यूएई पहुंचे PM मोदी, अबुधाबी में शानदार स्वागत

Last Updated: Sunday, August 16, 2015 - 17:32
यूएई पहुंचे PM मोदी, अबुधाबी में शानदार स्वागत

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज संयुक्त अरब अमीरात की दो दिवसीय यात्रा पर पहुंच गए। अबुधाबी पहुंचने पर पीएम मोदी का भव्य स्वागत किया गया। पीएम मोदी का स्वागत राष्ट्रगान से किया गया और उन्हें तोपों की सलामी भी दी गई। पीएम मोदी ने गार्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण किया।

अपने यूएई के दौरे में उनका देश के शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात और भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करने का कार्यक्रम है जिसका ठोस और प्रतीकात्मक महत्व है। पिछले 34 साल में किसी भारतीय प्रधानमंत्री की यह पहली यूएई यात्रा है जिसके दौरान मोदी उर्जा और कारोबार क्षेत्र में आपसी सहयोग को बढ़ाने के साथ ही एक आकर्षक कारोबारी गंतव्य के रूप में भारत के प्रति निवेशकों को आकर्षित करने का प्रयास करेंगे।

1981 में तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा पर जाने वाली अंतिम भारतीय प्रधानमंत्री थीं। ऐसे में मोदी की इस यात्रा को कारोबार और सुरक्षा जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में भारत-यूएई संबंधों को मजबूती प्रदान करने के एक अवसर के रूप में देखा जा रहा है।

मोदी ने यात्रा पर रवाना होने से पूर्व यूएई को मूल्यवाद साझीदार बताया। उन्होंने कहा कि भारत के यूएई के दूसरे सबसे बड़े कारोबारी साझीदार होने में यह बात झलकती है। प्रधानमंत्री ने इसके साथ ही वहां रह रहे 25 लाख से अधिक भारतीय लोगों के अथाह योगदान की भी सराहना की जिन्होंने यूएई को अपना घर बना लिया है। उन्होंने कहा कि वह इतने बड़े भारतीय समुदाय से मुलाकात का इंतजार कर रहे हैं।

यूएई में रहने वाला भारतीय समुदाय भारत में वार्षिक रूप से 13 अरब डॉलर का योगदान करता है। 26 लाख की मजबूत और बड़ी भारतीय आबादी यूएई की आबादी का करीब 30 फीसदी है। अबुधाबी प्रधानमंत्री मोदी की यात्रा का पहला पड़ाव होगा जो कल शाहजादे शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाह्यान से गहन वार्ता करेंगे। निवेश के नजरिए से 800 अरब डॉलर से अधिक स्वायत्त संपदा कोष वाला यूएई बेहद महत्वपूर्ण स्थान रखता है और संभावना है कि प्रधानमंत्री भारत में ढांचागत क्षेत्र में निवेश के लिए उसे राजी करेंगे।  

भारत और यूएई के बीच सहयोग के संभावित क्षेत्रों में सुरक्षा और एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है जिसमें प्रत्यर्पण, आपराधिक और दीवानी मामलों में आपसी कानूनी सहयोग, मादक पदार्थों की तस्करी का मुकाबला जैसे क्षेत्रों में संधियां और समझौते शामिल हैं। दोनों देशों के बीच मोदी की इस यात्रा के दौरान इन क्षेत्रों में आपसी सहयोग को और बढ़ाने के उपायों पर चर्चा किए जाने की संभावना है।

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो



comments powered by Disqus

© 1998-2015 Zee Media Corporation Ltd (An Essel Group Company), All rights reserved.