बिहार विधानसभा चुनाव 2015: पहले चरण में हुआ 57 फीसदी मतदान

Last Updated: Tuesday, October 13, 2015 - 00:15
बिहार विधानसभा चुनाव 2015: पहले चरण में हुआ 57 फीसदी मतदान

पटना : बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के तहत दस जिलों के कुल 49 विधानसभा क्षेत्रों में चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था के बीच शांतिपूर्ण और निष्पक्ष ढंग से संपन्न मतदान के दौरान 57 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया, जो वर्ष 2010 विधानसभा चुनाव के 50.85 प्रतिशत से 6.15 प्रतिशत अधिक है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय वी नायक ने बताया कि बिहार विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण के तहत समस्तीपुर, बेगूसराय, खगड़िया, भागलपुर, बांका, मुंगेर, लखीसराय, शेखपुरा, नवादा और जमुई जिलो के 49 विधानसभा क्षेत्रों में आज शांतिपूर्ण संपन्न मतदान के दौरान 57 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया, जो वर्ष 2010 विधानसभा चुनाव के 50.85 प्रतिशत से 6.15 प्रतिशत अधिक है।

उन्होंने बताया कि सोमवार को हुए मतदान में पुरुष की तुलना में महिला की भागीदारी अधिक रही। आज जहां 59.5 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया, वहीं पुरुष मतदाताओं की संख्या 54.5 रही।

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी आर लक्ष्मणन के साथ आज यहां पत्रकारों को नायक ने बताया कि हालांकि जमुई में लोजपा उम्मीदवार विजय सिंह पर हमले सहित कुछ अन्य शिकायतें प्राप्त हुई थी, लेकिन प्रारंभिक सूचना के अनुसार ये शिकायतें सही नहीं पायी गयीं।

उन्होंने बताया कि खगडिया जिले के चार विधानसभा क्षेत्रों में सबसे अधिक 61 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया।

नायक ने बताया कि समस्तीपुर जिले में 60 प्रतिशत, बेगूसराय में 59 प्रतिशत, भागलपुर में 56 प्रतिशत, बांका में 58 प्रतिशत, मुंगेर में 55 प्रतिशत, लखीसराय में 54 प्रतिशत, शेखपुरा में 55 प्रतिशत, नवादा में 53 प्रतिशत और जमुई जिले में 57 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया।

नायक ने बताया कि बिहार विधानसभा के प्रथम चरण के आज संपन्न मतदान के दौरान के नौ मतदान केंद्रों पर मतदान बहिष्कार की सूचना प्राप्त हुई है। उन्होंने बताया कि भागलपुर जिला के गोपालपुर विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 234, 235, 236 एवं 237, पीरपैंती विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 150 एवं 152, सुल्तानगंज विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 233, बांका विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 98 तथा लखीसराय जिलांतर्गत लखीसराय विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 21 पर विकास के विभिन्न मुद्दों पर विकास की सूचना प्राप्त हुई है।

नायक ने बताया कि आज के मतदान के दौरान अब तक प्राप्त सूचना के अनुसार कुल 110 लोगों को गिरफ्तार किया गया जबकि 20 मोटरसाइकिल, एक-एक मैजिक वाहन, आटोरिक्शा और बोलेरो जीप जब्त की गयी।

उन्होंने वृद्ध मतदाताओं के अपने मताधिकार को लेकर उत्साह से संबंधित कुछ उदाहरण पेश करते हुए बताया कि 108 वर्षीय महिला महारानी देवी ने तेघडा विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 53 अपने मताधिकार का उपयोग किया।

उन्होंने बताया कि मुंगेर जिले के एक मतदान केंद्र पर 96 वर्षीय महेंद्र प्रसाद अपने परिवार के सदस्यों की मदद से एक व्हील चेयर पर बैठककर अपने मताधिकार का उपयोग करने पहुंचे।

नायक ने बताया कि दो अन्य नब्बे वर्ष पार व्यक्ति समस्तीपुर जिला में घोडे पर सवार होकर आते देखा गया।

उन्होंने बताया कि सुबह सात बजे आज शुरू मतदान नक्सल प्रभावित इलाके में पडने वाले नौ विधानसभा क्षेत्रांे में जहां अपराहन 3 बजे संपन्न हो गया, वहीं चार अन्य नक्सल प्रभावित विधानसभा क्षेत्र में आज मतदान अपराह्न 4 बजे समाप्त हुआ, जबकि बाकी अन्य विधानसभा क्षेत्रों में मतदान शाम पांच बजे संपन्न हुआ।

बिहार के दस जिलों के कुल 49 विधानसभा क्षेत्रों में जहां आज मतदान संपन्न हुआ कुल सामान्य मतदाताओं की संख्या 1,35,55,260 थी और 17,079 सेवा मतदाता थे। सामान्य मतदाताओं में 72,37,253 पुरुष, 63,17,602 महिला और 405 तीसरे लिंग के थे। बिहार विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण में भाग्य आजमा रहे 583 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला आज मतदान के बाद इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों में बंद हो गया। इन उम्मीदवरों में 54 महिलाएं शामिल हैं। मस्तीपुर, मोरवा, मोहिद्दीनगर, रोसडा, बछवाडा, बेगूसराय, खगड़िया, परबत्ता, बिहपुर, अमरपुर, धोरैया, कटोरिया, गोविंदपुर और चकाई में एक से अधिक महिला उम्मीदवार हैं।

बिहार में बसपा ने प्रदेश विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण की इन 49 सीटों पर सबसे अधिक 41 उम्मीदवार उतारे थे। इसके अलावा भाजपा ने 27 उम्मीदवार, भाकपा ने 25, जदयू ने 24, राजद ने 17, लोजपा ने 13, माकपा ने 12, कांग्रेस ने आठ, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी और राकांपा ने छह-छह, अन्य दलों ने 210 उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारे थे तथा इनके साथ-साथ 194 निर्दलीय प्रत्याशी थे।

प्रथम चरण के चुनाव में जिन प्रमुख उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला आज मतदान के बाद इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों में बंद हो गया जिनमें प्रदेश के वरिष्ठ मंत्री विजय चौधरी, विधानसभा में कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह और लोजपा के प्रदेश अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस शामिल हैं।

बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा नीत राजग लोजपा, रालोसपा और हम सेक्युलर के साथ, प्रदेश में सत्तासीन जदयू राजद और कांग्रेस के साथ, भाकपा पांच अन्य वामदलों..माकपा, भाकपा-माले, फारवर्ड ब्लॉक, एसयूसीआई (सी) और आरएसपी के साथ, मुलायम सिंह यादव की समाजवादी पार्टी शरद पवार की पार्टी राकांपा सहित चार अन्य दलों के साथ तीसरा मोर्चा बनाकर इस बार चुनावी मैदान में हैं।

बिहार में 12 अक्तूबर से पांच नवंबर तक पांच चरणों में चुनाव होना है। मतगणना आठ नवंबर को होगी। 243 सदस्यीय मौजूदा बिहार विधानसभा का कार्यकाल 29 नवंबर को समाप्त हो रहा है।

भाषा



comments powered by Disqus

© 1998-2015 Zee Media Corporation Ltd (An Essel Group Company), All rights reserved.