बिहार चुनाव पर बोले मुलायम- 'माहौल बीजेपी के पक्ष में है'

Last Updated: Monday, October 12, 2015 - 17:33
बिहार चुनाव पर बोले मुलायम- 'माहौल बीजेपी के पक्ष में है'

नई दिल्ली: बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने बड़ा बयान दिया है। मुलायम ने सोमवार को कहा कि बिहार में माहौल भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में है और वह सरकार बना रही है यह सही है। सपा मुखिया ने कहा कि हम चाहते हैं कि बदलाव हो। मुलायम सिंह ने बीजेपी के अच्छे कामों की तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि बीजेपी अच्छा काम कर रही है।

मुलायम सिंह यादव का इस बयान से राजनीति गरमा गई है। मुलायम सिंह यादव का यह बयान ऐसे समय आया है जब बिहार में विधानसभा चुनाव के लिए प्रथम चरण का मतदान चल रहा है। मुलायम का यह बयान बीजेपी का मनोबल बढ़ाने का काम करेगा।

मुलायम ने रविवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने लालू यादव को धोखा दिया। मुलायम ने कहा कि लालू को जिस व्यक्ति ने जेल भेजा और जब जरूरत पड़ी तो उसी से हाथ मिला लिया।

कैमूर जिले के जगजीवन स्टेडियम में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मुलायम ने नीतीश पर धोखा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि पता नहीं लालू जी की क्या मजबूरी थी कि वे चारा घोटाला मामले में नीतीश द्वारा उनको सजा दिलवाने के बावजूद उनके साथ जा खड़े (बिहार विधानसभा चुनाव में गठबंधन) हुए।

उन्होंने कहा कि चारा घोटाला में पांच साल की सजा होने से लालू जी को भारी राजनीतिक नुकसान हुआ पर आश्चर्य है कि उन्होंने नीतीश के साथ जाने का निर्णय लिया। मुलायम ने नीतीश को धोखेबाज बताते हुए कहा कि जनता परिवार को एकजुट करने में उन्होंने शुरुआत में तो सहयोग किया पर बाद में उन्होंने धोखा दिया।

उल्लेखनीय है कि बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर बने नीतीश नीत धर्मनिरपेक्ष महागठबंधन में सपा के लिए पहले एक भी सीट नहीं देने और बाद में छोड़ी गयी तीन सीटें एनसीपी के अस्वीकार कर दिए जाने पर उक्त सीटों के साथ लालू ने अपनी दो सीटें (कुल पांच) सपा को दी थी जिसे लेने से इंकार करते हुए उसने महागठबंधन से नाता तोड़कर एनसीपी सहित चार अन्य दलों के साथ मिलकर तीसरे मोर्चे का गठन कर लिया था।

मुलायम ने नीतीश के अपने शासनकाल के दौरान किए गए विकास के दावे पर प्रश्न खड़ा करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार ने साढ़े तीन साल की अवधि में जितना विकास का काम किया उतना नीतीश अपने दस साल के शासनकाल के दौरान नहीं कर पाए।

उन्होंने लालू और नीतीश पर समाजवादी विचाराधारा को छोड़कर कांग्रेस के साथ हाथ मिला लेने के लिए उन्हें आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जनता इन्हें पहचान चुकी है और अब वह उनके झांसे में नहीं आने वाली है।
(एजेंसी इनपुट के साथ) 

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो



comments powered by Disqus

© 1998-2015 Zee Media Corporation Ltd (An Essel Group Company), All rights reserved.