शनि अमावस्या और सूर्य ग्रहण का अद्भुत संयोग, इन 5 उपायों से रहेगी घर में सुख-शांति
X

शनि अमावस्या और सूर्य ग्रहण का अद्भुत संयोग, इन 5 उपायों से रहेगी घर में सुख-शांति

शनि अमावस्या  के दिन सूर्य ग्रहण का खास संयोग बन रहा है. शास्त्रों के मुताबिक शनि देव के प्रसन्न करने से घर-परिवार सुख-शांति बनी रहती है. साथ ही शनि की साढ़ेसाती (Shani Sade Sati)और ढैय्या (shani dhaiya) से भी मुक्ति मिलती है. 

शनि अमावस्या और सूर्य ग्रहण का अद्भुत संयोग, इन 5 उपायों से रहेगी घर में सुख-शांति

नई दिल्ली: साल 2021 के अंतिम शनि अमावस्या (Shani Amavasya 2021) पर सूर्य ग्रहण का विशेष संयोग बन रहा है. सभी 12 अमावस्या ( Amavasya) में शनि अमावस्या (Shani Amavasya 2021) खास मानी गई है. शनि अमावस्या के दिन किए गए खास उपाय शनि की साढ़ेसाती (Shani Sade Sati) और ढैय्या के मुक्ति दिलाता है. इसके अलावा घर-परिवार में सुख और शांति के लिए भी यह शुभ संयोग बहुत खास है. इस साल का आखिरी शनि अमावस्या 04 दिसंबर, शनिवार को पड़ रहा है. इस दिन सूर्य ग्रहण भी लगेगा. ऐसे में जानते हैं कि शनि अमावस्या पर किन उपायों से घर में सुख-शांति बनी रहेगी. 

शमी पेड़ की पूजा (Worship of Shami) 

-हिन्दु धार्मिक मान्यता अनुसार शनि-दोष से छुटकारा के लिए शमी-पेड़ की पूजा करनी चाहिए. इसके अलावा शाम के वक्त इस पेड़ के नीचे सरसों का दीया जलाना भी शुभ है. शनि अमावस्या के दिन इस उपाय से घर में सुख-शांति बनी रहती है. साथ ही शनि के बुरे प्रभावों से भी छुटकारा मिलता है.  

-शनि अमावस्या के दिन सरसों का तेल, उड़द, काला चना, कुलथी और गुड़ को शनिदेव को चढ़ाएं. 

-शनि अमावस्या पर सुबह या शाम को शनि मंदिर में हनुमान चालीसा बजरंग बाण का पाठ करें. 

-पीपल के नीचे 7 तरह के अनाज के साथ-साथ तिल या सरसों के तेल का दीया जलाएं. 

-तिल-तेल से बने पकवान किसी गरीबों को देने के साथ-साथ पशु-पक्षियों को भी खिलाएं. 

-शनि अमावस्या पर 108 बेल के पत्ते से बनी माला शिवलिंग पर चढ़ाएं।

-शनि अमावस्या के दिन बरगद पेड़ में गाय का कच्चा दूध चढ़ाएं. इससे शनि की कृपा बनी रहती है. 

-जिनके ऊपर शनि की अशुभ दशा चल रही है उन्हें शनि अमावस्या के दिन नशा से दूर रहना चाहिए. साथ ही नॅानवेज खाने के भी बचना चाहिए.  

-शनि अमावस्या  के दिन काले घोड़े की नाल घर के मुख्य दरवाजे पर लगाएं. नाल ऊपर की ओर खुला रखकर लगाएं.

शनि अमावस्या शुभ मुहूर्त

हिन्दी पंचांग के मुताबिक मार्गशीर्ष (अगहन) मास कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि का आरंभ 03 दिसंबर की शाम 04 बजकर 55 मिनट से होगा. अमावस्या तिथि 04 दिसंबर 2021 को दोपहर 01 बजकर 12 मिनट तक रहेगी.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. ZEE NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

Trending news