close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तमिलनाडु के मंत्री डी जयकुमार ने स्टालिन की विवादित टिप्पणी पर कसा तंज, लगाया आरोप

तमिलनाडु के मत्स्य पालन मंत्री डी जयकुमार ने मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी के दिल्ली दौरे का मजाक उड़ाने के लिए द्रमुक प्रमुख एम के स्टालिन की आलोचना करते हुए कहा कि उनका (स्टालिन) मकसद जनकल्याणकारी कार्यक्रमों से ध्यान हटाना था.

तमिलनाडु के मंत्री डी जयकुमार ने स्टालिन की विवादित टिप्पणी पर कसा तंज, लगाया आरोप
उन्होंने कहा, ‘‘स्टालिन का बयान निंदनीय है. (फाइल फोटो)

चेन्नई: तमिलनाडु के मत्स्य पालन मंत्री डी जयकुमार ने मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी के दिल्ली दौरे का मजाक उड़ाने के लिए द्रमुक प्रमुख एम के स्टालिन की आलोचना करते हुए कहा कि उनका (स्टालिन) मकसद जनकल्याणकारी कार्यक्रमों से ध्यान हटाना था.

अन्नाद्रमुक के वरिष्ठ नेता जयकुमार ने कहा कि पलानीस्वामी ने कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपनी बैठक में अनुरोध किया था कि तमिलनाडु की पूर्व अनुमति के बिना कावेरी बेसिन में कर्नाटक को कोई भी निर्माण गतिविधि नहीं करने का निर्देश दें.

स्टालिन ने रविवार को आरोप लगाया था कि पलानीस्वामी ने दिल्ली में तमिलनाडु के अधिकारों को लेकर गुहार लगायी, लेकिन खाली हाथ वापस लौटे. स्टालिन ने मुख्यमंत्री द्वारा मोदी को दिए गए ज्ञापन पर कहा कि ‘कट पेस्ट’ करके पिछले तीन साल से वह एक ही मांग दोहरा रहे हैं. ‘‘यह नयी बोतल में पुरानी शराब की तरह है.’’ 

मेकेदातू बांध सहित विभिन्न मुद्दों पर द्रमुक प्रमुख ने कहा था कि मुख्यमंत्री ने इन मुद्दों को सुलझाने का मौका गंवा दिया और लोग इसके लिए उन्हें माफ नहीं करेंगे. जयकुमार ने कहा, ‘‘स्टालिन का बयान निंदनीय है.’’ यह राज्य की जनता के कल्याण के लिए मुख्यमंत्री के प्रयासों से लोगों का ध्यान हटाने की कोशिश है.