HC ने मेधा पाटकर की हिरासत के खिलाफ दायर याचिका पर UP सरकार से जवाब मांगा

Last Updated: Friday, October 16, 2015 - 08:54
HC ने मेधा पाटकर की हिरासत के खिलाफ दायर याचिका पर UP सरकार से जवाब मांगा

इलाहाबाद: इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने कार्यकर्ता मेधा पाटकर और उनके समर्थकों को हाल में यहां हिरासत में लिए जाने के खिलाफ दायर याचिका पर उत्तर प्रदेश सरकार को अपना जवाबी हलफनामा दायर करने का निर्देश दिया। याचिका में आरोप लगाया गया है कि जिले के एक गांव जाते समय मेधा पाटकर और उनके समर्थकों को हिरासत में लिया जाना गैरकानूनी था और इसलिए उन्हें हिरासत में लेने के लिए जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होनी चाहिए।

न्यायमूर्ति दिलीप गुप्ता और न्यायमूर्ति मुख्तार अहमद की एक खंडपीठ ने राज्य सरकार को दो नवंबर को सुनवाई की अगली तारीख तक अपना जवाब दायर करने के लिए कहा। पीपुल्स यूनियन फॉर सिविल लिबर्टीज (पीयूसीएल) संगठन ने यह याचिका दायर की है। मेधा को शहर से करीब 50 किलोमीटर दूर करछना तहसील के तहत आने वाले कचरी गांव जाते समय उनके समर्थकों के साथ हिरासत में लिया गया था। गांव में हाल में किसानों ने हिंसक विरोध प्रदर्शन किए थे। किसान राज्य सरकार द्वारा एक ताप विद्युत परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण को लेकर पुलिस से भिड़ गए थे।

जिला प्रशासन और पुलिस ने मेधा और उनके समर्थकों को हिरासत में लिए जाने के फैसले का बचाव करते हुए कहा था कि उनके दौरे से पंचायत चुनाव के कारण लगे हुए आचार संहिता का उल्लंघन होता। 

भाषा



comments powered by Disqus

© 1998-2015 Zee Media Corporation Ltd (An Essel Group Company), All rights reserved.