पटेल आरक्षण आंदोलनः रिहा हुए हार्दिक पटेल, गुजरात में मोबाइल इंटरनेट बंद

Last Updated: Sunday, September 20, 2015 - 09:07
पटेल आरक्षण आंदोलनः रिहा हुए हार्दिक पटेल, गुजरात में मोबाइल इंटरनेट बंद

सूरत/अहमदाबाद: पटेल आरक्षण के लिए आंदोलन चला रहे हार्दिक पटेल को शनिवार रात सूरत में निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया, वहीं गुजरात सरकार ने पूरे प्रदेश में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी है। हालांकि, शनिवार देर रात हार्दिक को जमानत पर रिहा कर दिया गया।

पुलिस द्वारा हार्दिक पटेल को शनिवार को उनके 35 समर्थकों के साथ ‘एकता मार्च’ से पहले हिरासत में लिये जाने के कुछ घंटे बाद गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने बताया कि उनके खिलाफ निषेधाज्ञा उल्लंघन के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

हार्दिक को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस आधी रात से पहले उन्हें मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया। इसके बाद हार्दिक को जमानत पर रिहा कर दिया गया।

22 वर्षीय हार्दिक को हिरासत में लिये जाने और फिर गिरफ्तार किये जाने के बाद कुछ स्थानों पर समुदाय के सदस्यों ने प्रदर्शन किये। राज्य प्रशासन ने कहा कि उसने अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए राज्य में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी है।

हार्दिक ने हिरासत में लिए जाने के बाद राज्य सरकार पर पाटीदार समुदाय की आवाज को दबाने का आरोप लगाया।

पुलिस के अनुसार पटेल समुदाय के सदस्यों ने विरोध प्रदर्शन किये और गुजरात में कुछ स्थानों पर सड़क जाम करने का भी प्रयास किया।

सूरत के पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने दिन में बताया था, ‘‘हमने हार्दिक पटेल को उनके 35 समर्थकों के साथ आज उनकी यात्रा से पहले शहर के वरछा क्षेत्र में मंगध चौक से हिरासत में ले लिया।’’

अस्थाना ने कहा कि हार्दिक और उनके साथियों को कानून व्यवस्था के हित में हिरासत में लिया गया क्योंकि उन्होंने इस रैली के लिए राज्य के अधिकारियों से कोई अनुमति नहीं ली थी। उन्होंने बताया कि हार्दिक और अन्य को हिरासत में लेने के बाद पुलिस मुख्यालय ले जाया गया।

पुलिस कार्रवाई की निन्दा करते हुए 22 वर्षीय नेता ने हिरासत के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘गुजरात सरकार हमारी आवाज को दबाना चाहती है। वे हमें प्रताड़ित करना चाहते हैं। गुजरात सरकार और राज्य पुलिस प्रदेश में हिंसा चाहती है। कार्रवाई लोकतंत्र की भावना के खिलाफ है।’’ डांडी से अहमदाबाद तक रैली निकालने की अनुमति न मिलने के बाद हार्दिक ने एकता रैली के बारे में कल तक अपनी योजना गुप्त रखी थी।

इससे पहले हार्दिक के सहयोगी और सूरत में पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के संयोजक अल्पेश कठीरिया ने घोषणा की थी कि वे शहर के वरछा क्षेत्र में मंगध चौक से रैली निकालेंगे।

पुलिस महानिदेशक पी सी ठाकुर ने कहा, ‘‘हमने कानून व्यवस्था की स्थिति को संभालने और अफवाहों पर अंकुश लगाने के लिए अनिश्चित काल के लिए पूरे प्रदेश में मोबाइल इंटरनेट सेवा पर रोक लगाने का फैसला किया है।’’

भाषा



comments powered by Disqus

© 1998-2015 Zee Media Corporation Ltd (An Essel Group Company), All rights reserved.