कारगिल विजय दिवस: रक्षा मंत्री सहित सेना के तीनों अंगों ने श्रद्धांजलि दी, फौजियों ने सरकार को 'OROP' की याद दिलाई

Last Updated: Sunday, July 26, 2015 - 15:19
कारगिल विजय दिवस: रक्षा मंत्री सहित सेना के तीनों अंगों ने श्रद्धांजलि दी, फौजियों ने सरकार को 'OROP' की याद दिलाई

नई दिल्ली : रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने आज अमर जवान ज्योति पर पुष्पाहार चढ़ाकर कारगिल युद्ध के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। कारगिल युद्ध में भारत की विजय की 16वीं वषर्गांठ के इस अवसर पर पर्रिकर के साथ सैन्य प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग, एयर चीफ मार्शल अरूप राहा और नौसेना उपप्रमुख पी मुरूगेसन ने भी शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर 'वन रैंक वन पेंशन' की मांग कर रहे फौजियों ने सरकार को उसके वादे की याद दिलाई। अपनी मांग के सपोर्ट में रिटायर्ड फौजियों ने इंडिया गेट पर आयोजित मैराथन दौड़ में हिस्सा लिया। फौजियों को सपोर्ट करने अन्ना हजारे भी पहुंचे।

कारगिल विजय का जश्न मनाने के लिए और इस युद्ध में शहीद होने वाले 400 से ज्यादा सैनिकों के प्रति सम्मान जताने के लिए देशभर में सैन्य केंद्रों पर कई समारोहों का आयोजन किया गया है। कल द्रास में कारगिल युद्ध स्मारक का दौरा करने वाले सुहाग ने कहा था कि सैन्य बल कारगिल जैसा कोई दूसरा युद्ध होने नहीं देंगे।

हालांकि कारगिल युद्ध में भारत की विजय की 16वीं वषर्गांठ यानी विजय दिवस के जश्न की शुरूआत 20 जुलाई से हो गई थी लेकिन इसके प्रमुख समारोहों का आयोजन आज होना है। मई 1999 में शुरू हुआ कारगिल युद्ध दो माह से अधिक समय तक चला था। इस युद्ध में भारतीय सेना के 490 अधिकारी, सैनिक और जवान शहीद हुए थे।

 

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो



comments powered by Disqus

© 1998-2015 Zee Media Corporation Ltd (An Essel Group Company), All rights reserved.