हरदा ट्रेन हादसा: मरने वालों की संख्या 29 हुई, रेलवे ने की मुआवजे की घोषणा

Last Updated: Wednesday, August 5, 2015 - 12:24
हरदा ट्रेन हादसा: मरने वालों की संख्या 29 हुई, रेलवे ने की मुआवजे की घोषणा

हरदा : मध्य प्रदेश के हरदा में मंगलवार देर रात कामायनी और जनता एक्सप्रेस के डिब्बे पटरी से उतर गए। इस हादसे में मरने वालों की संख्या 29 पहुंच गई है। जानकारी के मुताबिक, हरदा के पास उफान भर रही माचक नदी पर बने पुल को पार करते वक्त यह हादसा हुआ। फिलहाल, राहत और बचाव कार्य पूरा हो गया है। इससे पहले मध्य प्रदेश के जनसंपर्क आयुक्त अनुपम राजन ने बताया था कि खिड़किया और हरदा स्टेशनों के बीच घटनास्थल से अब तक 24 शव बरामद हुए हैं जिनमें नौ पुरूष, 10 महिलाएं और पांच बच्चे शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है । कामायनी एक्सप्रेस के सात डिब्बे और जनता एक्सप्रेस के पांच डिब्बे पटरी से उतरे।  पश्चिम मध्य रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी पीयूष माथुर के अनुसार पटरियां पानी में डूब जाने से इनके नीचे की सामग्री बह गई जिससे कामायनी एक्सप्रेस के सात डिब्बे और जनता एक्सप्रेस के तीन डिब्बे तथा इंजन पटरी से उतर गए । माथुर ने कहा कि यह घटना हरदा के नजदीक खिरकिया और भिरंगी के बीच हुई।

उन्होंने कहा, ‘हादसा मंगलवार रात करीब 11 बजकर 30 मिनट पर हुआ क्योंकि भारी बारिश के चलते पटरियों के नीचे की सामग्री बह गई ।’ जनसंपर्क अधिकारी ने कहा, ‘करीब 25 यात्री घायल हुए हैं ।’ रेलवे के वाणिज्य मंडल प्रबंधक ब्रजेंद्र कुमार ने बताया कि भीषण बाढ़ में यात्रियों के बह जाने की आशंका के मद्देनजर आसपास के इलाकों में खोज अभियान शुरू कर दिया गया है ।

जानकारी के मुताबिक हादसा बुधवार देर रात 1:30 बजे काली माचक नदी से पहले बनी एक छोटी पुलिया की है। ट्रेन संख्या 11071 (मुम्बई-वाराणसी) कामायनी एक्सप्रेस के 11 डिब्बे पुलिया धंसने कारण पटरी से उतर गए, जबकि इसके ठीक बाद 13201 जनता एक्सप्रेस (राजेंद्रनगर-कुर्ला) ठीस उसी जगह हादसे का शि‍कार हुई।

भोपाल रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी ने कहा कि अब तक 250 से अधिक यात्रियों को बचाया जा चुका है। कामायनी एक्सप्रेस के एक यात्री अखिलेश प्रताप सिंह ने पीटीआई-भाषा को बताया कि वह 150 से अधिक यात्रियों के साथ सामान्य डिब्बे में सवार थे और वे खुद को बचाने के लिए एक पहाड़ी की चोटी पर फंसे थे । घटनास्थल पर दुर्घटना राहत ट्रेन पहुंच गई है और बहुत से लोगों को पास के एक स्टेशन लाया गया है। मुंबई से वाराणसी जाने वाली कामायनी एक्सप्रेस और मुंबई जबलपुर जनता एक्सप्रेस भोपाल से करीब 160 किलोमीटर दूर हरदा के नजदीक हादसे की शिकार हो गईं । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्वीट कर घटना पर दुख जताया है। उन्होंने लिखा है कि राहत और बचाव के लिए सभी संभव प्रयास किए जा रहे हैं और निगरानी की जा रही है।

(एजेंसी इनपुट के साथ)

 

 

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो



comments powered by Disqus

© 1998-2015 Zee Media Corporation Ltd (An Essel Group Company), All rights reserved.