close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हमारे पास से कुछ ऐसे गुजरेगा 4 किलोमीटर आकार का सबसे बड़ा एस्टेरोइड

मॉडर्न नर्सिग की संस्थापक फ्लोरेंस नाइटिंगल (1820-1910) के सम्मान में इस क्षुद्रग्रह यानी एस्टेरोइड का नाम फ्लोंरेस रखा गया है और यह यह सुबह 8.05 बजे पृथ्वी के पास से गुजरेगा. 

हमारे पास से कुछ ऐसे गुजरेगा 4 किलोमीटर आकार का सबसे बड़ा एस्टेरोइड
क्षुद्रग्रह फ्लोरेंस की खोज स्केल्टे 'बॉबी' बस ने ऑस्ट्रेलिया की साइडिंग स्प्रिंग वेधशाला में मार्च 1981 में की थी. (फाइल फोटो)

वाशिंगटन: नासा ने कहा है कि इस शुक्रवार 4.4 किलोमीटर के आकार का एक क्षुद्रग्रह यानी एस्टेरोइड पृथ्वी के पास से होकर गुजरेगा. यह क्षुद्रग्रह पृथ्वी से करीब सात लाख किलोमीटर की दूरी से होकर गुजरेगा. मॉडर्न नर्सिग की संस्थापक फ्लोरेंस नाइटिंगल (1820-1910) के सम्मान में इस क्षुद्रग्रह का नाम फ्लोंरेस रखा गया है और यह यह सुबह 8.05 बजे पृथ्वी के पास से गुजरेगा. 

सबसे बड़ा क्षुद्रग्रह
कैलिफोर्निया के पासाडेना में स्थित एजेंसी की जेट प्रणोदन प्रयोगशाला में नासा के सेन्टर फॉर नियर अर्थ ऑब्जेक्ट स्टडीज (सीएनईओएस) के प्रबंधक पॉल चोडास ने कहा, "पहले भी कई जाने पहचाने क्षुद्रग्रह फ्लोरेंस के मुकाबले पृथ्वी के पास से होकर गुजरे हैं, लेकिन वे आकार में इससे छोटे थे." चोडास ने कहा, "जब से नासा ने पृथवी के पास से गुजरने वाले क्षुद्रग्रहों का पता लगाना शुरू किया है तब से लेकर अब तक फ्लोरेंस पृथ्वी के पास से गुजरने वाला सबसे बड़ा क्षुद्रग्रह है." 

इस क्षुद्रग्रह के पृथ्वी के इतने पास होकर गुजरने से वैज्ञानिकों को मौका मिला है कि इस क्षुद्रग्रह को पास से अध्ययन किया जा सके. क्षुद्रग्रह फ्लोरेंस की खोज स्केल्टे 'बॉबी' बस ने ऑस्ट्रेलिया की साइडिंग स्प्रिंग वेधशाला में मार्च 1981 में की थी.