close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PHOTOS: कोस्टल जगुआर में लगी भीषण आग, जान बचाने को क्रू सदस्यों ने पानी में लगाई छलांग

पोत पर आग लगने का सही कारण अभी भी पता लगाया जा रहा है. सूत्रों के अनुसार, '`तटीय जगुआर' 'जहाज पर एक जोरदार धमाका हुआ, जिसके बाद जहाज से निकलने वाला घना धुआं उठा.

प्रसाद भोसेकर | Aug 12, 2019, 21:43 PM IST

प्रवक्ता ने कहा, "पोत पर तैनात रहे चालक दल के 29 सदस्यों में से 28 को बचा लिया गया है, जबकि एक सदस्य लापता है, जिसकी तलाश जारी है." बचाव कार्य में आईसीजीएस समुद्र पहरेदार, आईसीजी हेलीकॉप्टर और आईसीजीएस सी-432 भी शामिल हैं. 

1/5

एक लापता चालक दल की तलाश जारी है.

Visakhapatnam

सूत्रों के अनुसार, '`तटीय जगुआर' 'जहाज पर एक जोरदार धमाका हुआ, जिसके बाद जहाज से निकलने वाला घना धुआं उठा. जहाज पर मौजूद 29 में से 28 चालक दल को बचा लिया गया, जबकि एक लापता चालक दल की तलाश जारी है. विशाखापत्तनम के एक निजी अस्पताल में जलने वाले 13 घायल कर्मियों को स्थानांतरित कर दिया गया है.

2/5

आग लगने का सही कारण अभी भी पता लगाया जा रहा है.

Visakhapatnam, crew members

आग लगने के सही कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है. लगभग 11.25 बजे, विशाखापत्तनम पोर्ट ट्रस्ट (वीपीटी) समुद्री विभाग को सूचना मिली कि अपतटीय पोत में आग लग गई है. पोत पर आग लगने का सही कारण अभी भी पता लगाया जा रहा है. 

3/5

चालक दल के 29 सदस्यों में से 28 को बचा लिया गया है.

Visakhapatnam, crew members, Vessel Coastal Jaguar, fire

प्रवक्ता ने कहा, "पोत पर तैनात रहे चालक दल के 29 सदस्यों में से 28 को बचा लिया गया है, जबकि एक सदस्य लापता है, जिसकी तलाश जारी है." बचाव कार्य में आईसीजीएस समुद्र पहरेदार, आईसीजी हेलीकॉप्टर और आईसीजीएस सी-432 भी शामिल हैं. 

4/5

जोरदार विस्फोट.

Indian Coast Guard

उन्होंने कहा, "कोस्टल जगुआर में कथित तौर पर एक जोरदार विस्फोट हुआ, जिसके बाद जहाज से धुंआ निकलने लगा." क्षेत्र में मौजूद आईसीजीएस रानी राशमोनी को बचाव अभियान के लिए भेजा गया.विशाखापत्तनम पोर्ट ट्रस्ट (वीपीटी) की नौकाओं के साथ मिलकर रानी राशमोनी ने संकट में फंसे चालक दल को बचाया. 

5/5

आग लगने से 13 लोग घायल हो गए.

Visakhapatnam, Indian Coast Guard, AndhraPradesh

विशाखापट्टनम: विशाखापट्टनम तट पर तटरक्षक के एक अपतटीय पोत में सोमवार को आग लगने के बाद 28 कर्मियों को बचा लिया गया, जबकि चालक दल का एक सदस्य लापता है. आग लगने से 13 लोग घायल हो गए हैं. पूर्वी नौसेना कमान के एक प्रवक्ता के अनुसार, आग लगने के बाद जहाज कोस्टल जगुआर के चालक दल के सदस्य खुद को बचाने के लिए जहाज से समुद्र में कूद गए.