जो घर नहीं संभाल सकता, वह देश क्या संभालेगा: नितिन गडकरी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि पार्टी (भाजपा) कार्यकर्ताओं को पहले अपनी घरेलू जिम्मेदारियों को पूरा करना चाहिए. .

जो घर नहीं संभाल सकता, वह देश क्या संभालेगा: नितिन गडकरी
गडकरी एबीवीपी के पूर्व कार्यकर्ताओं के एक सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. (फाइल फोटो)

नागपुर (महाराष्ट्र): केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि पार्टी (भाजपा) कार्यकर्ताओं को पहले अपनी घरेलू जिम्मेदारियों को पूरा करना चाहिए क्योंकि जो ऐसा नहीं कर सकता, वह ‘देश नहीं संभाल सकता.’ गडकरी, भाजपा की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के पूर्व कार्यकर्ताओं के एक सम्मेलन को शनिवार को यहां संबोधित कर रहे थे.

गडकरी ने कहा, ‘‘मैं कई लोगों से मिला हूं जिन्होंने कहा है कि हम भाजपा, देश के लिए अपना जीवन समर्पित करना चाहते हैं. मैं (ऐसे लोगों से) कहता हूं, आप क्या कर रहे हैं और आपके परिवार में और कौन लोग हैं. वह बताता है कि मैंने अपनी दुकान बंद कर दी है क्योंकि वह ठीक से नहीं चल रही थी... घर में पत्नी, बच्चे हैं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं (उनसे) कहता हूं, पहले अपने घर की देखभाल करें, क्योंकि जो अपना घर नहीं संभाल सकता, वह देश नहीं संभाल सकता. ऐसे में पहले अपना घर संभालें और अपने बच्चे, संपत्ति देखने के बाद पार्टी और देश के लिए काम करें.’’

यह भी पढ़ें: गडकरी के बयान से मची खलबली, ओवैसी बोले-पीएम मोदी को दिखा रहे हैं आईना
गडकरी ने बीते रविवार को मुंबई में कहा,"जो राजनेता सपनों को पूरा नहीं करते हैं और वे गप मारते हैं जनता उनको बुरी तरह हरा देती है."

बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि वह उनलोगों में शामिल नहीं हैं जो सपने दिखाते हैं और वह वादे ही करते हैं. वहीं, पिछले साल दिसंबर में राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार पर गडकरी ने कहा था कि नेतृत्व को विफलता की जिम्मेदारी लेनी चाहिए.

गडकरी के हालिया बयान को विपक्ष मोदी के लिए सीधा संदेश के रूप में देखता है.

नितिन गडकरी के हालिया बयान पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए विपक्ष ने सोमवार को कहा कि नागपुर के राजनेता की नजर प्रधानमंत्री की कुर्सी पर है. गडकरी ने कहा कि जो राजनेता वादों को पूरा नहीं करते हैं, जनता उन्हें नकार देती है. विपक्ष ने कहा कि यह बयान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला है.

कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने संवाददाताओं से कहा, "स्पष्ट है कि गडकरी की नजर प्रधानमंत्री की कुर्सी पर है और उनका बयान मोदी को इंगित करता है."

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि गडकरी खुद को मोदी के विकल्प के रूप में स्थापित करने की कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि भारतीय जनता पार्टी सत्ता में वापसी को लेकर पक्का विश्वास नहीं है.

मोदी को संबोधित एक ट्वीट में एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि गडकरी आपको आइना दिखा रहे हैं वह भी काफी परिष्कृत रूप से.

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रवक्ता सुधींद्र भदौरिया ने कहा कि गडकरी द्वारा सीधा हमला होने पर भी मोदी चुप हैं.

(इनपुट-एजेंसी)