close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रजनीकांत ने पत्नी के साथ की वरदराजा स्वामी की पूजा, 40 साल में एक बार देते हैं दर्शन

भगवान अति वरदार प्रत्येक 40 सालों में एक बार दर्शन देकर वापस जल समाधि में चले जाते हैं. इस मंदिर की इतनी मान्यता है कि यहां पर दर्शन करने के लिए विदेशों से लोग आते हैं. 

रजनीकांत ने पत्नी के साथ की वरदराजा स्वामी की पूजा, 40 साल में एक बार देते हैं दर्शन
पत्नी के साथ वरदराजा स्वामी की पूजा करते रजनीकांत (फोटो साभार: वीडियो ग्रैब)

नई दिल्ली: साउथ सुपरस्टार रजनीकांत मंगलवार को पत्नी के साथ वरदराजा स्वामी के दर्शन करने कांचीपुर पहुंचे थे. देर रात सपरिवार भगवान की पूजा-अर्चना करने के बाद रजनीकांत बाई रोड चेन्नई के लौट गए. बता दें कि इस मंदिर के मुख्य देवता 40 सालों में सिर्फ एक बार दर्शन देते हैं. पिछली बार उन्होंने 1979 में दर्शन दिया था, तब श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी थी. अब वो इस साल 2019 में निकले हैं और भगवान की कृपा पाने के लिए लाखों श्रद्धालु कांचीपुरम पहुंच रहे हैं. भगवान वरदराजा स्वामी मंदिर तमिलनाडु के कांचीपुरम में स्थित है. 

सुपरस्टार रजनीकांत मंगलवार देर रात अपने परिवार और पत्नी लता रजनीकांत के साथ भगवान वरदराजा स्वामी की आराधना करने पहुंचे. इस दौरान रजनीकांत ने मंदिर में प्रभु की पूरी विधि-विधान के साथ पूजा की. 

rajinikanth

चेन्नई में हुई रजनीकांत की बेटी सौंदर्या की दूसरी शादी, यहां देखें WEDDING PICS

बता दें कि भगवान अति वरदार प्रत्येक 40 सालों में एक बार दर्शन देकर वापस जल समाधि में चले जाते हैं. इस मंदिर की इतनी मान्यता है कि यहां पर दर्शन करने के लिए विदेशों से लोग आते हैं. इस साल भगवान अति वरदराज को जल समाधि से निकाला गया है और यहां 'कांची अति वरदार महोत्सव' चल रहा है. 19 अगस्त तक लोग उनके दर्शन कर सकेंगे, जिसके बाद वह वापस मंदिर के पवित्र तालाब में रख दिए जाएंगे. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें