साईं बाबा के दर्शन करने शिरडी जा रहे हैं तो पहले पढ़ लें ये खबर, नहीं तो होंगे परेशान

शिरडी बंद रहने से श्रद्धालुओं को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. 

साईं बाबा के दर्शन करने शिरडी जा रहे हैं तो पहले पढ़ लें ये खबर, नहीं तो होंगे परेशान

प्रशांत शर्मा, शिरडी: महाराष्ट्र (Maharashtra) के शिरडी (Shirdi) में साईं बाबा के जन्म स्थान को लेकर विवाद खड़ा हो गया है. शिरडी के लोगों का कहना है कि बाबा जब तक रहे उन्होंने कभी अपने जन्म स्थान को लेकर बात नहीं की. बाबा ने हमेशा सबका मालिक एक का संदेश दिया और लोगों के बीच प्यार बांटा. ऐसे में उनके जन्म स्थान को लेकर विवाद करना गलत है. शिरडी ग्राम सभा ने आज बैठक कर शनिवार से अनिश्चितकालीन शिरडी बंद का आह्वान किया है. शिरडी बंद रहने से श्रद्धालुओं को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. 

दरअसल, राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे दो दिन पहले परभणी जिले में एक कार्यक्रम में शामिल हुए थे. वहां पर भाषण के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि साईं बाबा के जन्म स्थान पाथरी को विकसित किया जाए और सरकार इसके लिए 100 करोड़ से ज्यादा रूपए खर्च करेगी. पाथरी इलाका परभणी में आता है और यह शिरडी से करीब 250 किलोमीटर दूर है. यहां पर साईं जन्म स्थान मंदिर भी है. 

मुख्यमंत्री ने कहा था कि पाथरी मे एक जगह है जो बाबा का जन्म स्थल है. जल्द से जल्द इसका भूमि पूजन किया जाएगा. उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र सरकार जल्द से जल्द पाथरी को एक तीर्थ क्षेत्र के रूप में विकसित करेगी.

मुख्यमंत्री के बयान के बाद शिरडी गांव के लोग बिदक गए हैं और उन्होंने बाबा के जन्म स्थान को लेकर बयानबाजी से नाराज हैं. इसी मामले को लेकर शुक्रवार को ग्राम सभा की मीटिंग बुलाई गई और शनिवार से शिरडी बंद का फैसला लिया गया. यह बंद अनिश्चित काल के लिए होगा. हालांकि गांव वालों का कहना है कि इस बंद का बाबा के मंदिर पर कोई असर नहीं होगा और वो खुला रहेगा. शिरडी बंद रहने से श्रद्धालुओं को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. 

लाइव टीवी देखें