close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बालाजी के दर्शन को तिरुमाला मंदिर में उमड़ी भक्तों की रिकॉर्ड भीड़, लगी लंबी लाइन

मंदिर (temple) से मिली जानकारी के मुताबिक शनिवार (12.10.2019) को कुल 1,01,371 श्रद्धालुओं ने भगवान बालाजी के दर्शन का लाभ कमाया है.

बालाजी के दर्शन को तिरुमाला मंदिर में उमड़ी भक्तों की रिकॉर्ड भीड़, लगी लंबी लाइन
मुफ्त दर्शन के लिए लगी भक्तों की लंबी लाइन

डीएम सेशागिरि, तिरुमाला: तिरुमाला मंदिर (Tirumala temple) में भक्तों की भीड़ इस बार खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है. पिछले मंगलवार को वार्षिक ब्रह्मोत्सव के पूरा होने के बाद भी मंदिर (temple) में भीड़ उमड़ती जा रही है. इस बार मंदिर दर्शन (darshan) के लिए इतनी भीड़ आई है जितनी पहले कभी नहीं देखी गई है. मंदिर प्रशासन से मिली जानकारी के मुताबिक शनिवार को कुल 51,171 तीर्थयात्रियों द्वारा अपने बाल मंदिर को दान किए गए. इसके साथ ही शनिवार को तिरुमाला बालाजी मंदिर में 3.13 करोड़ रुपये की हुंडी भेंट (hundi offering) चढ़ी. जबकि रविवार को 3.44 करोड़ रुपये की हुंडी भेंट चढ़ी.

बताया जा रहा है कि शनिवार को तमिल पुरातासी (Tamil Puratasi ) के चौथे सप्ताह और सप्ताहांत होने की वजह से तिरुमाला (Tirumala) में भक्तों की अभूतपूर्व संख्या नजर आई, भक्तों की पंक्ति रविवार को अस्थाना मंडपम बिंदु (Asthana Mandapam point) को भी पार कर गई. जानकारी के मुताबिक लगभग 1800 श्रीवारी सेवा स्वयंसेवकों को चौबीसों घंटे अन्नप्रसादम (Annaprasadam), स्वास्थ्य, केकेसी, रिसेप्शन, सतर्कता (Vigilance), लड्डू वितरण (Laddu distribution) और मंदिर कतार प्रबंधन क्षेत्रों में सेवा में लगाया गया.

देखें लाइव टीवी

आपको बता दें कि टीटीडी के अधिकारी (TTD official) वीक्यूसी कंपार्टमेंट, नारायणगिरी गार्डन के बाहर और लेपाक्षी में तीर्थयात्रियों की स्थिति की निगरानी कर रहे हैं. इसके साथ ही TTD ने सभी विशेष दर्शन (special darshan) और वीआईपी दर्शन (VIP Darshans) भी रद्द कर दिए हैं. मंदिर (temple) से मिली जानकारी के मुताबिक शनिवार (12.10.2019) को कुल 1,01,371 श्रद्धालुओं ने भगवान बालाजी के दर्शन का लाभ कमाया है. हालात यह हैं कि तिरुमाला (Tirumala) में 'क्यू कॉम्प्लेक्स' में सभी कंपार्टमेंट फुल हैं. तीर्थयात्रियों (piligrims) को बाहर प्रतीक्षा करनी पड़ रही है. अब सर्वदर्शन (Sarvadarshan) के लिए अभी 24 घंटे तक का समय है.