close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने देश को एकता, विश्वास और बलिदान की प्रेरणा दी: येचुरी

सीताराम येचुरी ने अपने ट्विटर एकाउंट से ट्वीट करते हुए कहा कि‘‘नेताजी सुभाष बोस ने हमें आजाद हिंद फौज के रूप में प्रेरणा की विशिष्ट स्मृति दी है.

नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने देश को एकता, विश्वास और बलिदान की प्रेरणा दी: येचुरी
उन्होंने कहा कि नेताजी द्वारा दिए गए ‘जय हिंद’ के नारे ने हम सभी को एकता के सूत्र में बांध कर रखा है. (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी ने बुधवार को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 122वीं जयंती के मौके पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है. नेताजी सुभाष चंद्र बोस को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उन्होंने कहा कि नेताजी ने देश को एकता, आपसी विश्वास और त्याग एवं बलिदान की प्रेरणा विरासत में दी है. येचुरी ने अपने ट्विटर एकाउंट से ट्वीट करते हुए कहा कि‘‘नेताजी सुभाष बोस ने हमें आजाद हिंद फौज के रूप में प्रेरणा की विशिष्ट स्मृति दी है जो कि इत्तेहाद (एकता), इतमाद (विश्वास) और कुर्बानी (बलिदान) की प्रतीक है.’’ 

सीताराम येचुरी बोले, 'भारत में लोग अगले चुनाव में बदलाव की तरफ देख रहे हैं'

उन्होंने कहा कि नेताजी द्वारा दिये गए देशभक्ति पूर्ण ‘जय हिंद’ के आह्वान ने हम सभी को आज तक एकता के सूत्र में बांध कर रखा है. उल्लेखनीय है कि देश के महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जन्म 23 जनवरी 1897 को उड़ीसा के कटक में हुआ था. देश आज उनकी 122वीं जयंती मना रहा है.

बीजेपी नहीं चाहती है कि अयोध्‍या में राम मंदिर बने : आजम खान

वहीं नेता जी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर वामदलों ने सरकार से नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती को देश प्रेम दिवस के रूप में मनाने की मांग की है. बता दें मार्क्सवादी कम्युनिस्ट फार्वर्ड ब्लॉक और आरएसपी की ओर से यह मांग की गई है कि सरकार नेताजी की जयंती को देश प्रेम दिवस के रूप में घोषित करे, इससे आजाद हिंद सरकार से संबंधित राष्ट्रीय महत्व को समझना आसान होगा. इसके साथ ही इसे इतिहास में भी आधिकारिक रूप से संकलित किया जाना चाहिए.

(इनपुट भाषा)