PM मोदी ने कहा- बिहार को 'विकास राज' की जरुरत है न कि 'जंगलराज' की

Last Updated: Friday, October 9, 2015 - 17:09
PM मोदी ने कहा- बिहार को 'विकास राज' की जरुरत है न कि 'जंगलराज' की

बिहार (सासाराम) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को बिहार के सासाराम में चुनावी रैली को संबोधित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने यहां बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और लालू प्रसाद यादव पर जमकर निशाना साधा। मोदी ने कहा, 'आप एनडीए को, बीजेपी को वोट देकर 60 महीने दीजिए, मैं 60 साल की बर्बादी को मिटा के दिखाऊंगा।' प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जिस बिहार में पुलिस अधिकारी को सुरक्षा नहीं है। वहां किसको सुरक्षा है? ये जंगलराज है। मोदी ने कहा कि बिहार को बर्बाद करने वालों को सबक मिलेगा।

मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए जनता से कहा, 'आप ही बिहार के सुप्रीम कोर्ट हो, लॉमेकर हो जिन्हें बिहार को बर्बादी से बचा सकते है।' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा, 'उन्हें ना तो यहां की पानी की चिंता है और ना ही जवानी की। उन्हें सिर्फ किडनैप करना और फिरौती मांगना आता है।' प्रधानमंत्री ने कहा कि एक बार पूछिए लालू इस चुनाव से बाहर क्यों हैं। उन्होंने ऐसा क्या किया था? लालू बिहार से रिमोट चालना चाहते हैं। वो कहते हैं वो बिग बॉस हैं। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि अब बिहार को जंगल राज नहीं विकास राज की जरूरत है। मोदी ने कहा कि इस 'महा स्वार्थबंधन' ने बिहार में काफी लंबे वक्त तक राज किया है। मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्री पद से जीतन राम मांझी को हटाने के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भी अपने हमले की बंदूक तानी और उन पर दलितों की ‘पीठ में छुरा घोंपने’ का आरोप लगाया। इस समय हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (सेक्युलर) के प्रमुख और राजग के सहयोगी मांझी भी मोदी द्वारा दलितों को लेकर नीतीश को निशाने पर लिए जाने के दौरान मंच पर मौजूद थे।

मोदी ने कहा, ‘उनकी अकड़ उन्हें परास्त करेगी। उन्होंने एक दलित के बेटे की पीठ में छुरा घोंपने का काम किया है। उन्होंने निजी फायदे की खातिर उनकी पीठ में छुरा घोंपा।’ प्रधानमंत्री ने लोगों को चारा घोटाले में लालू की दोषसिद्धि की याद दिलाते हुए कहा, ‘अब वह रिमोट कंट्रोल से बिहार को चलाना चाहते हैं। वह कहते हैं कि वह ‘बिग बॉस’ हैं और हर किसी को अपने इशारों पर नचा सकते हैं।’ मोदी ने राज्य में हाल ही में एक पुलिसकर्मी पर गोलीबारी की घटना का हवाला देते हुए कहा कि यह दिखाता है कि बिहार अपराध की गिरफ्त में है। उन्होंने कहा कि राज्य में इस वर्ष जनवरी से लेकर अब तक अपहरण के चार हजार मामले सामने आए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि महागठबंधन के तीनों दल अलग अलग समय पर एक दूसरे के खिलाफ खड़े रहे हैं और अब केवल सत्ता के लिए एक साथ आ गए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘राज्य से कितने युवा पलायन कर गए। पिछले 60 सालों में कितनी फैक्ट्रियां बंद हो गयीं? कितने अस्पतालों में आज भी डाक्टर नहीं हैं और कितने स्कूलों में आज भी अध्यापक नहीं हैं? इस जंगल राज से मुक्ति का एक ही मार्ग है और वह है विकास राज।’

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो



comments powered by Disqus

© 1998-2015 Zee Media Corporation Ltd (An Essel Group Company), All rights reserved.