close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आखिर क्यों कांग्रेस की बैठकों को नजरअंदाज कर रहे राहुल गांधी, पार्टी को देनी पड़ रही सफाई

लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने वाले राहुल गांधी अब पार्टी की बैठकों से भी किनारा करने लगे हैं.

आखिर क्यों कांग्रेस की बैठकों को नजरअंदाज कर रहे राहुल गांधी, पार्टी को देनी पड़ रही सफाई
राहुल गांधी पार्टी की कई बैठकों में शामिल नहीं हुए हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने शनिवार को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Eletions) में उम्मीदवारों पर निर्णय के लिए यहां पार्टी की चुनाव समिति की बैठक की अध्यक्षता की. हालांकि बैठक में पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की अनुपस्थिति को ज्यादा नोटिस किया गया. एक सवाल के जवाब में राहुल गांधी के कार्यालय ने कहा कि वह बैठक में शामिल नहीं हुए, क्योंकि राहुल चुनाव समिति के सदस्य नहीं हैं.

इससे पहले भी राहुल गांधी पार्टी की कई बैठकों में शामिल नहीं हुए हैं. उन्होंने 12 सितंबर की बैठक में भाग नहीं लिया, जिसकी अध्यक्षता सोनिया गांधी ने की थी. बैठक में कई तरह के निर्णय लिए गए और देश की आर्थिक स्थिति पर चर्चा की गई. बैठक पार्टी के महासचिवों, राज्य प्रभारियों, राज्य इकाई के अध्यक्षों, कांग्रेस विधायक दल के नेताओं के लिए थी, लेकिन इसमें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पार्टी के वरिष्ठ नेता ए.के.एंटनी शामिल हुए थे.

पार्टी की सफाई
जब राहुल गांधी के बारे में पूछा गया तो, पार्टी नेता आर.पी.एन. सिंह ने कहा कि बैठक केवल पार्टी महासचिवों और राज्य प्रभारियों के लिए थी. कयासों पर रोक लगाने के लिए पार्टी ने राहुल गांधी की गतिविधियों की सूची जारी की, जोकि कांग्रेस कार्यकारी समिति(सीडब्ल्यूसी) के सदस्य हैं. वह 10 अगस्त के सीडब्ल्यूसी बैठक में शामिल हुए थे और अनुच्छेद 370 को हटाने पर चर्चा के लिए आयोजित सीडब्ल्यूसी की बैठक में भी वह उपस्थित थे. राहुल ने विपक्षी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल के साथ श्रीनगर जाने की कोशिश की थी. इसके अलावा उन्होंने केरल में अपने लोकसभा क्षेत्र वायनाड का दौरा किया और वहां की बाढ़ की स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री और अन्य मंत्रियों को चिट्ठी लिखी.

अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था
राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव में पार्टी के शर्मनाक प्रदर्शन के बाद कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था और अपने निर्णय पर दोबारा विचार करने से इनकार कर दिया था. उन्होंने अपनी तरफ से कहा था कि गांधी परिवार का कोई सदस्य पार्टी अध्यक्ष नहीं बनेगा. लेकिन तीन महीनों बाद, वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने निर्णय लिया कि सोनिया गांधी को पार्टी के अंतरिम अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी जाए.

'पदयात्रा' में शामिल होंगे
हालांकि, कांग्रेस सूत्रों ने कहा कि वह दो अक्टूबर को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर आयोजित 'पदयात्रा' में शामिल होंगे. पार्टी ने इस अवसर पर पूरे देश में 'पदयात्रा' निकालने की योजना बनाई है.

(इनपुट-आईएएनएस)