close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'पाकिस्तान में ऐसा कौन सा महान उद्योग है, जिससे भारत को नुकसान होगा?'

पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए मुखपत्र में लिखा कि अमित शाह ने कश्मीर में पहला कदम रखा और दूसरा कदम पाक अधिकृत कश्मीर में अवश्य रखा जाएगा. कश्मीर हमारा है और हमारा ही रहेगा. 

'पाकिस्तान में ऐसा कौन सा महान उद्योग है, जिससे भारत को नुकसान होगा?'
भारत से व्यापारिक संबंध तोड़ने पर शिवसेना ने पाकिस्तान का त्रिवार अभिनंदन किया है.

मुंबई: शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में पाकिस्तान का अभिनंदन किया है. यह अभिनंदन पाकिस्तान के उस निर्णय को लेकर है, जिसमें पाकिस्तान ने भारत से व्यापारिक और राजनितिक संबंध तोड़ने का निर्णय लिया है. शिवसेना ने पाकिस्तान को नसीहत देते हुए लिखा है कि है कि पाकिस्तान के इस कदम से पाकिस्तान ने अपने पैरों पर खुद ही कुल्हाड़ी मार ली है.

मुखपत्र सामना में ने लिखा है. भारत से व्यापारिक संबंध तोड़कर उन्हें क्या मिला? पाकिस्तान में ऐसा कौन-सा महान उद्योग स्थापित है, जिससे भारत को नुकसान होगा. साथ ही लिखा है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ईमरान खान धमकी दी है कि कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के कारण 'पुलवामा' जैसी घटनाएं दोबारा हो सकती हैं. मुखपत्र में लिखा है इसका सीधा अर्थ है कि हिंदुस्तानी जवानों पर हुए पुलवामा जैसे हमले के पीछे पाकिस्तान का हाथ था. इमरान अपने बयान से बेनकाब हुए है. 

लाइव टीवी देखें

पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए मुखपत्र में लिखा कि अमित शाह ने कश्मीर में पहला कदम रखा और दूसरा कदम पाक अधिकृत कश्मीर में अवश्य रखा जाएगा. अमेरिका के कश्मीर के अनुच्छेद  370 के संदर्भ मे दिए गए बयान पर लिखा है, 'अमेरिका के प्रेसिडेंट ट्रंप कहते हैं कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के संबंध में उनसे कोई चर्चा नहीं की गई. सही है, इस पर सवाल उठाते हुए लिखा है कि  इराक को निगलते समय और सद्दाम हुसैन को फांसी पर लटकाते समय क्या अमेरिका ने हिंदुस्तान से क्या पूछा था? सामना के अंत मे लिखा है कि कश्मीर हमारा है और हमारा ही रहेगा.