महाराष्ट्र की राजनीतिक फिल्म में दिख सकता है नया सीन, क्या BJP ने ढूंढ लिया नया पार्टनर?

महाराष्ट्र की राजनीति में नया समीकरण बनने के संकेत मिल रहे हैं. बीजेपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra fadnavis) ने बुधवार को महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) से मुलाकात की.

महाराष्ट्र की राजनीतिक फिल्म में दिख सकता है नया सीन, क्या BJP ने ढूंढ लिया नया पार्टनर?
पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बुधवार को महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के प्रमुख राज ठाकरे से मुलाकात की.

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में नया समीकरण बनने के संकेत मिल रहे हैं. बीजेपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra fadnavis) ने बुधवार को महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) से मुलाकात की. सूत्रों का कहना है कि दोनों नेताओं के बीच करीब डेढ़ घंटे बातचीत हुई. इस मुलाकात के साथ ही राजनीतिक गलियारे में चर्चा शुरू हो गई है कि क्या शिवसेना के पाला बदलने के बाद बीजेपी और एमएनएस साथ मिलकर आगे की लड़ाई लड़ने की प्लानिंग में जुट गए हैं.

यहां आपको बता दें कि शिवसेना में राज ठाकरे (Raj Thackeray) को बाला साहेब ठाकरे का उत्तराधिकारी माना जाने लगा था. हालांकि बाला साहेब ने बेटे उद्धव को उत्तराधिकारी बनाने के फेर में भतीजे राज को किनारे कर दिया था. इसके बाद राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने शिवसेना से अलग होकर अलग पार्टी बना ली थी. पिछले दो विधानसभा चुनावों और दो लोकसभा चुनावों में राज ठाकरे (Raj Thackeray) की पार्टी कुछ खास नहीं कर पाई है. ऐसे में राज ठाकरे (Raj Thackeray) अपनी राजनीति को आगे बढ़ाने के लिए किसी सहारे की तलाश में हैं.


MNS प्रमुख राज ठाकरे.

इस बार के विधानसभा चुनाव में बीजेपी और शिवसेना साथ में उतरी थी, लेकिन रिजल्ट आने के बाद मुख्यमंत्री के पद को लेकर उद्धव ठाकरे ने बीजेपी से नाता तोड़कर एनसीपी और कांग्रेस से हाथ मिलाकर सरकार बना चुकी है. ऐसे में बीजेपी भी महाराष्ट्र के रण में नए पार्टनर की तलाश में जुटी है. यहां आपको बता दें कि शिवसेना और एमएनएस दोनों मराठी अस्मिता के नाम पर वोट मांगते रहे हैं.

शिवसेना ने जनादेश का अपमान किया : राज ठाकरे (Raj Thackeray)
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के शपथ ग्रहण समारोह में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने वाले राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने शिवसेना पर जनादेश का अपमान करने का भी आरोप लगा चुके हैं. राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने दिसंबर को पुणे की जनसभा में कहा था कि राज्य में हालिया राजनीतिक घटनाक्रमों में जनता का अपमान हुआ है. मनसे प्रमुख ने पुणे में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, 'शिवसेना-भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने जनता की भावनाओं का अपमान किया है. सेना का राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा)-कांग्रेस से हाथ मिलाना सही नहीं है.'

उन्होंने कहा कि गलत लोगों को मतदाताओं ने सबक सिखाया, और जनता महा विकास अघाड़ी सरकार से खुश नहीं है. उन्होंने अंदेशा जताया कि अगले चुनावों में इसके नतीजे महसूस किए जाएंगे. महाराष्ट्र विधानसभा में मनसे का एक विधायक है.

ये भी देखें-: