DNA में स्टोर किया गया कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम, शॉर्ट मूवी, बनेगा भविष्य का डाटा बैंक!

वैज्ञानिकों ने डीएनए में कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम, एक लघु फिल्म के साथ कुछ अन्य डेटा संरक्षित किया है। यह प्रगति आने वाले समय में बहुत अधिक कॉम्पैक्ट, बायलॉजिकल स्टोरेज उपकरणों के विकास का वाहक बन सकती है। इन उपकरणों के अगले हजारों वर्ष तक चलने की संभावना है।

DNA में स्टोर किया गया कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम, शॉर्ट मूवी, बनेगा भविष्य का डाटा बैंक!
डीएनए स्टोरेज का आदर्श माध्यम साबित हो सकता है

न्यूयॉर्क: वैज्ञानिकों ने डीएनए में कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम, एक लघु फिल्म के साथ कुछ अन्य डेटा संरक्षित किया है। यह प्रगति आने वाले समय में बहुत अधिक कॉम्पैक्ट, बायलॉजिकल स्टोरेज उपकरणों के विकास का वाहक बन सकती है। इन उपकरणों के अगले हजारों वर्ष तक चलने की संभावना है।

अमेरिका के कोलंबिया विश्वविद्यालय और न्यूयॉर्क जीनोम केंद्र (एनवाईजीसी) के अनुसंधानकर्ताओं के नए अध्ययन में यह बात निकलकर सामने आयी है कि एक मोबाइल पर स्ट्रीमिंग वीडियो के लिए डिजाइन किये गये एल्गोरिदम से डीएनए के पूर्ण स्टोरेज क्षमता का इस्तेमाल किया जा सकता है।

उन्होंने दिखलाया है कि ये प्रौद्योगिकी बहुत अधिक विश्वसनीय है। डीएनए स्टोरेज का आदर्श माध्यम साबित हो सकता है क्योंकि यह बहुत अधिक कॉम्पैक्ट साबित हो सकता है और सूखे एवं ठंडे स्थानों पर रखे जाने की स्थिति में हजारों वर्षों तक चल सकता है। इस अनुसंधान का प्रकाशन साइंस जर्नल में हुआ है।