्सों में बंदरों का खतरा है. इस पर नायडू ने कहा कि उपराष्ट्रपति का आधिकारिक निवास भी इस समस्या से अछूता नहीं रहा है.

Jul 25, 2018, 13:03 PM IST

इनेलो के राम कुमार कश्यप ने शून्यकाल में यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि राजधानी के विभिन्न हिस्सों में बंदरों का खतरा है. इस पर नायडू ने कहा कि उपराष्ट्रपति का आधिकारिक निवास भी इस समस्या से अछूता नहीं रहा है.

1/5

Vice President Venkaiah Naidu also victim of Monkey incitement

Vice President Venkaiah Naidu also victim of Monkey incitement

बंदरों के उत्पात से शायद दुनिया भर में लोग परेशानी झेलते हैं, लेकिन इस बात का जिक्र करने पर आमतौर इग्नोर कर दिया जाता है. बड़े पैमाने पर जंगलों की कटाई से बंदर रिहायशी इलाकों में आने को मजबूर हैं. आम लोग तो हर रोज बंदरों से परेशानी झेलते हैं, लेकिन मंगलवार के यह मुद्दा संसद की कार्यवाही में उठाया गया. आलम यह रहा कि उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू भी बंदरों से होने वाली परेशानी का जिक्र करने लगे. राज्यसभा में एक सदस्य ने जब दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में बंदरों के खतरे का मुद्दा उठाया तो सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा ‘उपराष्ट्रपति भवन में भी बंदरों का खतरा है, समाधान बताएं.’ 

2/5

Vice President Venkaiah Naidu also victim of Monkey incitement

Vice President Venkaiah Naidu also victim of Monkey incitement

इनेलो के राम कुमार कश्यप ने शून्यकाल में यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि राजधानी के विभिन्न हिस्सों में बंदरों का खतरा है. ये बंदर न केवल आम लोगों पर हमला कर उन्हें घायल कर देते हैं, बल्कि लगाए गए नए पौधों को नोंच कर फेंक देते हैं और पेड़ों को नुकसान पहुंचाते हैं. उन्होंने कहा कि एक संसद सदस्य को एक समिति की बैठक में जाने के लिए केवल इस वजह से देर हुई क्योंकि बंदरों ने उन पर हमला कर दिया था. उनके बेटे पर भी बंदरों ने हमला किया था. 

3/5

Vice President Venkaiah Naidu also victim of Monkey incitement

Vice President Venkaiah Naidu also victim of Monkey incitement

इस पर नायडू ने कहा कि उपराष्ट्रपति का आधिकारिक निवास भी इस समस्या से अछूता नहीं रहा है. वहां भी बंदरों का खतरा है. यह समस्या वहां भी है. नायडू ने हल्के फुल्के अंदाज में पशु अधिकार कार्यकर्ता और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी का जिक्र करते हुए कहा ‘मेनका गांधी यहां नहीं हैं.’ इस पर सदन में मौजूद सदस्य मुस्कुरा उठे. नायडू ने संसदीय कार्य राज्यमंत्री विजय गोयल से कहा ‘दिल्ली में बंदरों के खतरे को लेकर कोई समाधान तो निकालना ही होगा.’

4/5

Vice President Venkaiah Naidu also victim of Monkey incitement

Vice President Venkaiah Naidu also victim of Monkey incitement

मालूम हो कि वन विभाग की टीम शहरों से बंदरों को पकड़कर जंगली इलाकों में छोड़ आती है, लेकिन कुछ समय बाद खाने की तलाश में बंदर दोबारा रिहायशी इलाकों में पहुंच जाते हैं.

5/5

Vice President Venkaiah Naidu also victim of Monkey incitement

Vice President Venkaiah Naidu also victim of Monkey incitement

दिल्ली के अलावा आसपास के शहर मेरठ, मथुरा, आगरा, भिवानी, गाजियाबाद आदि जगहों पर बंदरों का काफी उत्पात है. इन शहरों में तो लोग घर की खिड़कियां तक बंद रखने को मजबूर होते हैं. कुछ साल पहले तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी वृंदावन में बांके बिहारी मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे थे. इस दौरान उनके चश्मे को बंदरों से बचाने के लिए बेहद सख्त सुरक्षा के इंतजाम किए गए थे.