बुद्ध पूर्णिमा के दिन भूल से भी न करें ये काम, इतने बजे तक रहेगा शुभ मुहूर्त

आज उदीयमान चंद्रमा को जल का अर्पण करना चाहिए.

बुद्ध पूर्णिमा के दिन भूल से भी न करें ये काम, इतने बजे तक रहेगा शुभ मुहूर्त
भगवान बुद्ध

नई दिल्ली: बुद्ध पूर्णिमा का पर्व आज 7 मई को है. आज के दिन ही भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था. जिन्होंने बौद्ध धर्म की स्थापना की थी और शांति का संदेश दिया था. इस धर्म के अनुयायी भारत, दक्षिण-पूर्व एशिया और चीन, जापान समेत कई देशों में हैं. बुद्ध पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त 6 मई 2020 को शाम 7 बजकर 44 मिनट से ही शुरू हो गया, जो आज शाम 4 बजकर 14 मिनट तक रहेगा.

वे काम जो आज नहीं करने हैं:
- आज मांस नही खाना है.
- किसी तरह का कोई कलह नहीं करनी है.
- किसी को अपशब्द नहीं कहना है.
- झूठ बोलने से यथासंभव परहेज करना है.

ये भी पढ़ें- राशिफल 23 अप्रैल 2020: ये राशि वाले लोग 'बुद्ध पूर्णिमा' के दिन सोच-समझकर लें फैसला

आज क्या करना चाहिए:
- सूर्योदय के पूर्व जग जाना चाहिए.
- घर की साफ-सफाई करने के उपरान्त स्नान करके खुद पर गंगाजल छिड़कना चाहिए.
- घर के मंदिर में विष्णु जी की प्रतिमा के सामने दीपक जला कर उनका पूजन करना चाहिए.
- घर के मुख्य द्वार पर हल्दी, रोली या कुमकुम से स्वस्तिक बनाकर वहां गंगाजल का छिड़काव करना चाहिए.
- जरूरतमंदों को भोजन कराएं और कपड़े दान करें.
- उदीयमान चंद्रमा को जल का अर्पण करना चाहिए.

वीडियो भी देखें